Wednesday, October 5, 2022
Home उत्तराखंड छठ पूजा 2021 : नहाय-खाय के साथ आज से छठ महापर्व की...

छठ पूजा 2021 : नहाय-खाय के साथ आज से छठ महापर्व की शुरुआत …

दीपावली के बाद अब छठ महापर्व आगाज़ हो गया है। छठ की शुरुआत आज नहाय-खाय के साथ हो गयी है, राजधानी दून में विभिन्न स्थानों पर नहाय-खाय और छठ मइया का पूजन होगा। महापर्व को लेकर पूर्वा सांस्कृतिक मंच और बिहारी महासभा की ओर से विभिन्न आयोजन किए जाएंगे। यह पर्व चार दिन तक चलता है, छठ को लेकर पूर्वांचल मूल के लोग खासे उत्साहित हैं।

छठ व्रत करने वाली महिलाएं और पुरुष स्नान और सात्विक भोजन के बाद व्रत शुरू करेंगे। व्रती लौकी, अरहर की दाल और कच्चा (अरवा) चावल के भात का भोजन करेंगे। वहीं, छठ पर्व के समापन के बाद ही व्रती नमक युक्त भोजन करेंगे। बता दें की छठ पर्व के तहत मंगलवार को घाटों पर मुख्य छठ पूजा होगी।

जानिए छठ पूजा का महत्व …

छठ पूजा की शुरुआत आज यानी 8 नवंबर से हो गयी है… छठ एकमात्र त्यौहार है, जिसमें डूबते सूर्य की पूजा की जाती है। पहली शाम डूबते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ अगली सुबह अर्घ्य देकर व्रत सम्पूर्ण होता है। यही वजह है की सूर्योपासना के इस पर्व को सूर्य षष्ठी भी कहा जाता है। 8 नवंबर को नहाय-खाए से छठ पूजा प्रारंभ होगी। 9 नवंबर को खरना, 10 नवंबर को डूबते सूर्य को अर्घ्य व 11 को उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ छठ पूजा का समापन होगा।

खरना वाले दिन महिलाएं व्रत रखती है, रात में खीर खाकर 36 घंटे का कठिन व्रत रखा जाता है। खरना के दिन छठ पूजा का प्रसाद बनाया जाता है। खरना के अगले दिन छठ मैया और सूर्य देव की पूजा की जाती है।  दून में मालदेवता, टपकेश्वर, नेहरु कॉलोनी रिस्पना पुल, नंदा की चौकी, नेहरुग्राम, प्रेमनगर, पटेलनगर, निरंजनपुर, माजरा, क्लेमउनटाउन आदि जगहों पर छठ पूजा के घाट बने हुए हैं। जहां पर बिहारी महासभा, पूर्वा सांस्कृतिक मंच समेत अन्य सामाजिक संगठन छठ पूजा की सार्वजनिक रुप से व्यवस्थाएं करते हैं। पिछली दफा कोविड के कारण बेहद सीमित रुप से इस उत्सव को मनाया गया था। लेकिन इस बार छठ पर अच्छी भीड़ भाड़ रहने की उम्मीद है।

नहाय-खाय : छठ पर्व का प्रथम दिन नहाए खाय से शुरू होता है। नहाए-खाय आठ नवंबर को है। 

– खरना : छठ व्रत का दूसरा दिन खरना नौ नवंबर को हैं। इस दिन पंचमी तिथि है। इसके बाद षष्ठी शुरू होगी। 

– सायंकालीन अर्घ्य : छठ पर्व के तीसरे दिन कार्तिक शुक्ल पष्ठी को पूर्ण उपवास होता है। यह व्रत दस नवंबर को है। 

– प्रात कालीन अर्घ्य : पष्ठी व्रत की पूर्णाहुति चतुर्थ दिन उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ होती है। 11 नवंबर को प्रातकालीन अर्घ्य दिया जाता है। 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Uttarkashi Avalanche: बर्फ के तूफान में लापता हुए 28 लोग, 2 की मौत, CM Dhami ने मांगी सेना से मदद

केदारनाथ के बाद अब द्रौपदी पर्वत में आया एवलॉन्च। एवलॉन्च के चलते बर्फीली पहाड़ियों पर फंसे 28 लोग, हादसे में 2 की मौत ।...

मास्टरमाइंड हाकम का रिसॉर्ट तोड़ने पहुंची टीम, धरने पर बैठ ग्रामीणों ने जताया विरोध

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक मामले में आरोपी मास्टमाइंड हाकम सिंह रावत का सांकरी स्थित रिजॉर्ट को गिराने के लिया पिछले दिनों...

शेयरों में दिखी गिरावट, अमीर लोगों की सूची में नीचे खिसके गौतम अदाणी

दुनिया के शीर्ष तीन अमीर कारोबारियों में शामिल भारतीय व्यवसायी गौतम अदाणी और एलन मस्कको एक दिन में लगभग 25 मिलियन डॉलर यानी 2...

टी20 वर्ल्ड कप में भारत को झटका, जसप्रीत बुमराह टी20 वर्ल्ड कप 2022 से हुए बाहर

सोमवार को बीसीसीआइ ने मुहर लगा दी कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह आगामी टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं। हालांकि उनके रिप्लेसमेंट...

नवमी पर सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने जिमाई कन्‍या, मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों का लिया आशीर्वाद

नवमी के दिन मंगलवार को उत्‍तराखंड भर में मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों की पूजा अर्चना की जा रही है। इस क्रम में मुख्‍यमंत्री...

उत्तराखण्ड में चीन सीमा पर दशहरा मनाएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आज पहुंचेंगे देहरादून

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उत्तराखंड में चीन सीमा पर स्थित अग्रिम चौकी पर सेना और आईटीबीपी के जवानों के साथ विजयादशमी मनाएंगे। इस मौके पर...

हरिद्वार को मिला देश के गंगा टाउन में पहला स्थान, लेकिन उत्तराखंड का सबसे गंदा शहर, पढिये पूरी खबर

राष्ट्रीय स्तर की ओवरआल रैंकिंग में पिछले साल 279वें स्थान पर रहा हरिद्वार इस वर्ष 300वें नंबर पर आ गया। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में...

Indian Air Force में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर ‘प्रचंड’, भारतीय वायुसेना को मिलेगी मदद

आजादी से लेकर अब तक भारत को सुरक्षित रखने में भारतीय वायु सेना की बड़ी शानदार भूमिका रही है। आंतरिक खतरे हों या बाहरी...

एसआइटी ने की रिसॉर्ट में बुकिंग करवाने वालों की पहचान, दर्ज किए जा रहे बयान

अंकिता हत्याकांड मामले में वीआईपी सर्विस देने के मामले से अभी भी पर्दा नहीं उठ पाया है। वहीं एसआइटी ने घटना से पहले व...

बाबा केदार के धाम पहुंचे राज्यपाल गुरमीत सिंह, पूजा अर्चना कर लिया आशीर्वाद

उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह आज बाबा केदार के दर्शन करने केदारनाथ धाम पहुंचे। उन्होंने बाबा केदार के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इसके...