Sunday, July 14, 2024
राष्ट्रीय

मॉडर्ना की वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल की मिली मंजूरी, देश को मिली चौथी कोरोना वैक्सीन

-आकांक्षा थापा

कोरोना को हराने के लिए भारत में ज़ोरो-शोरो से टीकाकरण अभियान चल रहा है… भारत पूरी दुनिया में सबसे ज़्यादा कोरोना वैक्सीन लगाने वाला देश बन गया है… यही नहीं, वैक्सीनेशन की रेस में भारत ने अमेरिका और ब्रिटेन को भी पीछे छोड़ दिया है। लेकिन, भारत की आबादी के हिसाब से कोरोना की वैक्सीन कम पड़ने लगी है…. इस बीच वैक्सीन की कमी से जूझ रहे भारत के लिए खुशखबरी है। भारत के ड्रग रेगुलेटर, ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने मॉडर्ना की कोविड वैक्सीन को भारत में आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। इसी के साथ, भारत में मंजूरी पाने वाली ये चौथी कोविड वैक्सीन है…. यानि की अब देश में कोवैक्सीन, कोविशील्ड, स्पुतनिक-वी और मॉडर्ना भी शामिल हैं।
देश में वैक्सीन की कमी की वजह से वैक्सीनेशन अभियान भी धीमा पड़ गया। अबतक कई लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज़ लग गयी है तो वही कई लोग ऐसे हैं जो पहली डोज़ को भी तरस रहे हैं… यहाँ तक की वैक्सीन के लिए स्लॉट खाली नहीं मिल रहे… वही सरकार पूरी कोशिश कर रही है की जल्द से जल्द सभी देशवासियों को टीका लग जाए।

आपको बता दें की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विकसित पहली वैक्सीन मॉडर्ना को ‘न्‍यू ड्रग परमिशन’ दिया गया है। वहीं , यह मंजूरी सीमित उपयोग के लिए है। नीति आयोग के सदस्‍य वीके पॉल ने यह जानकारी दी। इससे पहले बताया गया था कि भारत का दवा नियामक डीसीजीआई मॉडर्ना की कोविड वैक्‍सीन के आपात उपयोग को जल्द ही मंजूरी दे सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *