Thursday, February 22, 2024
अल्मोड़ाउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरकोविड 19चमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरराजनीतिराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागहरिद्वार

GOOD NEWS – आपका ब्लड ग्रुप “O” है तो बधाई – नहीं होगा Corona –

केदार बद्री और चीन सीमा पर बर्फ़बारी से बढ़ी पहाड़ में ठंड – 

उत्तराखंड में केदारनाथ और बदरीनाथ धाम में हुयी बर्फ़बारी ने चारधाम यात्रियों को जहाँ रौनक का अनुभव कराया है वहीँ उनकी मुसीबत भी बढ़ा दी है। ठिठुरन और सर्द  हवाओं से पहाड़ के इन हिस्सों में जहाँ नल और नाले जम गए है वहीँ घरों की छतों पर पाले की मोटी परत जमने से लोगों को कड़ाके की सर्दी का सामना करना पड़ रहा है। बदरीनाथ में हल्की बर्फबारी और बारिश से तापमान  गिर गया है…..    ऐसी हालत में तीर्थयात्रियों के पास लकड़ियों के अलाव जलाकर राहत पाने का ही एक सहारा बचा है जिसका वो लुत्फ़ भी ले रहे हैं …. उधर, नर नारायण पर्वत, नीलकंठ और हेमकुंड साहिब में भी भारी बर्फबारी शुरू हो गयी  है।   उच्च हिमालयी क्षेत्रों में चीन सीमा पर स्थित भारतीय सेना की चौकियों में भी बर्फबारी होने का सिलसिला शुरू हो गया है। दुंग, बमरास, ओल्ड दुंग चौकियों में बर्फबारी ने मौसम का मिज़ाज़ बिगाड़ दिया है। चौकियों के आसपास बर्फ की सफेद चादर बिछ गई। इन चौकियों में कहीं कहीं तो तापमान माइनस में भी पहुंच गया है। 

 

भगवा रंग में रंगी जाएगी हरिद्वार कुम्भ नगरी –


 हरिद्वार में होने जा रहे कुम्भ पर भगवा रंग नज़र आने वाला है…… जी हाँ शासन में हुईं मुख्य सचिव की बैठक से जो खबर आयी है उसके मायने तो यही है…… डामकोठी से लेकर सर्वानंद घाट तक करीब चार किमी के क्षेत्र में 151 भवन चिह्नित किए गए। प्राधिकरण और मेला प्रशासन की संयुक्त टीम भवन स्वामियों के पास पहुंची और उनके समक्ष भवनों को भगवा और गहरे पीले रंग से रंगवाने का प्रस्ताव रखा। शासन को मिली स्वीकृति के मुताबिक भवन स्वामियों ने इसके लिए अपनी सहमति दे दी है।  व्यापारियों और होटल एसोसिएशन से जुड़े लोगों के साथ बैठक हुई जिसमें उन्होंने अपनी पसंद के हिसाब से भगवा और गहरे पीले रंग से भवन का रंग करने पर सहमति दे दी। योजना के मुताबिक मंदिरों का भगवा रंग मेला प्रशासन की ओर से किया जाएगा।यानी इस बार हरिद्वार का किनारा एक दम अनोखा और अद्भुत नज़र आने वाला है। 

 

आज से देहरादून से दिल्ली बस का सफर हुआ आसान , 180 बसों का संचालन शुरू –

अगर आप कोरोना की वजह से लम्बे समय से दिल्ली नहीं गए और आपका प्रोग्राम बनते बनते रह जाता था तो ये खबर आपको राहत देगा।  आज से बाकायदा रोडवेज ने दिल्ली के कश्मीरी गेट व आनंद विहार बस अड्डे के लिए 180 बसों का संचालन शुरू कर दिया है । कोरोना काल में अंतरराज्यीय परिवहन शुरू होने के बाद भी दिल्ली ने बाहरी राज्यों की रोडवेज बसों को अपने आइएसबीटी पर प्रवेश की मंजूरी नहीं दी थी लेकिन अब आज तीन नवंबर से बसों को मंजूरी मिल गयी  है। बीते लम्बे समय से इन  बसों के दिल्ली मार्ग पर कौशांबी तक ही संचालित होने से दिल्ली जाने वाले यात्रियों पर समय व किराये की दोहरी मार पड़ रही थी। वह कौशांबी से दूसरे विकल्पों से दिल्ली पहुंच रहे थे। अब उनकी यह परेशानी दूर हो गई है। देहरादून, हरिद्वार, ऋषिकेश, कोटद्वार, रुड़की, श्रीनगर से संचालित होने वाली सभी बसें कश्मीरी गेट आइएसबीटी जाएंगी। बाकी बसें आनंद विहार अड्डे से संचालित होंगी। बताया गया कि इस मर्तबा दिल्ली आइएसबीटी प्रबंधन द्वारा बसों की एंट्री व वेटिंग का किराया काफी बढ़ा दिया है। चालकों को हिदायत दी गई है कि तय समय से बसें बाहर निकाल लें, वरना जो जुर्माना लगेगा, उसकी भरपाई चालक-परिचालक से की जाएगी।  

 अगर आपका ब्लड ग्रुप O है तो बधाई – नहीं होगा Corona –

अगर आपका ब्लड ग्रुप ओ है तो ये आपके लिए थोड़ी रहत भरी खबर है क्यूंकि एक अहम् रिसर्च में पता चला है कि ओ ब्लड ग्रुप वाले लोगों में कोविड का संक्रमण होने की संभावना बेहद कम होती है। ऑस्ट्रेलियाई शोधकर्ताओं ने दस लाख से ज्यादा लोगों के डीएनए के डाटाबेस के आधार पर यह दावा किया है। रिसर्च से जुड़े वैज्ञनिको का दावा है कि अगर ओ ब्लड ग्रुप वाला कोई शख्स कोरोना से संक्रमित हो भी जाता है तो भी उसकी हालत गंभीर होने की संभावना न के बराबर होती है। ऑस्ट्रेलिया के बेकर हार्ट एंड डायबिटीज इंस्टीट्यूट के सीनियर रिसर्च फेलो जेम्स मैकफेडयेन ने कहा कि यह बेहद रोचक खुलासा है कि संक्रमण होने या उसके गंभीर स्तर पर पहुंचने की संभावना में ब्लड ग्रुप का भी प्रभाव देखा गया है। । मैकफेडयेन का कहना है कि कोरोना वायरस में एक स्पाइक प्रोटीन होता है, जो किसी कोशिका के साथ जुड़कर उसे संक्रमित करने के साथ तेजी से बढ़ता है। अब ये बात सामने आयी है कि ओ ब्लड ग्रुप में कुछ ऐसी प्राकृतिक एंटीबॉडी होती हैं, जो कोविड की आशंका को कम करती है।आपको बता दें कि खाट तौर पर चार ब्लड ग्रुप ए, बी, एबी और ओ होते हैं। इसमें ओ सबसे सामान्य रक्त समूह है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *