Wednesday, February 28, 2024
उत्तराखंडपौड़ी गढ़वाल

आतंकियों के साथ मुठभेड़ में उत्तराखंड के लाल की शहादत, 16 गढ़वाल राइफल्स में तैनात थे सूबेदार राम सिंह

-आकांक्षा थापा

उत्तराखंड के जवान हमेशा देश की सेवा में तत्पर रहते हैं.. आज राज्य के ऐसे ही वीर जवान ने मातृभूमि की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। आज जम्मू कश्मीर के राजौरी में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में उत्तराखंड का एक और लाल शहीद हो गया है….वर्तमान में मेरठ निवासी सूबेदार राम सिंह भंडारी जम्मू कश्मीर के राजौरी में आतंकियों के साथ मुठभेड में शहीद हो गए…उनके शहीद होने की खबर से उनके गृहनगर मेरठ और पौड़ी में शोक की लहर दौड गई..

आपको बता दें कि सूबेदार राम सिंह भंडारी 48 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात थे..जम्मू कश्मीर के राजौरी में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चल रहा था…सुबह तक चले ऑपरेशन में दो आतंकियों को मार गिराया गया था…जबकि तीसरे आतंकी के संदेह में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था…उसी दौरान घात लगाकर आतंकी ने बर्स्ट मार दिया जिसकी चपेट में सूबेदार राम सिंह आ गए और बुरी तरह जख्मी हो गए…चिकित्सकों की टीम ने उन्हें बचाने की कोशिश की लेकिन ज्यादा खून बह जाने के कारण नहीं बचा सके…सेना के 16 गढ़वाल में शामिल हुए सूबेदार राम सिंह मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले थे…पौने 2 साल से वह राष्ट्रीय राइफल के साथ कार्यरत थे और फरवरी 2022 में वह 30 साल की सेवा के बाद सेवानिवृत्त होने वाले थे….पति के शहादत होने की सूचना मिलने के बाद से ही पत्नी अनिता भंडारी का रो रो कर बुरा हाल है.. सबसे बड़ी बेटियां प्रियंका सिंह और करिश्मा नेगी परिवार को संभालने की कोशिश कर रही हैं…वही छोटी बेटियां मीनाक्षी भंडारी व मनीषा भंडारी के साथ बेटे सोलन भंडारी मां को संभालने के साथ एक दूसरे को संभालने में जुटे हैं…इस दुखद खबर से पूरे परिवार और क्षेत्र में मातम छाया हुआ है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *