Wednesday, May 22, 2024
उत्तराखंड

Chardham Yatra 2021: तीन धामों के कपाट शीतकाल के लिए बंद…

बाबा केदारनाथ के कपाट शीतकाल के लिये बंद कर दिये गये हैं। आज भैया दूज के मौके पर समाधि पूजा-प्रक्रिया और पूरे विधि-विधान के साथ बह्ममुहूर्त से कपाट बंद करने का सिलसिला शुरू हुआ। प्रातः 6 बजे केदारनाथ के पुजारी बागेश लिंग ने दिगपाल भगवान भैरवनाथ का आह्वान किया और स्यंभू शिव लिंग को विभूति और फूलों से ढककर समाधि रूप में विराजमान किया। इसके बाद सुबह 8 बजे मुख्य द्वार के कपाट शीतकाल के लिये बंद कर दिये गये। जिसके बाद भागवान केदारनाथ की पंच मुखी डोली की परिक्रमा कराई गई। यहां से पंच मुखी केदारनाथ की डोली अपने शीतकालीन प्रवास यानी श्री ओंकरेश्वर मंदिर उखीमठ के लिये रवाना हो गई है। कल 7 नवंबर को डोली विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी पहुंचेगी और 8 नवंबर को ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ। यमुनोत्री धाम के भी आज कपाट बंद कर दिये गये हैं। इधर बीते दिन गंगोत्री धाम के कपाट भी शीतकाल के लिये बंद कर दिये गये हैं। जबकि बदरीनाथ धाम के कपाट 20 नवंबर को शीतकाल के लिये बंद किये जाएंगे। आपको बता दें कि इस बार चारधाम यात्रा कोरोना के चलते काफी देरी से शुरू हुई थी। यात्रा के अंतिम दौर में दैवीय आपदा से यात्रा में रूकावट आई थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *