Saturday, November 26, 2022
Home अंतरराष्ट्रीय इन 10 देशों में अबतक एक भी कोरोना संक्रमण का मामला नहीं,...

इन 10 देशों में अबतक एक भी कोरोना संक्रमण का मामला नहीं, जानिए इसके पीछे की वजह

कोरोनावाइरस संक्रमण, यानि एक ऐसी चीज जिसने हमारे जीने का तरीका पूरी तरह से बदल दिया। लगभग दो साल हो गए हैं इस महामारी को दुनिया में कहर बरपाते हुए, लेकिन अब भी इसका प्रकोप उतना ही है। समय के साथ-साथ वाइरस ने भी नित नए-नए रूप लिए, अलग-अलग वैरिएंट के साथ इंसानों पर कहर बरपाया। महामारी ने हर एक क्षेत्र को प्रभावित किया, बिज़नेस, ट्रेवल, स्वास्थ व् चिकित्सा, शैक्षिक संस्थान इत्यादि। भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया ने इस महामारी से जूझा और कई देशो में आज भी हालात नियंत्रण से बाहर हैं। लेकिन कुछ देश ऐसे भी हैं जहाँ आजतक कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया…आपको ये बात जानकर हैरानी होगी कि कुछ देशों में साल 2019 के बाद से अब तक एक भी कोविड-19 का मामला सामने नहीं आया है… .. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार इन दस देशों में जीरो केस दर्ज किए गए हैं. इन देशों और क्षेत्रों में से अधिकांश प्रशांत और अटलांटिक महासागरों में द्वीप पर स्थित हैं और ऐसी संभावना है कि वे केवल समुद्र की सीमा के कारण ही बीमारी से बच सके हैं…

इन 10 देश हैं कोरोना संक्रमण मुक्त –

तुवालू- दक्षिण प्रशांत में स्थित इस स्वतंत्र द्वीपीय देश ने कोरोना वायरस के संक्रमण को अपने तटों तक पहुंचने से रोक दिया है. इस देश ने अपनी सीमाएं बंद कर दीं और कुछ मामलों में क्वारंटीन अनिवार्य किया. तुवालू चार द्वीप और पांच एटाल से मिलकर बना है. डब्ल्यूएचओ के अनुसार, यहां प्रति 100 लोगों की आबादी पर करीब 50 का पूरी तरह टीकाकरण हो गया है.

तुर्कमेनिस्तान- मध्य एशियाई देश तुर्कमेनिस्तान में कोरोना वायरस का एक भी मामला नहीं मिला है. जिसपर यकीन कर पाना मुश्किल है. इस देश की सीमा उज्बेकिस्तान और अफगानिस्तान से लगती है. यह काफी हद तक काराकुम रेगिस्तान से कवर है और इसके एक ओर कैस्पियन सागर है. डब्ल्यूएचओ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इससे पहले बताया था कि इस बात की बहुत कम संभावना है कि तुर्कमेनिस्तान में वायरस नहीं फैल रहा क्योंकि दुनिया दो साल से इससे जूझ रही है.

उत्तर कोरिया- तुर्कमेनिस्तान की तरह ही उत्तर कोरिया ने भी अभी तक कोरोना का कोई केस मिलने की पुष्टि नहीं की है. यहां तानाशाह किम जोंग उन का शासन चलता है. जिन्होंने देश की सीमाएं भी बंद कर दी हैं.

तोकेलाऊ- यह देश दक्षिण प्रशांत महासागर में तीन उष्णकटिबंधीय प्रवाल द्वीपों से मिलकर बना है. यहां भी वायरस का कोई मामला नहीं मिला है. करीब 1500 लोगों की आबादी वाले इस देश में कोई एयरपोर्ट नहीं है. इसके पास का द्वीपय देश न्यूजीलैंड है, जहां जहाज से जाया जा सकता है.

सेंट हेलेना- यह दक्षिण अटलांटिक महासागर में एक ब्रिटिश प्रवासी क्षेत्र है. सेंट हेलेना को दुनिया के सबसे दूरस्थ क्षेत्रों में से एक माना जाता है. डब्ल्यूएचओ के अनुसार, यहां प्रति 100 लोगों की आबादी पर दी जाने वाली कुल वैक्सीन डोज की संख्या 138 है.

पिटकेर्न द्वीप समूह- ये प्रशांत महासागर में चार ज्वालामुखी द्वीपों का समूह है. सीआईए वेबसाइट पर कंट्री प्रोफाइल के अनुसार, यहां निवासियों की जनसंख्या 50 है और उनमें से अधिकांश एडमस्टाउन गांव के पास रहते हैं.

नियू- यह द्वीपय देश दुनिया के सबसे बड़े प्रवाल द्वीपों में से एक है, जो न्यूजीलैंड से लगभग 2,500 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. न्यूजीलैंड ने कोविड -19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में नियू का समर्थन किया है.

नाउरु- यह आकार के हिसाब से दुनिया का तीसरा सबसे छोटा देश है…. नाउरु किरिबाती का पड़ोसी है. देश में कोविड-19 का एक भी मामला नहीं मिला है. .. स्थानीय प्रशासन ने संक्रमण को रोकने के लिए यात्रा प्रतिबंध भी लगाए हैं…

किरिबाती- यह हवाई से 3,200 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में स्थित है… यहां प्रशासन ने यात्रा प्रतिबंध जल्दी लगा दिए थे और यहां मुट्ठी भर फ्लाइट ही आती हैं, जिसके कारण इन नियमों को लागू करना आसान था. इसी वजह से यहां कोरोना वायरस का कोई केस नहीं मिला है…

माइक्रोनेशिया- माइक्रोनेशिया 600 से अधिक द्वीपों से बना है. इस देश को डब्ल्यूएचओ के साथ-साथ अमेरिका, चीन और जापान जैसे देशों से कोविड-19 को रोकने में मदद मिली है…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पूर्व विधायक संगठन के समर्थन में उतरे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करण मेहरा और पूर्व सीएम हरीश रावत

पूर्व विधायकों के संगठन को लेकर कुछ समय से राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं हो रही हैं। वहीं इस संगठन का कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष...

नगर निगम के घाटों की सफाई का जिम्मा अब सामाजिक और धार्मिक संस्थानों के कन्धों पर

धर्मनगरी हरिद्वार के गंगा घाटों की सफाई और सजावट का कार्य अब धर्मनगरी के सामाजिक और धार्मिक संस्थाएं करेंगी। कई संस्थान हैं जो नगर...

5 करोड़ का इनाम हत्यारोपी दिल्ली से गिरफ्तार, ऑस्ट्रेलियाई महिला की हत्या कर फरार था

विदेशी धरती पर एक विदेशी महिला की हत्या करने वाला आखिरकार चार साल दौड़ने और भागने के बाद दिल्ली पुलिस के शिकंजे में फंस...

रणवीर एनकाउंटर से जुड़ी बड़ी खबर, सुप्रीम कोर्ट से 5 दोषियों को मिली बेल

देहरादून के चर्चित रणवीर एनकाउंटर के दोषी पुलिसकर्मियों को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी है। तीन जुलाई 2009 में हुए कथित एनकाउंटर मामले...

निशंक के बयान पर हरीश रावत ने दी तीखी प्रतिक्रिया, हरिद्वार से चुनाव लड़ने की जाहिर की अभिलाषा

उत्तराखंड में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत हरिद्वार में भारत जोड़ो यात्रा की अगुवाई कर रहे हैं। वहीं बीजेपी भारत...

bollywood : अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज कॉपी की तो होगी मुश्किल

बॉलीवुड के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज और इमेज को आज बहुत से लोग पैसे कमाने या ठगी के रूप में इस्तेमाल कर...

इनकम टैक्स की छापेमारी जारी, देहरादून और सहारनपुर में  होटल कारोबारी के 50 ठिकानों पर रेड

राजधानी देहरादून और यूपी के सहारनपुर में इनकम टैक्स की छापेमारी लगातार दूसरे दिन भी जारी है। देहरादून में कई कारोबारियों के ठिकानों पर...

जल्द पहाड़ों में ड्रोन की मदद से मरीजों को पहुंचाया जायेगा अस्पताल, ह्यूमन लिफ्टिंग ड्रोन की तकनीक पर किया जा रहा काम

अक्सर पहाड़ों के गांव से मरीजों को डंडी-कंडी के सहारे सड़क तक पहुंचाने और अस्पताल तक ले जाने की तस्वीरें अक्सर सामने आती हैं।...

उत्तराखंड में जल्द होगी कांस्टेबल भर्ती, सीएम धामी ने दी सैद्धांतिक मंजूरी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पिछले दिनों कांस्टेबल के रिक्त पदों पर जल्द भर्ती शुरू करने के निर्देश जारी किए। अब सीएम धामी से...

विधानसभा बैक डोर भर्ती पर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, स्पीकर के आदेश को कोर्ट ने ठहराया सही

हाईकोर्ट में उत्तराखंड विधानसभा सचिवालय से बर्खास्त कर्मचारियों को एकलपीठ के बहाल किए जाने के आदेश को चुनौती देती विधान सभा की ओर से...