Wednesday, July 17, 2024
अल्मोड़ाउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरचमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागस्पेशलहरिद्वार

उत्तराखंड की योगिता भट्ट क्यो हुई अचानक मशहूर 

देवभूमि ऋषिकेश के ग्रामीण क्षेत्र की बेटी योगिता भट्ट ने यूजीसी की नेट परीक्षा को संस्कृत विषय में क्वालीफाई कर उत्तराखंड को गौरवान्वित करने का काम किया है। पीजी गौल्ड मैडिलिस्ट होनहार छात्रा योगिता भट्ट की उपलब्धि पर तीर्थ नगरी के संस्कृतविदों में बेह्द खुशी का माहौल है। इस उपलब्धी पर आज सुबह प्रदेश के राज्यमंत्री के के सिंघल ने श्यामपुर स्थित योगिता भट्ट के आवास पर पहुंच उसके परिवार वालों को बधाई दी।

इस दौरान राज्यमंत्री ने शॉल ओढ़ाकर देवभूमि को गौरवान्वित करने वाली योगिता को सम्मानित किया। इस मौके पर राज्यमंत्री सिंघल ने कहा कि योगिता की उपलब्धि से संस्कृत जगत से जुड़े छात्र छात्राओं को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा कि देश की बेटियां आज तमाम क्षेत्रों में अपनी उपलब्धियों से सब को गौरवान्वित कर रही है योगिता का नाम भी इस में शुमार हो गया है।


योगिता ने बताया कि संस्कृत में उत्कृष्ट शोध करने के उपरांत किसी विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर के रूप में नियुक्त होकर संस्कृत का अध्यापन करना और संस्कृत साहित्य को आगे बढाना उनका लक्ष्य है। इस सफलता का श्रेय उन्होंने अपने गुरु और माता पिता को दिया हैं। इस दौरान उनके पिता पंडित भगवती बापू, ग्राम प्रधान विजयपाल जेठुड़ी सहित परिवार के अन्य सदस्य भी लगातार होनहार छात्रा का उत्साहवर्धन करते नजर आये 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *