Saturday, November 26, 2022
Home अंतरराष्ट्रीय जोशीमठ का झरना अब उगलेगा बिजली - बनेगा हिमालय का पहला जियोथर्मल इनर्जी प्लांट  

जोशीमठ का झरना अब उगलेगा बिजली – बनेगा हिमालय का पहला जियोथर्मल इनर्जी प्लांट  

हिमालय की शृंखला में खूबसूरत झरनों की कोई कमी नहीं है …. उत्तराखंड में इन्हीं झरनों से अब बिजली पैदा करने की तैयारी है। ये योजना तैयार की है हिमालय और पर्वत श्रंखलाओं पर काम करने वाले प्रतिष्ठित संस्थान वाडिया हिमालय भू विज्ञान संस्थान ने …. 

वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान ने जियोथर्मल तकनीक के आधार पर न सिर्फ ऐसे झरनों की खोज की है, बल्कि ग्रीन इनर्जी के रूप में जियोथर्मल इनर्जी का प्लांट स्थापित करने की तैयारी भी कर ली है । प्लांट की क्षमता पांच मेगावाट की होगी और यह हिमालयी क्षेत्र का पहला जियोथर्मल इनर्जी प्लांट भी होगा। हिमालयी क्षेत्र के इस पहले जियोथर्मल इनर्जी प्लांट की क्षमता 5 मेगावाट तय की गयी है 

वाडिया संस्थान के निदेशक डॉ. कालाचांद साई ने मीडिया से जानकारी साझा करते हुए बताया कि पावर प्लांट लगाने के लिए चमोली के जोशीमठ स्थित तपोवन के झरने को चुना गया है। यहां पर सतह का तापमान करीब 93 डिग्री सेल्सियस है, जबकि जमीन के भीतर यही तापमान 150 डिग्री सेल्सियस तक है। पावर प्लांट लगाने के लिए जमीन में करीब 400 मीटर तक ड्रिल किया जाएगा। इससे गर्म पानी अधिक फोर्स के साथ बाहर निकलेगा। प्लांट के जरिये गर्म पानी की भाप से बिजली तैयार की जाएगी।

 पानी को महज 70 डिग्री तापमान में ही उबालने वाली स्थिति में पहुंचाने वाले प्रोपेन व बाइनरी लिक्विड के मिश्रण का प्रयोग किया जाएगा। इससे पहले से अधिक गर्म पानी बिजली उत्पादन के लिए जल्द अधिक भाप पैदा करेगा।निदेशक डॉ. कालाचंद ने बताया कि संस्थान जियोथर्मल इनर्जी की दिशा में 10 साल से शोध कर रहा था। जियोथर्मल तकनीक के जरिये इस काम को अंजाम देने में संस्थान के वरिष्ठ विज्ञानी डॉ. संतोष कुमार राय व डॉ. समीर के तिवारी ने अहम भूमिका निभाई। प्रोजेक्ट तैयार करने की अवधि पांच साल रखी गई है।

वाडिया हिमालय भू विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉ. कालाचांद साई ने बताया कि 1970 में तपोवन के पानी का जो तापमान था, वही आज भी बरकरार है।  यहां के पानी में प्रति लीटर 30 मिलीग्राम कार्बन डाई ऑक्साइड निकल रहा है।

इतना ही नहीं इस बेहद ख़ास झरने के पानी में बोरोन (600 से 30 हजार माइक्रो इक्यूवेलेंट), हीलीयम (90 मिलीग्राम प्रतिलीटर) व लीथियम (50 से 3550 माइक्रो इक्यूवेलेंट) जैसे तत्व भी हैं। जिसको संसथान के वैगयानिक संरक्षित करने की तैयारी कर रहे हैं 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पूर्व विधायक संगठन के समर्थन में उतरे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करण मेहरा और पूर्व सीएम हरीश रावत

पूर्व विधायकों के संगठन को लेकर कुछ समय से राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं हो रही हैं। वहीं इस संगठन का कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष...

नगर निगम के घाटों की सफाई का जिम्मा अब सामाजिक और धार्मिक संस्थानों के कन्धों पर

धर्मनगरी हरिद्वार के गंगा घाटों की सफाई और सजावट का कार्य अब धर्मनगरी के सामाजिक और धार्मिक संस्थाएं करेंगी। कई संस्थान हैं जो नगर...

5 करोड़ का इनाम हत्यारोपी दिल्ली से गिरफ्तार, ऑस्ट्रेलियाई महिला की हत्या कर फरार था

विदेशी धरती पर एक विदेशी महिला की हत्या करने वाला आखिरकार चार साल दौड़ने और भागने के बाद दिल्ली पुलिस के शिकंजे में फंस...

रणवीर एनकाउंटर से जुड़ी बड़ी खबर, सुप्रीम कोर्ट से 5 दोषियों को मिली बेल

देहरादून के चर्चित रणवीर एनकाउंटर के दोषी पुलिसकर्मियों को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी है। तीन जुलाई 2009 में हुए कथित एनकाउंटर मामले...

निशंक के बयान पर हरीश रावत ने दी तीखी प्रतिक्रिया, हरिद्वार से चुनाव लड़ने की जाहिर की अभिलाषा

उत्तराखंड में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत हरिद्वार में भारत जोड़ो यात्रा की अगुवाई कर रहे हैं। वहीं बीजेपी भारत...

bollywood : अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज कॉपी की तो होगी मुश्किल

बॉलीवुड के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज को आज बहुत से लोग पैसे कमाने या ठगी के रूप में इस्तेमाल कर...

इनकम टैक्स की छापेमारी जारी, देहरादून और सहारनपुर में  होटल कारोबारी के 50 ठिकानों पर रेड

राजधानी देहरादून और यूपी के सहारनपुर में इनकम टैक्स की छापेमारी लगातार दूसरे दिन भी जारी है। देहरादून में कई कारोबारियों के ठिकानों पर...

जल्द पहाड़ों में ड्रोन की मदद से मरीजों को पहुंचाया जायेगा अस्पताल, ह्यूमन लिफ्टिंग ड्रोन की तकनीक पर किया जा रहा काम

अक्सर पहाड़ों के गांव से मरीजों को डंडी-कंडी के सहारे सड़क तक पहुंचाने और अस्पताल तक ले जाने की तस्वीरें अक्सर सामने आती हैं।...

उत्तराखंड में जल्द होगी कांस्टेबल भर्ती, सीएम धामी ने दी सैद्धांतिक मंजूरी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पिछले दिनों कांस्टेबल के रिक्त पदों पर जल्द भर्ती शुरू करने के निर्देश जारी किए। अब सीएम धामी से...

विधानसभा बैक डोर भर्ती पर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, स्पीकर के आदेश को कोर्ट ने ठहराया सही

हाईकोर्ट में उत्तराखंड विधानसभा सचिवालय से बर्खास्त कर्मचारियों को एकलपीठ के बहाल किए जाने के आदेश को चुनौती देती विधान सभा की ओर से...