Monday, April 22, 2024
अल्मोड़ाउत्तर प्रदेशउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरचमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरराजनीतिराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागहरिद्वार

प्रदेश प्रभारी की सख्ती का हुआ असर – किसान मुद्दे पर एकजुट दिखी उत्तराखंड काग्रेंस 

पहाड़ में कांग्रेस पर एक आरोप हमेशा लगता रहा है और वो है गुटबाज़ी का …. कांग्रेस सरकार में रहे या विपक्ष में खेमेबाज़ी का दाग हमेशा उसपर हावी होता रहा है। लेकिन आज किसानों के मुद्दे पर जब कांग्रेस भवन में कांग्रेसी जुटे तो नज़ारा बदला बदला सा नज़र आया और कई बड़े नेता एक साथ कदमताल करते दिखाई दिए …..

प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह , पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा    पूर्व विधायक मौजूदा विधायक और हज़ारों कांग्रेसी कार्यकर्त्ता आज सभी ज़िलों से देहरादून में इकठ्ठा हुए और मोदी सरकार के किसानों से जुड़े ताज़ा कानून का विरोध करने के लिए सड़कों पर घंटों विरोध प्रदर्शन किया।

पौड़ी ,  हल्द्वानी , ऊधमसिंह नगर , चकराता सहसपुर , रुद्रपुर , हरिद्वार रूरकी से बड़ी संख्या में स्थानीय नेताओं के साथ किसानों ने भी आज कांग्रेस के इस प्रदर्शन में भाजपा सरकार के खिलाफ मुठ्ठियाँ तानी …..आपको बता दें कि कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में आज भारी भीड़ के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता अपने सीनियर लीडर्स के साथ राजभवन कूच के लिए निकले थे लेकिन पहले से सतर्क पुलिस ने उन्हें हाँथीबड़कला में ही रोक दिया 

इस दौरान काफी देर तक कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस के बीच हल्की ज़ोर आजमाईश भी दिखाई दी। लेकिन पहले से ही पुलिस ने  बैरिकेडिंग लगाकर हाथीबड़कला को सील कर दिया था ऐसे में कांग्रेस को अपना ये विशाल प्रदर्शन यहीं खत्म करना पड़ा…..  इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों में खूब धक्का-मुक्की भी हुई। पहले से निर्धारित इस बड़े प्रदर्शन के मद्देनजर आज राजधानी देहरादून में भारी पुलिस तैनात किया गया था ।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने प्रदर्शन के दौरान कहा कि किसान और कृषि संबंधित  तीन विधेयकों को पारित कराने से केंद्र सरकार का किसान विरोधी चेहरा ही सामने आया है। प्रीतम सिंह ने कहा कि राजभवन कूच को कांग्रेस ने ऐतिहासिक बनाया है और अब आगे भी संघर्ष जारी रखा जायेगा। 

लम्बे समय के बाद आज कांग्रेस के दिग्गज नेता और गुटों में बंटे कार्यकर्ता एक साथ दिखाई दिए जिसको राजनीति के पंडित मौजूदा प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव की उस नसीहत का असर बताया है जिसमें उन्होंने गुटबाज़ी छोड़कर एक झंडे एक नेता के साथ खड़े होने का आग्रह किया था ऐसे में आज प्रीतम सिंह और किशोर उपाध्याय एक साथ खड़े दिखाई दिए तो वहीँ मौजूदा विधायक मंमता राकेश , क़ाज़ी निज़ामुद्दीन , फुरकान अहमद , पूर्व विधायक राजकुमार , सहसपुर से विशेष आमंत्रित सदस्य आज़ाद अली , टिहरी से पूर्व मंत्री शूरवीर सिंह सजवाण पार्टी के सभी पूर्व लोक सभा और राज्यसभा सांसद, वर्तमान राज्य सभा सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, लोक सभा और विधानसभा चुनाव के प्रत्याशी, एआईसीसी एवं पीसीसी सदस्य, पार्टी पदाधिकारी, फ्रंटल संगठनों के अध्यक्ष इस प्रदर्शन में शामिल हुए।

कांग्रेस के इस एकजुट प्रदर्शन से उस गुटबाज़ी के आरोपों पर  कहीं न कहीं भाजपा को भी एक जवाब भी दिया है क्यूंकि प्रदेश में अब धीरे धीरे माहौल चुनावी भी होगा ऐसे में ये एकजुटता विपक्ष में बैठी कांग्रेस के लिये संजीवनी भी साबित हो सकती है।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *