Wednesday, February 1, 2023
Home राजनीति खामोश हो गई समाजवाद की मुखर आवाज, देश के बड़े नेता शरद...

खामोश हो गई समाजवाद की मुखर आवाज, देश के बड़े नेता शरद यादव का निधन

जनता दल यूनाइटेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव नहीं रहे। गुरुवार रात गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में उनका निधन हो गया। वो 75 साल के थे। सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनका पार्थिव शरीर दिल्ली के छतरपुर स्थित उनके निवास स्थान पर अंतिम दर्शन के लिये रखा गया है। इसके बाद उनके पार्थिव शरीर को मध्य प्रदेश में उनके पैतृक गांव ले जाया जाएगा, जहां अंतिम संस्कार किया जाएगा। पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव के परिवार में उनकी पत्नी, एक बेटी और एक बेटा है।
शरद यादव का जन्म एक जुलाई 1947 को मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में हुआ था। वो एक किसान परिवार में पैदा हुए। युवावस्था में आते ही यादव को राजनीति में दिलचस्पी होने लगी, शरद यादव के राजनीतिक करियर की अगर बात करें तो वो 1974 में पहली बार जबलपुर लोकसभा सीट से सांसद चुने गए। इस दौरान वो जेपी आंदोलन से भी जुड़े रहे। इसके बाद शरद यादव ने राजनीति में पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्हें 1977 में फिर से जबलपुर लोकसभा सीट से ही सांसद चुना गया। इस दौरान वो युवा जनता दल के अध्यक्ष भी रहे। इसके बाद 1986 में पहली बार शरद यादव राज्यसभा पहुंचे। 1989 में यूपी की बदायूं लोकसभा सीट से चुनाव जीते। इसके बाद इसी साल उन्हें केंद्रीय मंत्री का पद भी मिला। यादव को 1997 में जनता दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष भी चुना गया। यादव का आगे का सफर भी काफी शानदार रहा। साल 1991 से लेकर 2014 तक शरद यादव बिहार की मधेपुरा सीट से सांसद चुने गए। वो गरीब, कुचले, पिछड़ों की आवाज उठाने वाले नेता रहे आज समाजवाद की यही आवाज हमेशा के लिये खामोश हो गई। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राहुल गांधी समेत तमाम राजनीतिक और गैरराजनीतिक लोगों ने गहरा दुख प्रकट किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अमीरों की सूची में 11वें नंबर पर पहुँचे अडानी, ग्रुप के शेयरों में गिरावट जारी

हिंडनबर्ग रिपोर्ट रिपोर्ट ने पिछले बुधवार अडानी ग्रुप पर स्टाक हेरफेर और धोकाधडी का आरोप लगाया था। रिपोर्ट के रिलीज होते ही अडानी दुनिया...

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ हुये वाम दल, पुतला फूंक जताया विरोध

जोशीमठ मामले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के बयान से नाराज छात्र संगठन आइसा ने प्रदर्शन करते हुए उनका पुतला फूंका। आइसा ने...

रोडवेज की हड़ताल टली, शासन से आश्वासन मिलने के बाद संयुक्त मोर्चे ने किया एलान

रोडवेज कर्मचारियों को परिवहन निगम अपने खर्च पर दस लाख तक का बीमा देगा। ऐसे ही 13 आश्वासनों के बाद सोमवार को परिवहन निगम...

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की एडवाइजरी, चैनलों को राष्ट्रीय महत्व और जनसेवा पर आधारित कार्यक्रम बनाने की सलाह

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। मंत्रालय के मुताबिक उसने कई ब्राडकास्टर्स औऱ चैनलों के एसोसियेशन...

कब बनेगा भोपालपानी पुल! 45 दिन पहले गिरा था पुल

देहरादून-जौलीग्रांट रोड पर क्षतिग्रस्त हुये भोपालपानी पुल को 1 माह बीतने के बाद भी ठीक नहीं किया गया है। तकरीबन 45 दिन पहले इस...

यमुनोत्री के राना गांव में भीषण अग्निकांड, देखते ही देखते जलकर राख हो गये गई घर

यमुनोत्री धाम से लगे राना गांव में बीती रात अचानक आवासीय मकानों में आग लग गई। रात करीब डेढ़ बजे गांव के बीचोंबीच अचानक...

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा समाप्त, 145 दिन बाद आज कश्मीर में हुआ समापन

राहुल गांधी की भारत जोडो यात्रा आज 145 दिन बाद समाप्त हो गई है। राहुल के भाषण के साथ आज कश्मीर में यात्रा का...

एनएसए अजित डोभाल पर राहुल गांधी का निशाना, समापन भाषण में दो बार लिया नाम

भारत जोड़ो यात्रा आज कश्मीर में समाप्त हो गई। यात्रा के समापन पर बीजेपी, आरएसएस, पीएम और गृह मंत्री एक बार फिर राहुल गांधी...

फिर सड़कों पर उतरे चयनित अभ्यर्थी, आयोग के गेट पर दिया धरना

कनिष्ठ सहायक भर्ती में नियुक्ति को लेकर हो रही देरी से चयनित अभ्यर्थी खासे नाराज हैं। दस्तावेज सत्यापन नहीं होने से चयनित अभ्यर्थियों का...

उत्तराखंड में कल से थम जाएंगे रोडवेज के पहिए, रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल कल आधी रात से

उत्तराखंड रोडवेज की बसों से सफर करने वाले हजारों यात्रियों को कल से भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। 27 जनवरी को...