Tuesday, September 27, 2022
Home राष्ट्रीय LAKHIMPUR KHIRI: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी मामले की सुनवाई शुक्रवार तक...

LAKHIMPUR KHIRI: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी मामले की सुनवाई शुक्रवार तक टाल दी गई

कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को शुक्रवार तक स्टेटस रिपोर्ट देने का आदेश दिया है। उत्तर प्रदेश की सरकार शुक्रवार को सुनवाई के दौरान स्टेटस रिपोर्ट में यह बताएगी कि किन-किन अभियुक्तों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई है और एफआइआर जिनके खिलाफ दर्ज है वे लोग गिरफ्तार किए गए हैं कि नहीं। इसके साथ ही कोर्ट ने हिंसा में अपना बेटा गंवाने वाली मां के इलाज के लिए तुरंत इंतजाम करने का यूपी सरकार को आदेश दिया। सुप्रीम कोर्ट ने बताया कि चीफ जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की बैठक इस मामले को सुनेगी।
वहीँ, लखीमपुर खीरी मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रमना ने कहा कि दो अधिवक्ताओं ने मंगलवार को अदालत को एक पत्र लिखा था, कोर्ट ने अपनी रजिस्ट्री को पत्र को जनहित याचिका के रूप में दर्ज करने का निर्देश दिया था, लेकिन गलत संचार के कारण से यह स्वत: संज्ञान मामले के रूप में दर्ज किया गया। कोर्ट ने दोनों वकीलों को पेश होने का आदेश दिया है।
आपको बता दे कि रविवार को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों के प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में चार किसानों समेत कुल नौ लोगो की मौत हुई थीं। तीन अक्टूबर को कुछ किसान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के विरोध में जुलूस निकल रहे थे। तभी एक तेज रफ्तार वाहन से चार किसान कुचले गए। इस घटना के बाद उग्र हुए लोगों ने भाजपा के दो कार्यकर्ताओं और वाहन के चालक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। हिंसा की इस घटना में एक पत्रकार की भी जान चली गई। इस घटना ने देश भर में राजनीतिक तूफान खड़ा कर दिया है। कई विपक्ष उत्तर प्रदेश सरकार पर आरोपियों को बचने का आरोप लगा रहें हैं। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा और अन्य के खिलाफ हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है।
प्रदेश सरकार ने इलाहाबाद हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त जज प्रदीप कुमार श्रीवास्तव को पूरे कांड की जांच का जिम्मा सौंपा है। श्रीवास्तव को दो महीने के भीतर इस पूरे मामले की जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। फिलहाल दोनों वकीलों ने अपने पत्र को जनहित याचिका (पीआइएल) के रूप में मानने का आग्रह किया था ताकि दोषियों को कानून के कटघरे में लाया जा सके। उत्तर प्रदेश के गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि जांच आयोग के गठन के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। आयोग को जांच के लिए दो महीने का वक्त दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रायपुर पुलिस के हाथ लगे ऐसे चोर, बिना चाबी के दो पहिया वाहनों की कर रहे थे चोरी

रायपुर थाना पुलिस ने तीन ऐसे युवकों को पकड़ा है, जो महंगी बाइक व स्कूटर चलाने का शौक पूरा करने के लिए दोपहिया वाहनों...

नवरात्रि का दूसरा दिन आज, नव शक्तियों के दूसरे स्वरूप माता ब्रह्मचारिणी की आज करें पूजा अर्चना

शारदीय नवरात्रि का आज दूसरा दिन है। नवरात्रि के दूसरे दिन देवी के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा-अर्चना की जाती है। मां दुर्गा की नव...

जौनसार में बारिश से तबाही, अमलावा नदी के उफान में बह गया भवन

जौनसार में रविवार रात हुई मूसलाधार बारिश ने भारी तबाही मचाई है। रविवार देर रात साहिया में भारी बारिश का तांडव देखने को मिला।...

नवरात्रि में सीएम धामी का तोहफा, राज्य की बालिकाओं को नंदा गौरा योजना के तहत 323 करोड़ की धनराशि हस्तांतरित

पहले नवरात्रे पर सीएम धामी ने राज्य की 80 हजार बालिकाओं को तोहफा दिया है। सीएम ने आज नंदा गौरा योजना के तहत 323...

दिल्‍ली में 12 साल के बच्चे से गैंगरेप, एक व्यक्ति गिरफ्तार अन्य तीन फरार

देश की राजधानी दिल्ली में 12 साल के एक लड़के के साथ रेप करने का मामला सामने आया है। चार लोगों ने कथित तौर...

जैकलीन को बड़ी राहत, 200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग केस में कोर्ट ने दी अंतरिम जमानत

सुकेश चंद्रशेखर से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में जैकलीन फर्नांडीज को बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने जैकलीन फर्नांडीज को अंतरिम जमानत दे दी...

आज शुरू हुए शारदीय नवरात्र, नवरात्र के पहले दिन करें मा दुर्गा के प्रथम स्वरुप मां शैलपुत्री की पूजा अर्चना

शारदीय नवरात्र आज से शुरू हो गए हैं। इस बार नवरात्र पूरे नौ दिन के रहेंगे। 26 सितंबर से 4 अक्टूबर तक। 26 सितंबर...

पिथौरागढ़ में बड़ा भूस्खलन, भरभराकर गिरा समूचा पहाड़,तवाघाट-लिपुलेख मार्ग बंद

जाते जाते भी उत्तराखण्ड में बरसात कहर बरपा रही है। बीते दिनों सीमांत क्षेत्र धारचूला में आई जबर्दस्त आपदा के बाद आज फिर यहां...

देहरादून में ‘प्रोजेक्ट पार्क वैल’, प्रोजेक्ट पार्क वैल के अनौखे ईनाम

गलत पार्क किये गये वाहनों का फोटो खींचीए और ईनाम पाइये... जी हां वही योजना जिसकी घोषणा हाल ही में केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन...

देहरादून में प्रोजेक्ट पार्क वैल के अनौखे ईनाम, जानकर रह जाएंगे हैरान

उत्तराखण्ड होमगार्ड्स एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय द्वारा देहरादून में भी लागू की गई है। जिसे नाम दिया गया है प्रोजेक्ट पार्क वैल। इसमें भी...