Friday, September 30, 2022
Home उत्तराखंड तीरथ मंत्रीमंडल का विस्तार, 11 मंत्रियों ने राजभवन में ली शपथ....

तीरथ मंत्रीमंडल का विस्तार, 11 मंत्रियों ने राजभवन में ली शपथ….

-आकांक्षा थापा

देहरादून स्थित राजभवन में आज शाम पांच बजे तीरथ मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह शुरू हुआ, जिसमे 11 मंत्रीयों ने शपथ ग्रहण की। सबसे पहले राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने सतपाल महाराज को कैबिनेट मंत्री के रूप में पद की शपथ दिलाई। वहीं, उत्‍तराखंड में मुख्यमंत्री पद पर अप्रत्याशित बदलाव के बाद अब प्रदेश भाजपा नेतृत्व में भी चौकाने वाले बदलाव देखने को मिले। पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं हरिद्वार से विधायक मदन कौशिक को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपी गई है और पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने इस संबंध में कौशिक के नियुक्‍ति के आदेश भी जारी कर दिए हैं। पहले कौशिक त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री थे, वह हरिद्वार से विधायक हैं।

शपथ ग्रहण का क्रम ..

सबसे पहले सतपाल महाराज ने शपथ ग्रहण की……

सतपाल महाराज की पहचान एक राजनीतिक व्यक्ति होने के साथ आध्यात्मिक गुरु के तौर पर भी है। राजनीति की अगर बात करें तो 90 के दशक में सतपाल महाराज ने कांग्रेस से राजनीति की शुरुआत की, फिर देवेगौड़ा और गुजराल सरकार में सतपाल महाराज केंद्र में राज्य मंत्री रहे। जिसके बाद उत्तरप्रदेश से अलग होने पर सतपाल महाराज ने हमेशा उत्तराखंड का सीएम बनने का सपना देखा जो आजतक पूरा नहीं हुआ है।
उत्तराखंड में तिवारी सरकार में सतपाल महाराज 20 सूत्रीय कार्यक्रम के अध्यक्ष रहे और 2004 में सांसद का चुनाव भी नहीं लड़ा. फिर 2009 में सतपाल महाराज गढ़वाल सीट से सांसद चुने गए. लेकिन केंद्र में कोई मंत्री पद नहीं मिला और 2014 में कांग्रेस की डोलती नाव देखते हुए दिल्ली में बीजेपी में शामिल हो गए. इसके बाद 3 साल महाराज को चुनाव का इंतज़ार करना पड़ा और फिर 2017 में चौबट्टाखाल सीट से विधायक चुने गए, फिर त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री बने..

राज्यपाल ने बंशीधर भगत को दिलाई कैबिनेट मंत्री के रूप में पद की शपथ

भगत ने 1975 में राजनीति में कदम रखा था, जब वह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से प्रभावित होकर जनसंघ में शामिल हुए थे। भगत के पूर्ववर्ती भट्ट दिसंबर 2015 में प्रदेश पार्टी अध्यक्ष बने थे और उनका कार्यकाल दिसंबर 2018 में समाप्त हो गया था। हालांकि, उसके बाद उन्हें एक साल का सेवा विस्तार दिया गया था। भट्ट की अगुवाई में हुए पिछले विधानसभा चुनावों में पार्टी शानदार और ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए 70 में से 57 सीटों पर विजय हासिल कर सत्ता में आई थी। इसके बाद 2019 में हुए लोकसभा चुनावों में भी पार्टी ने पांचों सीटें अपने कब्जे में बरकरार रख प्रदेश में इतिहास बनाया था….

 

इसके बाद डा. हरक सिंह रावत, 

हरक सिंह रावत भारत में उत्तराखंड विधान सभा की विधानसभा के सदस्य हैं। वे भारतीय जनता पार्टी का हिस्सा हैं। वे 15 दिसंबर 1960 को पैदा हुए। हरक सिंह रावत ने 1984 में कला में स्नातकोत्तर पूरा किया। उन्होंने 1996 में हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर, उत्तराखंड से सैन्य विज्ञान में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी की डिग्री प्राप्त की। उनकी पत्नी का नाम दीप्ति रावत है। वे कांग्रेस का हिस्सा थे। 1991 में हरक सिंह रावत ने पौरी से विधानसभा चुनाव जीता और यूपी राज्य के सबसे छोटी उम्र के मंत्री बने। वे 2014 में भारतीय आम चुनाव में गढ़वाल से कांग्रेस के उम्मीदवार थे। पूर्व कांग्रेस विधायक हरक सिंह रावत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत के खिलाफ विद्रोह करने वाले नौ विधायकों में से एक थे। कांग्रेस द्वारा निष्कासित किए जाने के बाद वे भाजपा में शामिल हो गए थे।

 

बिशन सिंह चुफाल ने ली शपथ..

 

 

बिशन सिंह चुफाल भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वो भारतीय जनता पार्टी की उत्तराखंड इकाई के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष हैं, इससे पहले वो राज्य की भुवन चन्द्र खण्डूरी नीत भाजपा सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं

 

 

 

जिसके बाद यशपाल आर्य ने शपथ ली…

 

 

यशपाल आर्य एक भारतीय राजनीतिज्ञ तथा वर्तमान उत्तराखंड सरकार में परिवहन मंत्री है… वे पूर्व उत्तराखंड विधानसभा के अध्यक्ष रहे है…भारतीय जनता पार्टी के राजनेता है…यशपाल आर्य पहली बार सन 1989 में खटीमा सितारगंज सीट से विधायक बने

 

 

इन सब में से अरविंद पांडे की शपथ थोड़ी अलग थी, उन्होंने संस्‍कृत में ली गोपनीयता की शपथ।

 

 

अरविंद पांडे है एक साफ छवि और लोकप्रिय नेता, त्रिवेंद्र सरकार में शिक्षा मंत्री रहते हुए किए कई अहम बदलाव… उत्तराखंड में शिक्षा मंत्री रहते हुए लिए कई महत्वपूर्ण कार्य.. स्कूलों के स्तर को सुधारा, शिक्षा की गुणवत्ता को भी सुधारा…. गदरपुर से विधायक है अरविंद पांडे

 

 

इसके बाद राज्यपाल ने सुबोध उनियाल को दिलाई कैबिनेट मंत्री के रूप में पद की शपथ।

राज्यपाल ने गणेश जोशी को दिलाई पद की शपथ, मंच पर मुख्‍यमंत्री को किया सैल्‍यूट।

पिथौरागढ़ जिले के रहने वाले गणोश जोशी का जन्म 1958 में मेरठ में हुआ था। जहां उनके पिता स्वर्गीय श्याम दत्त जोशी भारतीय सेना के जवान के रूप में तैनात थे। पांच भाई-बहनों में दूसरे गणोश जोशी का बचपन मेरठ, हरिद्वार और देहरादून में बीता। वे 1976 से 1983 तक एक सैनिक के रूप में भारतीय सेना में रहे। वर्तमान में वे देहरादून के कालीदास रोड स्थित आवास में रहते हैं।

राज्यपाल ने धन सिंह रावत को दिलाई पद की शपथ।
राज्यपाल ने रेखा आर्य को दिलाई पद की शपथ।


राज्यपाल ने स्वामी यतीश्वरानंद को दिलाई पद की शपथ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

हरिद्वार जहरीली शराब की अरोपी बबली देवी ने जीतीं प्रधानी का चुनाव, पुलिस ने किया गिरफ्तार

चुनाव के दौरान जहरीली शराब बांटने वाली बबली देवी चुनाव जीतने के बाद हवालात पहुंच गई हैं। जी हां हरिद्वार में शिवनगर ग्राम पंचायत...

जल्द शुरू होगा भारत का सबसे बड़ा रियलिटी टीवी शो बिग बॉस 16, जानिए कौन है शो में एंट्री करने वाले पहले कंटेस्टेंट

भारत का सबसे बड़ा रियलिटी टीवी शो बिग बॉस 16 जल्द ऑन एयर होने जा रहा है। शो 1 अक्टूबर से टीवी पर देखा...

जम्मू-कश्मीर में दहशत, ताबड़तोड़ 2 बम धमाके, कंडक्टर समेत दो लोग घायल, बढ़ाई गयी सुरक्षा

जम्मू-कश्मीर में इस समय दहशत का माहौल है। जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में अलग-अलग जगह पर पार्क की गई बस में बम धमाके हुए हैं।...

10 साल के बच्चे की पेंटिंग आर्ट गैलरियों में, 2 करोड़ रुपये में हुई एक पेंटिंग की बिक्री

कक्षा पांचवी में पढ़ने वाला एक बच्चा पेंटिंग की दुनिया में नाम कमा रहा है। आंद्रेस वैलेंसिया अभी केवल 10 साल का है और...

उत्तराखण्ड के हिस्से एक और गौरव, ले.ज. अनिल चौहान बने सीडीएस

भारतीय सेना में उत्तराखण्ड के योगदान का एक और सुनहरा पन्ना जुड़ गया है। देश के दूसरे चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ बनने का गौरव...

केंद्र सरकार ने पीएफआई को घोषित किया गैरकानूनी संस्था, पांच सालों के लिए संस्था बैन

केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) को एक गैरकानूनी संस्था घोषित कर दिया है। सरकार ने पीएफआई पर अगले पांच सालों के...

लखीमपुर खीरी में बड़ा सड़क हादसा,यात्री बस और ट्रक की आमने-सामने टक्कर, हादसे में 8 लोंगो की मौत

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में आज बुधवार की सुबह भीषण सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में आठ लोगों की मौके पर ही...

अंकिता भंडारी के परिजनों को 25 लाख रुपयों की आर्थिक सहायता, पुष्कर सिंह धामी का ऐलान

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिवंगत अंकिता भंडारी के परिजनों को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। अधिकारियों को...

स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर की याद में तैयार 14 टन की वीणा,  93वीं जयंती पर दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को भारत रत्न लता मंगेशकर को दी श्रद्धांजलि। बता दें कि आज इस विशेष दिन पर उत्तर प्रदेश के...

अंकिता हत्याकांड पर राहुल गांधी का बीजेपी पर निशाना, अंकिता के पिता का बयान भी आया सामने

अंकिता भंडारी हत्याकांड ने समूचे देश को हिला कर रख दिया है। अंकिता भंडारी हत्याकांड में शामिल तीनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार हो चुके है...