Wednesday, July 17, 2024
उत्तराखंडदेहरादून

254 किमी की पदयात्रा तय कर पहुंचे मुख्यमंत्री आवास, सड़क चौड़ीकरण की मांग उठाई

– आकांक्षा थापा

नंदप्रयाग सड़क चौड़ीकरण की अपनी मांग को लेकर ग्रामीण पैदल चलकर चमोली के घाट से देहरादून तक पहुंच गए। बता दें की ग्रामीणों की यह पदयात्रा चार अप्रैल को घाट से शुरू हुई थी और अब 13 दिन बाद 254 किलोमीटर का सफर तय कर देहरादून में समाप्त हुई है। शुक्रवार को आंदोलनकारियों ने मुख्यमंत्री आवास कूच किया और मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी मांगे रखीं। हालांकि, उससे पहले उत्तराखंड पुलिस ने आंदोलनकारियों को हाथीबड़कला चौक पर ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया, लेकिन फिर भी आक्रोशित आंदोलनकारी देर शाम तक धरने पर बैठे रहे।

देहरादून पहुंचे आंदोलनकारियों ने सुबह करीब नौ बजे मियांवाला से अपनी पैदल यात्रा शुरू की, घाट व्यापार संघ के अध्यक्ष चरण सिंह नेगी के नेतृत्व में इस पदयात्रा का आरम्भ हुआ…. और करीब 11 बजे इन्हें हाथीबड़कला चौक पर रोक दिया गया। नेगी ने कहा कि साल 2017 में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने स्थानीय ग्रामीणों की मांग पर नंदप्रयाग-घाट (19 किलोमीटर) के सड़क को डेढ़ लेन करने की घोषणा की थी। जिसके बाद, वर्ष 2018 में इसके लिए शासन आदेश और करीब सवा करोड़ का बजट भी जारी हो गया। लेकिन बाद में सड़क चौड़ीकरण का काम कभी शुरू ही नहीं हो सका और इसके लिए ग्रामीणों को एनएच के नियमों का हवाला दिया गया। वहीँ आंदोलनकारी ने कहा कि पिछले साल दिसंबर में आंदोलन को वृहद रूप दिया गया। इसके बाद 10 जनवरी को 7000 लोग की मानव श्रृंखला, जनता रैली, तिरंगा रैली, एक मार्च को विधानसभा सत्र का घेराव, समेत कई आंदोलन कर अपनी मांग उठा चुके हैं।

बात करें वर्तमान मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की, तो उन्होंने नंदप्रयाग-घाट के बीच 20 किलोमीटर की सड़क डेढ़ लेन करने की घोषणा तो कर दी है लेकिन इससे पहले सड़क सौंदर्यीकरण के लिए एक टेंडर निकाल दिया है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा की स्थानीय निवासियों को आशंका है कि सौंदर्यीकरण की आड़ में सड़क के चौड़ीकरण का काम टाल दिया जाएगा। देर शाम थराली विधायक मुन्नी देवी शाह के साथ ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह से मुलाकात कर सौंदर्यीकरण का टेंडर निरस्त करने और चौड़ीकरण का शासन आदेश एवं बजट जल्द से जल्द जारी करने की मांग की है ……

वार्ता के बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि सड़क के चौड़ीकरण के लिए जल्द शासनादेश जारी होगा और उसके सौंदर्यीकरण के लिए जितनी भी धनराशि जारी होगी उसका इस्तेमाल चौड़ीकरण के लिए ही इस्तेमाल की जाएगी। इस दौरान क्षेत्र पंचायत सदस्य दीपक रतूड़ी, टैक्सी यनियन के अध्यक्ष बलवंत सिंह, दिनेश सिंह नेगी, तुलाराम पांडे, लक्ष्मण राणा, समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *