Wednesday, February 28, 2024
अल्मोड़ाउत्तर प्रदेशउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरकोविड 19चमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदिल्लीदेहरादूननैनीतालपंजाबपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरबिहारराज्यराष्ट्रीयरुद्रप्रयागहरिद्वार

उत्तराखंड देश के टॉप पांच मंहगे राज्यों में शामिल 

उत्तराखंड देश के टॉप पांच मंहगे राज्यों में शामिल हो गया है …. जी हाँ केंद्रीय सांख्यिकी मंत्रालय की ओर से जारी की गयी उपभोक्ता मूल्य सूचकांक में ये चौकाने वाली खबर सामने आयी है।  आपको यहाँ बता दें कि पिछले एक साल में राज्य में 7.93 प्रतिशत महंगाई बढ़ गयी है …  एक साल में उत्तराखंड का मंहगे राज्यों में शुमार होना राज्य के लिए एक झटका माना जा रहा है। मीडिया में आयी इस खबर पर इन दिनों बाजार में खासी चर्चा है ….

आर्थिक मामलों के जानकार मानते हैं कि उत्तराखंड में महंगाई को पहाड़ के बदलते मौसम के साथ जोड़ कर देखा जाता है। लोग मानते हैं कि मानसून में उपभोक्ता वस्तुओं के दाम बढ़ते हैं। केंद्रीय सांख्यिकी मंत्रालय की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में पिछले साल अगस्त माह की तुलना में इस साल अगस्त माह में महंगाई दर में 7.93 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। यही वजह है कि आज  उत्तराखंड देश के पांच शीर्ष राज्यों में शामिल हो गया है। वहीं हिमाचल प्रदेश की बात करें तो महंगाई पर अंकुश लगाने के मामले में उत्तराखंड से बेहतर साबित हुआ है। वहीँ दिल्ली भी उपभोक्ता वस्तुओं की महंगाई पर नियंत्रण लगाने के मामले में उत्तराखंड से बेहतर ही साबित हुआ है। 


महंगाई दर और राज्यों की मौजूदा स्थिति —-
राज्य                दर
असम –           9.52
पश्चिम बंगाल –  9.44
उड़ीसा –         8.17
तेलंगाना –       8.38
उत्तराखंड –     7.93
उत्तर प्रदेश –   7.03
हिमाचल –      4.18
दिल्ली –         3.58

उत्तराखंड में ख़ास पहलू ये है कि पहाड़ के ग्रामीण क्षेत्रों में महँगाई ज्यादा है। ग्रामीण क्षेत्रों में यह दर 8.10 और शहरी क्षेत्रों में 7.68 है। इसका कारण ये भी माना जा रहा है कि ग्रामीण क्षेत्र  उपभोक्ता वस्तुओं के मामले में यहाँ के शहरों और ट्रांसपोर्ट पर निर्भर रहते हैं  ऐसे में उत्तराखंड में मानसून के दौरान कीमतों में उछाल आ जाता है। लेकिन वजह जो भी हो लेकिन कोरोना संकट के बीच उत्तराखंड में बढ़ती मंहगाई के बोझ से जनता की जेब तो ढीली हो ही रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *