Tuesday, April 23, 2024
उत्तरकाशीउत्तराखंड

उत्तरकाशी में भारी बर्फबारी, भारत-चीन सीमा पर तीन पोर्टर लापता

आईटीबीपी की ओर से बॉर्डर क्षेत्र में तीन पोर्टरों के लापता होने की सूचना मिली है। आईटीबीपी की ओर से राज्य आपदा प्रबंधन से सहायता मांगी गई है। राहत-बचाव के लिए एक हेलीकॉप्टर जौलीग्रांट पहुंच चुका है। वहीं आईटीबीपी की टीम को भी खोजबीन के लिए भेजा गया है। उत्तराखंड के उत्तरकाशी से लगी भारत-चीन सीमा पर तीन पोर्टरों के लापता होने की सूचना है। तीनों पोर्टर भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की टीम के साथ सीमा पर लंबी दूरी गश्त के लिए रवाना हुए थे। जो वापसी के दौरान रास्ता भटक गए। बर्फबारी होने से मंगलवार देर शाम तक भी इन पोर्टरों का कोई पता नहीं चल पाया। जिसके बाद आईटीबीपी ने इन पोर्टरों को तलाशने के लिए वायु सेना और राज्य आपदा प्रबंधन से मदद मांगी है।

वायु सेना का हेलीकॉप्टर मंगलवार शाम को जौलीग्रांट पहुंचा, उन पोर्टरों से भी आईटीबीपी की टीम का संपर्क नहीं हुआ है, लेकिन पांच पोर्टरों के पास संसाधन होने के कारण उनके सुरक्षित होने की उम्मीद है। अभी आईटीबीपी की पहली प्राथमिकता तीन पोर्टरों को तलाशने की है। मंगलवार शाम को आईटीबीपी ने राज्य आपदा प्रबंधन से पोर्टरों की तलाश के लिए सहायता मांगी। हालांकि आपदा प्रबंधन के पास इस तरह के हेलीकॉप्टर नहीं हैं जो चार हजार मीटर से लेकर साढ़े चार हजार मीटर तक की ऊंचाई पर रेस्क्यू कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *