Saturday, April 13, 2024
राष्ट्रीयस्पेशल

Engineer’s Day 2021 : क्यों मनाया जाता है ये दिवस, जानिए इसका इतिहास..

-आकांक्षा थापा

15 सितम्बर को हर साल भारत में इंजीनियर्स डे मनाया जाता है। आज पूरे भारत में इंजीनियर्स डे मनाया जा रहा है, लेकिन इसके पीछे का क्या इतिहास है और क्या महत्व्व है वो जानना भी बेहद जरुरी है। आज का यह ख़ास दिन यानि ‘इंजीनियर्स डे’ भारत के महान इंजीनियर मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी को समर्पित है और भारत में हर वर्ष इनके जन्मदिवस पर ही इंजीनियर्स डे मनाया जाता है… मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी का जन्म 15 सितंबर 1860 को भारत के मैसूर (कर्नाटक) में हुआ था। यही वजह है की पूरे भारतवर्ष में 15 सितंबर को इंजीनियर्स डे के रूप में मनाया जाता है…

मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया को 1955 में अच्छे इंजीनियर के रूप में कार्य करने के लिए भारतरत्न से सम्मानित किया गया था। भारत देश के बड़े इंजीनियर्स का भारत के विकास में बहुत बड़ा योगदान रहा है और भारतीय इंजीनियर दुनिया के बड़े इंजीनियरों में से एक हैं। ‘इंजीनियर्स डे’ सभी इंजीनियर्स के सम्मान के लिए मनाया जाता है…

‘इंजीनियर्स डे’ क्यों मनाया जाता है?

15 सितंबर 1860 में मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी का जन्म हुआ था और हर वर्ष इसी दिन इंजीनियर्स डे मनाया जाता है। मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी का भारत में विशेष योगदान रहा हैं, इसीलिए उन्हें श्रद्धांजलि देने के तौर पर हर वर्ष इंजीनियर्स डे मनाया जाता है साथ ही इंजीनियर्स को सम्मानित करने के लिए इंजीनियर्स डे मनाने की शुरुआत की गई…
मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया भारत के लिए बहुत से विकास कार्य किये है, जैसे उन्होंने बहुत सी नदियों, नालों और बांधों का निर्माण कार्य किया था…यही नहीं बल्कि उन्होंने भारत में सिंचाई और पेयजल प्रणाली लाकर पूरे देश की सिंचाई पद्धति में बदलाव लाया था… साथ ही, इंजीनियरिंग क्षेत्र में उनके विशेष योगदान के लिए इन्हें ‘भारत रत्न’ पुरष्कार से भी सम्मानित किया गया था…

मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी बचपन से ही शिक्षा को महत्व देते थे और ये गरीबी और भुखमरी का कारण अशिक्षा को ही मानते हैं… मोक्षमुंडम विश्वेश्वरैया जी ने बहुत से आसाधारण कार्य किये गए थे… इनके द्वारा किये गए कार्यों में कृष्णराज सागर बांध का निर्माण, मैसूर संदल ऑइल एंड सोप फैक्ट्री, बैंक ऑफ मैसूर, भद्रावती आयरन एंड स्टील वर्क्स की स्थापना आदि हैं.

जानिए ‘इंजीनियर्स डे’ का महत्व…

भारत इंजीनियरिंग एवं आईटी के क्षेत्र में दुनिया का अग्रणी देश माना जाता है. भारत में बहुत सारे इंजीनियरिंग संस्थाएं हैं और इंजीनियरिंग के बहुत सारे कोर्स भी हैं. किसी भी देश को विकसित बनाने में इंजीनियर्स की मुख्य भूमिका रहती है. इंजीनियर्स को आधुनिक समाज की रीढ़ माना जाता है. बिना इंजीनियर के किसी भी देश का विकास असंभव है… इंजीनियर्स डे हर वर्ष में एक बार आकर बार बार दुनिया को जताता है कि इंजीनियर हमारे लिए कितने महत्वपूर्ण हैं और वे सम्मान के हकदार है.. . साथ ही सभी लोगों को इस कार्यक्षेत्र में आकर अपना योगदान देने के लिए प्रेरित करता है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *