Thursday, April 25, 2024
उत्तराखंड

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की एडवाइजरी, चैनलों को राष्ट्रीय महत्व और जनसेवा पर आधारित कार्यक्रम बनाने की सलाह

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। मंत्रालय के मुताबिक उसने कई ब्राडकास्टर्स औऱ चैनलों के एसोसियेशन के साथ बात करके यह फैसला लिया है। सूचना मंत्रालय ने टीवी चैनलों को आधे घंटे के लिए राष्ट्रीय महत्त्व एवं जनसेवा पर आधारित कंटेट बनाने को लेकर यह एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी मार्च 2023 से लागू होगी।
राष्ट्रीय महत्त्व पर मंत्रालय ने आठ विषयों की लिस्ट जारी की है। इस सूची में शिक्षा औऱ साक्षरता का प्रसार, कृषि औऱ ग्रामाण विकास, स्वास्थ्य औऱ परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, महिलाओं का कल्याण, समाज के कमजोर वर्गों का कल्याण, पर्यावरण एवं सांस्कृतिक विरासत की सुरक्षा और राष्ट्रीय एकता जैसे विषय शामिल हैं। मंत्रालय के अनुसार टीवी चैनलों को इन विषयों पर कार्यक्रम बनाने हैं लेकिन यह पूरी तरह से चैनलों पर निर्भर करता है कि वे किस तरह के कार्यक्रम बनाते हैं।
एडवाइजरी के अनुसार सभी ब्राडकास्टर्स को हर महीने एक रिपोर्ट मंत्रालय के पोर्टल पर अपलोड करना होगा। शो आधे घंटे का हो, ये जरुरी नहीं है, वह छोटे-छोटे पार्ट्स में भी हो सकता है। पब्लिक सर्विस ब्राडकास्टिंग के अनुसार राष्ट्रीय महत्त्व एवं जनहित के अन्तर्गत एक सप्ताह में 15 घंटे का प्रसारण होना चाहिए। एडवाइजरी में एक ई-पोर्टल बनाने की बात भी कही गयी है, जिसमें कार्यक्रम के वीडियो अपलोड किए जा सकें।
मंत्रालय ने नवंबर 2022 में अपलिंकिंग औऱ डाउनलिंकिंग के लिए दिशा-निर्देश जारी किए थे। इसी दिशा-निर्देश में राष्ट्रीय महत्त्व एवं जनहित को लेकर कंटेंट दिखाने की बात कही गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *