Tuesday, April 23, 2024
उत्तराखंडराज्यराष्ट्रीय

Gallantry Award : कैप्टन अभिनंदन वर्धमान सहित उत्तराखंड के मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल को मिला वीरता का पुरुस्कार

भारत के सेना नायकों के लिए सोमवार का दिन बेहद ही खास हैं। भारतीय सेना के नायकों को आज वीरता पुरुस्कार से सम्मानित किया गया। बता दें कि 27 फ़रवरी 2019 को हुई घटना में पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को हवाई युद्ध में मार गिराने वाले वीर ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान थे, उनकी इस वीरता के लिए राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें अलंकरण समारोह में वीर चक्र से सम्मानित किया।

आपको बता दें कि 14 फरवरी 2019 पुलवामा हमले में पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने आत्मघाती हमला किया था। इस हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे। इसी के जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक एलान किया था। वायुसेना ने 26-27 फरवरी की रात पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी। भारतीय सेना के हमले में 300 से ज्यादा आतंकियों की मौत हो गई थी। जिसके बाद अगले दिन ही पाकिस्तान की वायुसेना ने भारत में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसे खदेड़ दिया। उसी दौरान विंग कमांडर अभिनंदन Mig-21 उड़ा रहे थे। उन्होंने इस दौरान पाकिस्तान के F-16 को मार गिराया था…… हालांकि बाद में अभिनंदन का विमान पाकिस्तान की सीमा में जा गिरा, जिसके बाद पाकिस्तान की सेना ने उन्हें अपनी हिरासत में ले लिया था। इसके बाद भारत दबाव के चलते पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे बाद अभिनंदन को छोड़ा था। छोड़ने के बाद पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई थी।

इसके साथ ही पुलवामा हमले के दौरान एनकाउंटर में शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल को भी भारत सरकार ने वीरता का इनाम दिया हालांकि यह शौर्य चक्र उन्हें मरणोपरांत दिया गया हैं। इस सम्मान को शहीद की पत्नी लेफ्टिनेंट निकिता कौल और माँ सरोज ढौंडियाल को दिया गया। शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल ने एनकाउंटर के दौरान पांच आतंकवादियों को मार गिराया था साथ ही 200 किलो विस्फोटक सामग्री भी बरामद की थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *