Wednesday, October 5, 2022
Home अंतरराष्ट्रीय कोह-ए-नूर का मसूरी से है संबंध, महाराजा रणजीत सिंह से जुड़ा है...

कोह-ए-नूर का मसूरी से है संबंध, महाराजा रणजीत सिंह से जुड़ा है इतिहास

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का बीती 8 सितंबर को 96 साल की उम्र में निधन हो गया था। अब एलिजाबेथ का कीमती कोहिनूर हीरे से जड़ा मुकुट यानी क्राउन अगली पीढ़ी के पास चला जाएगा। महारानी की मौत के बाद कोहिनूर हीरा फिर एक बार चर्चाओं में आ गया है। साथ ही कोहिनूर हीरे को भारत लाने की मांग भी उठने लगी है। लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि इस बेशकीमती हीरे का मसूरी से भी नाता रहा है। क्योंकि कोहिनूर हीरे के असली मालिक महाराजा रणजीत सिंह का मसूरी में इतिहास छुपा हुआ है। अंग्रेजों ने महाराजा रणजीत सिंह की संपत्ति और धन दौलत पर कब्जा कर लिया था। अंग्रेज चाहते थे कि महाराजा दलीप सिंह यानी रणजीत के बेटे को लाहौर से दूर रखा जाए। लिहाजा अंग्रेजों ने महाराजा दलीप सिंह, उनकी मां, उनके चचेरे भाई नौनिहाल सिंह को साल 1852 से 1853 तक मसूरी में रखा गया था। बता दें कि मसूरी अंग्रेजों द्वारा बसाई गई थी। जिसके तहत अंग्रेजों ने मसूरी के मेडक स्कूल (वर्तमान में होटल सवाय में दलीप सिंह को शिक्षा दी। जहां दलीप सिंह को ईसाई समुदाय के बारे में पढ़ाया गया। क्योंकि, अंग्रेज दलीप सिंह को ईसाई बनाना चाहते थे। जिसमें वे सफल भी हुए। कोहिनूर को दुनिया के सबसे कीमती हीरे के रूप में जाना जाता है. मूल रूप में ये 793 कैरेट का था. अब यह 105.6 कैरेट का रह गया है. जिसका वजन 21.6 ग्राम है. यह हीरा भारत में 14वीं सदी में मिला था. जो आंध्र प्रदेश के गुंटूर में काकतीय राजवंश के शासनकाल में गोलकोंडा खनन क्षेत्र में मिला था. तब ये मालवा के राजा महलाक देव की संपत्ति में शामिल था। वारंगल में एक हिंदू मंदिर में इसे देवता की एक आंख के रूप में इस्तेमाल किया गया था, यहां मुगलों ने इसे लूट लिया। जिसके बाद ये हीरा मुगलों के पास ही रहा। मुगल साम्राज्य के कई शासकों को सौंपे जाने के बाद सिख महाराजा रणजीत सिंह ने लाहौर से कोहिनूर हीरे को हासिल कर लिया। जिसे वे पंजाब लेकर आए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Uttarkashi Avalanche: बर्फ के तूफान में लापता हुए 28 लोग, 2 की मौत, CM Dhami ने मांगी सेना से मदद

केदारनाथ के बाद अब द्रौपदी पर्वत में आया एवलॉन्च। एवलॉन्च के चलते बर्फीली पहाड़ियों पर फंसे 28 लोग, हादसे में 2 की मौत ।...

मास्टरमाइंड हाकम का रिसॉर्ट तोड़ने पहुंची टीम, धरने पर बैठ ग्रामीणों ने जताया विरोध

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक मामले में आरोपी मास्टमाइंड हाकम सिंह रावत का सांकरी स्थित रिजॉर्ट को गिराने के लिया पिछले दिनों...

शेयरों में दिखी गिरावट, अमीर लोगों की सूची में नीचे खिसके गौतम अदाणी

दुनिया के शीर्ष तीन अमीर कारोबारियों में शामिल भारतीय व्यवसायी गौतम अदाणी और एलन मस्कको एक दिन में लगभग 25 मिलियन डॉलर यानी 2...

टी20 वर्ल्ड कप में भारत को झटका, जसप्रीत बुमराह टी20 वर्ल्ड कप 2022 से हुए बाहर

सोमवार को बीसीसीआइ ने मुहर लगा दी कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह आगामी टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं। हालांकि उनके रिप्लेसमेंट...

नवमी पर सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने जिमाई कन्‍या, मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों का लिया आशीर्वाद

नवमी के दिन मंगलवार को उत्‍तराखंड भर में मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों की पूजा अर्चना की जा रही है। इस क्रम में मुख्‍यमंत्री...

उत्तराखण्ड में चीन सीमा पर दशहरा मनाएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आज पहुंचेंगे देहरादून

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उत्तराखंड में चीन सीमा पर स्थित अग्रिम चौकी पर सेना और आईटीबीपी के जवानों के साथ विजयादशमी मनाएंगे। इस मौके पर...

हरिद्वार को मिला देश के गंगा टाउन में पहला स्थान, लेकिन उत्तराखंड का सबसे गंदा शहर, पढिये पूरी खबर

राष्ट्रीय स्तर की ओवरआल रैंकिंग में पिछले साल 279वें स्थान पर रहा हरिद्वार इस वर्ष 300वें नंबर पर आ गया। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में...

Indian Air Force में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर ‘प्रचंड’, भारतीय वायुसेना को मिलेगी मदद

आजादी से लेकर अब तक भारत को सुरक्षित रखने में भारतीय वायु सेना की बड़ी शानदार भूमिका रही है। आंतरिक खतरे हों या बाहरी...

एसआइटी ने की रिसॉर्ट में बुकिंग करवाने वालों की पहचान, दर्ज किए जा रहे बयान

अंकिता हत्याकांड मामले में वीआईपी सर्विस देने के मामले से अभी भी पर्दा नहीं उठ पाया है। वहीं एसआइटी ने घटना से पहले व...

बाबा केदार के धाम पहुंचे राज्यपाल गुरमीत सिंह, पूजा अर्चना कर लिया आशीर्वाद

उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह आज बाबा केदार के दर्शन करने केदारनाथ धाम पहुंचे। उन्होंने बाबा केदार के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इसके...