Home अंतरराष्ट्रीय GUNNING FOR THE GODMAN - यौन शोषण के आरोपी आसाराम पर लिखी...

GUNNING FOR THE GODMAN – यौन शोषण के आरोपी आसाराम पर लिखी किताब , सामने आएंगे बड़े खुलासे

सीनियर आईपीएस अजय पाल लाम्बा ने लिखी है विवादित धर्मगुरु आशाराम पर किताब 

किताब में किये गए हैं पुलिस और आशाराम बापू से जुड़े कई बड़े खुलासे

जयपुर के एडिशनल कमिश्नर ने खोले संत से जुड़े कई बड़े गहरे राज़ 

परत दर परत खोली गयी है एक एक घटना और कार्यवाही की गतिविधियां 

चंडीगढ़ की एक अदालत के किताब पर रोक लगाने से किया है इनकार 

पांच सितम्बर को होगी विवादित आशाराम पर लिखी चर्चित किताब 

कभी लाखों लोगों के लिए चमत्कारी भगवान माने जाने वाला आसाराम बापू जेल की सलाखों के पीछे कैसे पहुंचा, इसको लेकर राजस्थान कैडर के आईपीएस अधिकारी अजय पाल लांबा ने किताब लिखी है। किताब के को-ऑथर संजीव माथुर हैं। लाखों लोगों के दिलों पर राज करने वाले आसाराम के खिलाफ मामला दर्ज करने से लेकर उसको जेल तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले लांबा ने अपनी किताब में लिखा कि गिरफ्तारी के बाद कैसे आसाराम जमीन पर बैठकर रोने लगा।

5 सितंबर को रिलीज़  होने वाली इस किताब में लिखा गया है कि कैसे पुलिसिया पूछताछ के दौरान फूट-फूट कर रो रहे आसाराम ने पुलिस अफसरों से लेकर कांस्टेबल तक के पैर पकड़े, कभी धमकी देने लगा तो कभी दीवार पर  सिर मारने लगा और कभी गाना गाने लगा। जोधपुर में पुलिस उपायुक्त रहते हुए लांबा ने 20 अफसरों व पुलिसकर्मियों की टीम के साथ किस तरह का जाल बिछाकर आसाराम को गिरफ्तार किया, यह इस किताब में उन्होंने लिखी है । पुलिस की इस टीम को “टफ-20” नाम दिया गया था। वर्तमान में जयपुर में अतिरिक्त आयुक्त पद पर तैनात लांबा ने बताया, आसाराम को सजा हुई तो तब इस पर किताब लिखने का विचार मन में आया।

डयूटी के बाद जब भी समय मिलता तो प्रतिदिन केस के बारे में लिखना शुरु किया। किताब लिखने का मुख्य मकसद इस तरह के कथित संतों की वजह से सभी  संतों की बदनामी और भक्तों की गड़बड़ाती आस्था के बारे में सभी वर्गों को सचेत करना है । किताब के राइटर लांबा कहते हैं कि  मामला दर्ज होने के बाद से गिरफ्तारी और दोषी साबित करने तक जांच कर रही पुलिस टीम पर काफी दबाव आए। आसाराम के समर्थकों ने हर तरह के दबाव डलवाने के साथ ही धमकियां भी दी। पैसे का लालच भी दिया। गांव में रह रहे उनके माता-पिता को धमकी दी गई, लालच दिया गया। उनकी टीम में शामिल राज्य पुलिस सेवा की अधिकारी चंचल मिश्रा को फोन पर धमकियां दी गई, अपशब्द कहे गए, आखिरकार दोनों को अपने मोबाइल बंद करने पड़े। आसाराम ने खुद को बेकसूर साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

उसने खुद को नपुंसक साबित करके बचने की कोशिश की। उसका पोटेंसी टेस्ट कराने की बात आई तो उच्च अधिकारियों में विरोधाभास था। आखिरकार उसका टेस्ट हुआ, जिसमें आसाराम के नपुंसक होने का बहाना झूठा निकला। आसाराम के खिलाफ गवाही देने वाले तीन  लोगों की हत्या और कईयों पर हमलों के बाद अन्य को सुरक्षित कैसे रखा,यह भी किताब में लिखा है। पीड़िता की तरफ से 58 गवाह थे, उनमें से 6 मुख्य थे ।अगस्त,2013 में आसाराम के खिलाफ दिल्ली में आईपीसी की धारा 342,376 व 508 के तहत नाबालिग के यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज हुआ। पीड़िता के पिता की रिपोर्ट थी कि आसाराम ने पीड़िता का जोधपुर स्थित आश्रम में जुलाई के अंतिम सप्ताह में यौन उत्पीड़िन किया था । मामला दिल्ली से जोधपुर ट्रांसफर हो गया। सबूत जुटाने के बाद पुलिस की टीम आसाराम की तलाश में जोधपुर, भोपाल, इंदौर, दिल्ली, छींदवाड़ा सहित कई शहरों में भेजी गई। 31 अगस्त, 2013 को उसे इंदौर हवाई अड्डे से पकड़ा गया। उसे इंदौर आश्रम में ले जाया गया, जहां पूछताछ के दौरान पुलिसकर्मियों के साथ उसके समर्थकों ने हाथापाई की।  

आसाराम को जोधपुर लाकर पूछताछ के बाद 1 सितंबर, 2013 को गिरफ्तार किया गया। यहाँ आपको ये भी बता दें कि आसाराम और उसके बेटा नारायण साई पर यौन हमलों, जमीन पर कब्जे, काले धन को सफेद बनाने, धमकाने, काला जादू जैसे अंधविश्वास फैलाने और उनके खिलाफ गवाह बने व्यक्ति की हत्या करवाने का आरोप है। लेकिन सबसे बड़ा मामला तो बेहद शर्मनाक है जिसमें आशाराम को नाबालिग लड़की से बलात्कार का दोषी पाये जाने के बाद जोधपुर की अदालत से उम्रकैद की सजा दी है वहीँ अब बाबा ने राजस्थान के राज्यपाल से अपनी उम्रकैद की सजा में राहत देने की अपील की है। अब इस चर्चित किताब गनिंग फॉर द गॉडमैन का इंतज़ार ख़त्म होने वाला है क्यूंकि पांच सितम्बर को ये किताब सामने आ जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कल से खाना नहीं खाया है, भूखा हूं… मिठाई की दुकान में मिला मासूम चोर का खत

जैसलमेर में एक दिलचस्प मामला सामने आया है। यहां मिठाई की दुकान में घुसे चोर ने मिठाई खाई और जाते हुए दुकानदार के नाम...

मध्य प्रदेश में बड़ा हादसा, मुरैना के पास सुखोई-30 और मिराज-2000 क्रैश, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

शनिवार सुबह बड़ा हादसा हुआ। एयरफोर्स के दो फाइटर प्लेन सुखोई-30 और मिराज-2000 एयरक्रॉफ्ट आपस में टकराकर क्रैश हो गए। भास्कर को मिली अब...

अडानी ग्रुप के शेयरों में गिरावट आज भी जारी, हिंडनबर्ग की रिपोर्ट से मची तबाही

एशिया के सबसे अमीर और दुनिया के दूसरे नंबर के धनकुबेर गौतम अडानी ने शायद सपने में भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन...

कैप्टन अमरिंदर हो सकते हैं महाराष्ट्र के अगले राज्यपाल, भगत सिंह कोश्यारी की छुट्टी, आदेश जारी, पुष्टि होनी बाकी

पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह महाराष्ट्र के अगले गवर्नर हो सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, इसकी तैयारी हो गई है और इसको...

अंडर-19 टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची भारतीय महिला क्रिकेट टीम

साउथ अफ्रीका में खेला जा रहे अंडर-19 महिला टी20 विश्व कप में भारतीय महिला अंडर-19 टीम ने इतिहास रच दिया। पहले टी20 विश्व कप...

उत्तराखंड पहुंचे पंडित धीरेन्द्र शास्त्री, “बोले कायदे में रहोगे तो फायदे में रहोगे”

अपने दावों के कारण कई दिनों से चर्चा में आए बाबा बागेश्वर धाम धीरेंद्र शास्त्री उत्तराखंड पहुंचे हैं। इंटरनेट मीडिया पर वीडियो जारी कर...

उत्तराखंड में फिर बदलेगा मौसम का मिजाज, 29 से बर्फबारी के आसार

उत्तराखंड में उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद पहाड़ से लेकर मैदान तक ठिठुरन और बढ़ गई है। वहीं, मैदानी...

रोडवेज की हड़ताल से परेशान यात्री, पहले यूपी फिर उत्तराखंड पहुंच रहे यात्री

उत्तराखंड रोडवेज की बसों से सफर करने वाले हजारों यात्रियों को आज भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रोडवेज की हड़ताल के चलते उत्तराखंड...

उत्तराखंड में 25 लाख में बिकी खाकी, दरोगा भर्ती कांड में विजिलेंस की जांच आगे बढ़ी

विजिलेंस अब दरोगा भर्ती धांधली के आरोपियों की संपत्तियों की जांच में जुट गई है। बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी पंतनगर विवि...

जोशीमठ संकट के बीच बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तारीख का एलान, इस दिन खुलेंगे धाम के कपाट

बसंत पंचमी के मौके बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की तारीख का एलान हो गया है. उत्तराखंड के चार धामों में एक भगवान बद्री...