Wednesday, May 22, 2024
उत्तराखंड

13 जिलों में 13 वरिष्ठ अधिकारी तैनात, चुनाव से पहले धामी सरकार चौकन्नी

देहरादून- उत्तराखंड में आगमी विधानसभा चुनावों को देखते हुये सूबे की धामी सरकार चौकन्नी हो गई है। बचे हुये समय में सरकार सभी 13 जिलों में विकास कार्यों को गति देना चाहती है। इसके लिये मुख्यमंत्री ने हर जिले में एक सीनियर आईएएस अधिकारी की अतरिक्त तैनाती कर दी है। इन अधिकारियों को जिले विकास कार्यों और लोगों की समस्याओं पर त्वरित कार्यवाई के आदेश दिये गये हैं। शासन ने 13 आईएएस अधिकारियों की सूची जारी की है। जिन्हें अलग-अलग 13 जिलों का प्रभारी बनाया गया है। इसमें दो प्रमुख सचिव शामिल हैं जबकि 9 सचिव भी जिलों के प्रभारी बनाये गये हैं। साथ ही दो प्रभारी सचिवों को भी जिलों की जिम्मेदारी दी गई है। कहा गया है कि जिलों के सभी प्रभारी अधिकारी शासन के संपर्क में रहेंगे। इसके अलावा नियमित रूप से जिलों का भ्रमण करने और जनपदों में विभिन्न समस्याओं को लेकर शासन को भी अवगत कराने को कहा गया है। यही नहीं प्रभारी अधिकारियों को जिलों की महत्वपूर्ण बैठकों में भी मौजूद रहने के आदेश दिये गये हैं।

किस जिले में कौन बनाया गया प्रभारी अधिकारी

हरिद्वार जिले में प्रमुख सचिव आरके सुधांशु प्रभारी अधिकारी होंगे, नैनीताल के प्रभारी प्रमुख सचिव एल फैनई, देहरादून में सचिव अमित नेगी, पौड़ी में सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम, पिथौरागढ़ में सचिव शैलेश बगोली, रुद्रप्रयाग में सचिव दिलीप जावलकर, उधम सिंह नगर में बीवीआरसी पुरुषोत्तम, टिहरी गढ़वाल में एस ए मुरुगेशन, अल्मोड़ा में पंकज कुमार पांडे, चंपावत में चंद्रेश कुमार यादव, उत्तरकाशी में  हरीश चंद्र सेमवाल, बागेश्वर में प्रभारी सचिव विनोद कुमार सुमन और चमोली में सचिव दीपेंद्र कुमार चौधरी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *