Sunday, March 3, 2024
अल्मोड़ाउत्तर प्रदेशउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरचमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदिल्लीदेहरादूननैनीतालपंजाबपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरराजनीतिराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागहरिद्वार

टीम सोनिया में हरीश रावत के बढ़ते कद से कई नेताओं की उड़ी नींद 

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने अपनी टीम में जहाँ कई नए चेहरे शामिल किये हैं तो वहीँ कई पुराने दिग्गजों को बाहर कर दिया है ….. इस नए बदलाव में भी नहीं बदला तो वो एक चेहरा है उत्तराखंड के सबसे अनुभवी और सियासत के दिग्गज खिलाडी हरीश रावत का …..

उत्तराखंड में कांग्रेस को कई खेमों में बंटी पार्टी माना जाता है लेकिन टीम सोनिया ने हरदा को पंजाब जैसे बड़े राज्य का प्रभारी बनाकर बता दिया है कि खेमों में बंटी उत्तराखंड कांग्रेस का सबसे बड़ा असरदार सरदार कोई है तो वो हरदा ही हैं ….  हरीश रावत ने सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी की कोर  दुबारा एंट्री करते हुए अपने विपक्षियों को अपनी ताकत का एहसास भी करा दिया है ….. कुछ दिनों पहले ही हरीश रावत ने जय भारत टीवी के प्रबंध सम्पादक नितिन गुप्ता से एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया था कि कांग्रेस एक अजर अमर पार्टी है और उसको कमतर आंकना आने वाले समय में विपक्षियों को भारी पड़ेगा 

 

उत्तराखंड में हरीश रावत का एक एक बयान और उनका एक एक कदम सुर्ख़ियों में रहता है ….. कभी संगठन से तनातनी तो कभी गुटबाज़ी को हवा देने का भी आरोप हरदा पर लगते रहते हैं लेकिन इन सब चुनौतियों को बड़ी चतुराई से हरीश रावत उबर कर  हाईकमान के चहेते बन कर उभरते रहे हैं। आज एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के कद में एक बार फिर इजाफा हुआ है। कांग्रेस हाईकमान ने राष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्रीय महासचिव के साथ कांग्रेस कार्य समिति के रूप में उनकी भूमिका दोबारा बरकरार रखी  …. पंजाब जैसे बड़े और कांग्रेसशासित प्रदेश के प्रभारी का अहम जिम्मा सौंपा जाना हरदा को किसी सौगात से कम नहीं है …. इस नए फेरबदल के बाद उत्तराखंड में हरीश रावत के लिए आने वाले उत्तराखंड चुनाव में भूमिका भी साफ़ होती जा रही है

कांग्रेस हाईकमान ने दिल्ली से जुड़े रहे देवेंद्र यादव को अब अनुग्रह नारायण सिंह की जगह राज्य प्रभारी का जिम्मा सौंपा है।  उत्तराखंड की सियासत को समझने वाले मानते हैं कि नए प्रदेश प्रभारी की नियुक्ति भी हरीश रावत के बढ़ते कद का एक प्रभाव दिखा रहा है।

नयी ज़िम्मेदारी मिलने के बाद पूर्व  मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि कांग्रेस नेतृत्व ने जो भी आदेश दिया है, उसका पालन किया जाएगा, पार्टी हित में काम जारी रहेगा। पार्टी ने उन पर जो विश्वास व्यक्त किया है, उस पर वो आगे बढ़ेंगे ….. अब देखना होगा कि प्रदेश में अक्सर अपनों के ही बुने चक्रव्यूह में उलझने वाले हरदा अपनी इस  नयी पारी में किस तरह की बैटिंग करते हैं ?  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *