Sunday, March 3, 2024
उत्तराखंड

श्री हेमकुंड साहिब यात्रा का हुआ आगाज रंग-बिरंगी लाइटों से सजाया गया दरबार

उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित सिखों के धार्मिक स्थल श्री हेमकुंड साहिब की यात्रा आज से शुरू हो गई है। तकरीबन 7 महीनों के बाद श्री हेमकुंड साहिब के कपाट खुले हैं। फूलों, रंग बिरंगी लाइटों और सजावटी कपड़ों से दरबार को सजाया गया है। इस दौरान आर्मी के जवानों ने सुंदर बैंड की प्रस्तुति और फूलों की वर्षा के साथ गुरु ग्रंथ साहिब को सुशोभित किया। श्रद्धालुओं की शोभायात्रा सुबह 4 बजे गोबिंद धाम से निकली और श्री हेमकुंड साहिब पहुंची। इस मौके पर श्रद्धालुओं ने स्नान कर दर्शन किए। सुबह 10.30 बजे श्री गुरु ग्रंथ साहिब के पहुंचते ही सुखमनी साहिब का पाठ शुरू हुआ। पाठ के बाद कीर्तन शुरू हुआ। संगत के आगमन को लेकर प्रशासन ने भी तैयारी पूरी कर ली है।
यात्रियों को दिक्कत न हो, इसके लिए इंडियन आर्मी के जवानों ने दिन रात मेहनत की है। 15 फीट से अधिक ऊंची बर्फ की चादर में रास्ता बनाया गया।
हर साल सर्दियों में बर्फबारी शुरू होने से पहले हिमालय की पहाड़ियों में बने श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे के कपाट बंद कर दिए जाते हैं। 6 से 7 महीनों तक कपाट बंद रखे जाते हैं। फिलहाल, 2023 की ये यात्रा आज से शुरू हो गई है। प्रशासन ने संगत को सावधानी बरतने के निर्देश भी दिए हैं। खराब मौसम और अत्यधिक ठंड के कारण यात्रियों को सांस की तकलीफ के चलते ऊपर रहने की सख्त मनाही है और संगत को दर्शन के बाद वापस लौटना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *