Home अंतरराष्ट्रीय आत्मनिर्भर भारत - दुश्मन सेना को धूल चटायेंगे उत्तराखंड के सैन्य हथ्यार 

आत्मनिर्भर भारत – दुश्मन सेना को धूल चटायेंगे उत्तराखंड के सैन्य हथ्यार 

 

  • नौसेना के लिए रिमोट कंट्रोल गन बनाने की हो चुकी शुरुआत 
  • टी-90 व टी-72 टैंक के फायरिंग कंट्रोल सिस्टम का होगा निर्माण
  • रूस और फ्रांस नहीं अब देवभूमि बना रहा आत्मनिर्भर भारत 

रूस और फ्रांस में नहीं अब सैन्य धाम उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बनेगी नौसेना के लिए रिमोट कंट्रोल गन जी हाँ ये खबर सिर्फ उत्तराखंड के लिए बल्कि हिंदुस्तान के लिए भी जोश से भर देने वाली है। देहरादून में मौजूद  आयुध निर्माणी को ये गौरव हासिल हुआ है।

 टी-90 टी-72 टैंक के जिस फायरिंग कंट्रोल सिस्टम के लिए हम रूस फ्रांस पर निर्भर थे, उसका निर्माण भी मेक इन इंडिया के तहत दून में होगा। इन उत्पादों के निर्माण के लिए बीते दिनों रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ओएलएफ में निर्मित थर्मल इमेजिंग प्रोडक्शन वर्कशॉप का ऑनलाइन उद्घाटन भी कर दिया है।

 

 रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रोडक्शन शॉप के साथ ही स्टेबलाइज रिमोट कंट्रोल गन की तकनीक को भी देहरादून में लांच किया जिससे समुद्र की लहरों के उतारचढ़ाव के बीच भी सटीक निशाना लगाया जा सकेगा और ऐसा संभव होगा इसके माडर्न सिस्टम की वजह से …..  अगर इस पर लगाया गया टार्गेट अपनी जगह बदलेगा तो यह सूचना देगा और फिर इसे उसके हिसाब से एडस्ट भी किया जा सकेगा।

आपको बता दें कि ओएलएफ में एक साल के अंदर ही इस तरह की यूनिट का उत्पादन शुरू कर दिया जाएगा। ओएलएफ के ज़िम्मेदार बताते हैं कि अब तक फैक्ट्री में टी-90 टी-72 टैंक की सिर्फ डेसाइट का निर्माण किया जा रहा था। संस्थान परिसर में करीब आठ करोड़ रुपये की लागत से थर्मल इमेजिंग प्रोडक्शन शॉप तैयार हो गई है। अब यहां नाइट साइट भी तैयार की जाएंगी। 

स्वदेशी तकनीक पर आधारित साइट की लागत भी आधी रह जाएगी। साथ ही इसके जरिए टैंक में बैठेबैठे आठ किमी तक दुश्मन पर नजर रखी जा सकेगी। जबकि, विदेश आने वाले उपकरण करीब एक किलोमीटर तक नजर रखने में सक्षम थे। नए उपकरण बनने से सेना को आधुनिक तकनीकी का लाभ और मजबूती मिलेगी। 

सैन्य धाम उत्तराखंड की पहचान अब और भी ज्यादा विस्तार लेगी क्यूंकि पहाड़ के घर घर से वीर जवान तो पहले से देश सेवा के लिए सीमाओं पर तैनात है अब विदेशी हथ्यार और उपकरण बनाने की इस पहल के बाद तो पहाड़ दुनिया भर में नयी पहचान बना सकेगा

 इस नए आगाज़ के साथ ही देहरादून का नाम इतिहास बनाने के लिए आगे बढ़ गया है …. आत्मनिर्भर भारत के तहत आयुध निर्माणियों में नएनए उत्पादों के बनने की शुरुआत हो गई है। इसके साथ ही 11 नए उत्पाद आने वाले दिनों में निर्माणी में ही बनाए जाएंगे और पूर्ण रूप से स्वदेशी होंगे। यह सेना और अर्द्ध सैन्य बलों के लिए लाभकारी साबित होगा। यह उत्पाद सेना की आंख बनेगा। इस डिवाइस को बाइनों डिवाइस पर लगाया जाएगा। यह नई डिवाइस लगाकर उसकी फोटो लेने के साथ ही वीडियो रिकार्डिंग की जा सकती है।

रक्षा मंत्रालय ने आत्मनिर्भर भारत की ओर एक और बढ़ा कदम उठाया है. भारतीय सेना के लिए हथियार और उपकरण बनाने वाली ऑर्डनेंस फैक्ट्री देहरादून ने एडवांस एक्विपमेंट्स बनाने शुरु कर दिए हैं. यहां तक कि पहली बार सिविलियन यानी बाज़ार के लिए दूरबीन बनाई गई हैं. इसके अलावा सेना के लिए नाइटविज़न मोनोक्यूलर भी डिज़ाइन किए गए हैं जिससे सेना की विदेशी साज़ोसामान पर निर्भरता भी कम होगी….. डिजिटल इंडिया के दौर में अब डिफेन्स एकुप्मेंट की फील्ड में भी भारत बन रहा है आत्मनिर्भर 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कल से खाना नहीं खाया है, भूखा हूं… मिठाई की दुकान में मिला मासूम चोर का खत

जैसलमेर में एक दिलचस्प मामला सामने आया है। यहां मिठाई की दुकान में घुसे चोर ने मिठाई खाई और जाते हुए दुकानदार के नाम...

मध्य प्रदेश में बड़ा हादसा, मुरैना के पास सुखोई-30 और मिराज-2000 क्रैश, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

शनिवार सुबह बड़ा हादसा हुआ। एयरफोर्स के दो फाइटर प्लेन सुखोई-30 और मिराज-2000 एयरक्रॉफ्ट आपस में टकराकर क्रैश हो गए। भास्कर को मिली अब...

अडानी ग्रुप के शेयरों में गिरावट आज भी जारी, हिंडनबर्ग की रिपोर्ट से मची तबाही

एशिया के सबसे अमीर और दुनिया के दूसरे नंबर के धनकुबेर गौतम अडानी ने शायद सपने में भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन...

कैप्टन अमरिंदर हो सकते हैं महाराष्ट्र के अगले राज्यपाल, भगत सिंह कोश्यारी की छुट्टी, आदेश जारी, पुष्टि होनी बाकी

पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह महाराष्ट्र के अगले गवर्नर हो सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, इसकी तैयारी हो गई है और इसको...

अंडर-19 टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची भारतीय महिला क्रिकेट टीम

साउथ अफ्रीका में खेला जा रहे अंडर-19 महिला टी20 विश्व कप में भारतीय महिला अंडर-19 टीम ने इतिहास रच दिया। पहले टी20 विश्व कप...

उत्तराखंड पहुंचे पंडित धीरेन्द्र शास्त्री, “बोले कायदे में रहोगे तो फायदे में रहोगे”

अपने दावों के कारण कई दिनों से चर्चा में आए बाबा बागेश्वर धाम धीरेंद्र शास्त्री उत्तराखंड पहुंचे हैं। इंटरनेट मीडिया पर वीडियो जारी कर...

उत्तराखंड में फिर बदलेगा मौसम का मिजाज, 29 से बर्फबारी के आसार

उत्तराखंड में उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद पहाड़ से लेकर मैदान तक ठिठुरन और बढ़ गई है। वहीं, मैदानी...

रोडवेज की हड़ताल से परेशान यात्री, पहले यूपी फिर उत्तराखंड पहुंच रहे यात्री

उत्तराखंड रोडवेज की बसों से सफर करने वाले हजारों यात्रियों को आज भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रोडवेज की हड़ताल के चलते उत्तराखंड...

उत्तराखंड में 25 लाख में बिकी खाकी, दरोगा भर्ती कांड में विजिलेंस की जांच आगे बढ़ी

विजिलेंस अब दरोगा भर्ती धांधली के आरोपियों की संपत्तियों की जांच में जुट गई है। बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी पंतनगर विवि...

जोशीमठ संकट के बीच बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तारीख का एलान, इस दिन खुलेंगे धाम के कपाट

बसंत पंचमी के मौके बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की तारीख का एलान हो गया है. उत्तराखंड के चार धामों में एक भगवान बद्री...