Thursday, December 8, 2022
Home उत्तराखंड आखिर क्यों सेलाकुई इंडस्ट्रियल एरिया में नहीं खुल रहे मज़दूरों के लिए दरवाज़े...

आखिर क्यों सेलाकुई इंडस्ट्रियल एरिया में नहीं खुल रहे मज़दूरों के लिए दरवाज़े ?

उत्तराखंड से ब्यूरो रिपोर्ट – 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब अपने राष्ट्र के नाम सम्बोधन में कहा कि सरकार को सबसे ज्यादा फ़िक्र मज़दूरों और छोटे कामगारों की है तो लगा कि पलायन कर अपने घरों को लौटने वाले इस बड़े और लाचार तबके को संजीवनी मिल जाएगी। बीते दिनों उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड ,बिहार , राजस्थान मध्य प्रदेश में तो जैसे अप्रवासी मज़दूरों के घर वापसी की बाढ़ सी आ गयी थी। देश और दुनिया ने भी देखी थी वो तस्वीरें जब सड़कों और रेलवे ट्रैक पर लम्बी कतारों में मज़दूरों का परिवार अपने घरों की और चल पड़ा था। इसके बाद केंद्र और तमाम राज्य सरकारों की जैसे नींद टूटी और आनन फानन में कई योजनाओं की घोषणा करते हुए बसें और श्रमिक स्पेशल ट्रेन भी चलायी गयी। लेकिन अब जब 8 जून को देश खुलने लगा है और कोरोना संकट के बीच नए दौर और हालात नए कलेवर में नज़र आने लगे हैं .. ऐसे में अनलॉक इंडिया के पहले दिन जय भीम टीवी ने ताज़ा हालात का जायज़ा लेने के लिए उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से बीस किलोमीटर दूर बने सबसे बड़े इंडस्ट्रियल एरिया सेलाकुई का दौरा किया।
दरअसल यहाँ जाने का हमारा मकसद ही यही था की हम जान सकें की क्या सच में मज़दूरों को उन सभी सहूलियतो और योजनाओं का फायदा मिल रहा है जिसका दावा सरकारें कर रही है ? और क्या रोजगार के मामले में अब इन मज़दूरों को कोई उम्मीद उत्तराखंड में दिखाई दे रही है ? लेकिन आप को जानकार हैरानी होगी कि बीते दो महीने में सेलाकुई की ज्यादातर फैक्ट्रियों ने अपना दरवाजा इन मेहनतकश मज़दूरों के लिए बंद कर रखा है और रोजाना सैकड़ों की तादात में महिला , युवा और बुजुर्ग मज़दूर यहाँ एक अदद नौकरी के लिए सुबह से शाम तक भटक रहे हैं लेकिन उनके हाँथ निराशा ही लगती है। ज्यादातर मज़दूर या तो उत्तर प्रदेश से हैं या बिहार के और इनके परिवार की रोजीरोटी सेलाकुई की इन्हीं फैक्ट्रियों की बदौलत चल रही थी लेकिन आज इन मज़दूरों के पास न खाने को पैसा है और न वापस अपने घर जाने तक का कोई इंतज़ाम है।
जब हमने महिला मज़दूरों से उनके इन हालात पर बात की तो उनका  दावा था कि उनको कोरोना संकट की मार में जो बदइंतज़ामी झेली है वो बयां नहीं किया जा सकता है क्यूंकि इन गरीब लोगों को सरकारी राशन का एक दाना तक लौक डाउन के दौरान नहीं मिला है। हांलाकि बात करते करते इन बेबस मज़दूरों की आँखे भी भर आयी और भारी मन से इन मज़दूरों का ये आरोप था कि जो असल ज़रूरतमंद है उनको सरकार की किसी राहत योजना का कोई फायदा नहीं मिलता है और जो जुगाड़ तंत्र में माहिर हैं वो उनका हक़ मार रहे हैं। आपको बता दें की उत्तराखंड की राजधानी  देहरादून से लगभग बीस किलोमीटर दूर सेलाकुई में छोटी बड़ी मिलाकर सैकड़ों फैक्ट्रियां हैं जहाँ बड़ी संख्या में मजदूरों की डिमांड रहती थी लेकिन कोरोना महामारी के दौरान जब लॉक डाउन लगाया गया तो इन मज़दूरों की नौकरी जाती रही और आज जब देश फिर एक बार नए सिरे से खुल गया है तब भी इन मज़दूरों के सामने रोजगार का बड़ा संकट खड़ा है। सरकार केंद्र की हो या राज्य की भले ही दावे लाख किये जा रहे हों लेकिन अगर आपको सरकारी दावों और योजनाओं की हकीकत जाननी है तो एक बार सेलाकुई के फैक्ट्रियों के बाहर भटकते इन मज़दूरों से उनका दर्द ज़रूर सुनियेगा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मंत्री विदेश दौरे पर थे और निजी सचिव ने फाइल पर मंत्री के फर्जी साइन कर डाले, अब दर्ज हुआ मुकदमा

लोक निर्माण मंत्री सतपाल महाराज के फर्जी डिजीटल हस्ताक्षर कर मंत्री के निजी सचिव ने ही अयाज अहमद को विभागाध्यक्ष बनाने का अनुमोदन कर...

गुजरात, हिमाचल में मतगणना जारी, हिमाचल में कांग्रेस 40 सीटों पर आगे, गुजरात में भाजपा 153 सीट पर आगे, जानिए अपडेट

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है। काउंटिंग सुबह 8 बजे से जारी है। इसके अलावा...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु का उत्तराखंड दौरा आज, शाम 4 बजे पहुंचेंगी देहरादून

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु उत्तराखंड के अपने पहले दो दिवसीय दौरे पर आज देहरादून पहुंचेंगी। पहले दिन राष्ट्रपति प्रदेश सरकार की 2000 करोड़ की नौ...

Uttarakhand weather update : उत्तराखंड में नौ से 11 दिसंबर के बीच मौसम शुष्क रहने की संभावना

देशभर में ठंड असर दिखाने लगी है। खासकर सुबह-शाम पारा लुढ़क रहा है। नौ से 11 दिसंबर के बीच उत्तराखंड में मौसम शुष्क रहने...

सरकार की ब्याज मुक्त ऋण योजना के साथ शुरू करें रोजगार, स्वरोजगार का सुनहरा मौका

अगर आप नया व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, तो स्वरोजगार से जुड़ते हुए ब्याज मुक्त ऋण लेकर पोल्ट्री फार्म शुरू कर सकते हैं। राज्य...

दो दिवसीय दौरे पर कल देहरादून पहुंचेंगी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु कल शाम दो दिवसीय दौरे पर देहरादून पहुंचेंगी। उत्तराखंड के दो दिवसीय दौरे के दौरान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु को उत्तराखंड की...

दिल्ली में चल गई झाडू, आम आदमी पार्टी की मिली जीत, जश्न में डूबे आप कार्यकर्ता

दिल्ली- दिल्ली एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी ने बहुमत हासिल कर लिया है। आप ने अब तक 126 सीटों पर जीत दर्ज कर...

आरबीआई ने फिर बढ़ाया रेपो रेट, मंहगा होगा लोन और ईएमआई

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ओर से बुधवार को मौद्रिक नीति समिति (Monetary Policy Committee- MPC) के फैसलों का एलान किया गया है।...

पार्किंग के लिये टनल बनाएगी उत्तराखंड सरकार, टूरिस्ट प्लेस को लेकर प्लान तैयार

उत्तराखंड में पहाडों में पार्किंग एक बड़ी समस्या है. खासकर टूरिस्ट सीजन में मसूरी, नैनीताल, उत्तरकाशी जैसे शहरों में टूरिस्ट के साथ ही आम...

संसद का शीतकालीन सत्र आज से, सरकारी एजेंसियों के दुरूपयोग के मुद्दे को उठायेगा विपक्ष

दिल्ली- संसद का शीतकालीन आज से शुरू हो रहा है। इससे पहले केंद्र सरकार ने मंगलवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। संसद का शीतकालीन...