Thursday, April 25, 2024
उत्तराखंडचमोली

चमोली आपदा में ध्वस्त पुल को जोडकर बीआरओ ने 13 गांवों को दी राहत, मुश्किल हालातों में 10 दिन में तैयार किया पुल

चमोली की ऋषिगंगा घाटी में आई आपदा अपने पीछे तबाही के वो निशान छोड़ गई है जिनको भरने में अभी काफी वक्त लगेगा…लेकिन बीआरओ आपदा के बाद आई मुश्किलों को दूर करने के लिए लगातार काम कर रही है…बीआरओ ने आपदा की भेंट चढ़े ऋषिगंगा नदी के ऊपर बने पुल को 10 दिन के अंदर तैयार कर ग्रामीणों की मुश्किलों को कम किया है…आपको बता दें कि आपदा के चलते बहने वाले इस पुल के चलते कई गांव अलग-थलग पड़ गए थे…

 

लोगों का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया था क्योंकि वो अपने घर से दूसरे इलाकों में नही जा पा रहे थे…लोगों की इस परेशानी के हल के लिए बीआरओ की टीम दिन रात कड़ी मशक्कत में लगी रही और दस दिन के भीतर इसे तैयार कर लिया…पुल के बन जाने से 13 गांव एक बार फिर आपस में जुड सकेंगे…आपको बता ददें कि ये पुल 40 टन भार क्षमता सह सकता है और इसकी लंबाई 190 मीटर है…आपदा के दर्द को भुलाने में अभी काफी वक्त लगेगा लेकिन लोगों की जिंदगियों की मुश्किलों को दूर करने में शासन-प्रशासन लगातार कार्य कर रहा है…

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *