Sunday, July 14, 2024
उत्तराखंडनैनीतालस्पेशल

उत्तराखण्ड : लालकुआं में खुला देश का पहला एरोमेटिक गार्डन, यहाँ हैं सुगंधित पौधों की 140 विभिन्न प्रजातियां

भारत का पहला एरोमेटिक गार्डन उत्तराखंड के लालकुआं में स्थित है… इस एरोमेटिक गार्डन का नाम सुरभि वाटिका है और वन विभाग के अनुसंधान प्रभाग द्वारा इसे बनाया गया है। आपको बता दें की इस गार्डन में करीब 140 प्रजातियों के पौधे है। देश के पहले एरोमेटिक गार्डन का महाराष्ट्र की वन टच एग्रीकान संस्था की संचालिका बीना राव तथा मुख्य वन संरक्षक अनुसंधान संजीव चतुर्वेदी ने संयुक्त रूप से विधिवत शुभारंभ करते हुए सगंध प्रजातियों को संरक्षित करने का संकल्प लिया।

कार्यक्रम के दौरान पौधों की 140 प्रजातियों के संबंध में प्रभागीय वनाधिकारी, अनुसंधान प्रभाग दीपचन्द्र पंत ने विस्तारपूर्वक अवगत कराया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए वन क्षेत्राधिकारी वन अनुसंधान केंद्र हल्द्वानी मदन बिष्ट ने बताया कि 1 हैक्टेयर क्षेत्र में स्थापित इस वाटिका में विभिन्न सगंध उपयोगी 140 प्रजातियों का रोपण किया गया है। जिसके चलते यह देश का पहला एरोमेटिक गार्डन बन गया है। जिसमें मुख्य रूप से तुलसी की 24 प्रजातियां, हल्दी एवं अदरक की 9 प्रजातियां एवं घास की 6 प्रजातियां, फूलों की 46 प्रजातियां सहित अन्य सगन्ध प्रजातियां भी शामिल है।


जानिए कौन-कौन सी प्रजातियां मौजूद हैं?
– तुलसी की 24
– हल्दी एवं अदरक की नौ
– घास की छह
– फूलों की 46 प्रजातियां

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *