Tuesday, April 23, 2024
उत्तराखंडराज्य

IAS ओमप्रकाश को मिलेगा वफादारी का इनाम – बनेंगे राज्य के मुख्य सचिव !

उत्तराखंड में नए मुख्य सचिव की खोज लगभग पूरी हो गयी है। अगर अंदरखाने कसे आ रही खबर पर यकीन करें तो सूबे में मुख्यमंत्री के बेहद विश्वासपात्र माने जाने वाले सीनियर आईएएस ओम प्रकाश प्रदेश के अगले मुख्य सचिव होंगे।1987 बैच के आइएएस और नौकरशाही में मौजूदा वरिष्ठतम अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश का नाम बीते कई दिनों से सचिवालय में तैर रहा है। मौजूदा मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह के  31 जुलाई को कार्यमुक्त होने के बाद आईएएस ओम प्रकाश संभवतः अपना नया पदभार उसी समय ग्रहण करेंगे। 

बीते लम्बे समय से केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य हों या कोरोना महामारी के बीच सरकार की नीतियों को लागू करवाना हो मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने सक्रिय भूमिका निभाई है अब माना जा रहा है की त्रिवेंद्र सरकार जल्द ही उन्हें कोई बड़े पद से नवाज़ सकती है। 

अब बात ओमप्रकाश की करें तो आईएएस ओम प्रकाश का नाम उन वरिष्ठ आइएएस में शामिल हैं, जो राज्य बनने के बाद से उत्तराखंड में कार्यरत रहे हैं। वर्तमान में वह मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अपर मुख्य सचिव भी हैं। उनकी गिनती मुख्यमंत्री के भरोसेमंद अफसरों में होती है। हांलाकि इसके पहले नए मुख्य सचिव की लिस्ट में उत्तराखंड कैडर के 1985 बैच के केंद्र सरकार में सचिव अनूप वधावन को भी बताया जा रहा था। लेकिन खबर है कि वो  उत्तराखंड आने के मूड में नहीं हैं। इधर सचिवालय और मुख्यमंत्री कार्यालय के संकेतों की भाषा को समझें तो त्रिवेंद्र सरकार फिलहाल नए मुख्य सचिव को लेकर आइएएस वरिष्ठताक्रम को छेड़ने के पक्ष में नहीं है। 

वर्तमान में सूबे में कार्यरत आइएएस में ओमप्रकाश सबसे सीनिएर हैं। इस दौरान अभी उनकी सेवानिवृत्ति में डेढ़ साल का कार्यकाल अभी बचा हुआ है दूसरी तरफ बात अन्य विकल्पों  की करें तो केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर कार्यरत 1988 बैच के आइएएस डॉ एसएस संधू और 1988 बैच की अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी हैं। इन दोनों ही अधिकारियों के आगे मुख्य सचिव बनने के रास्ते अभी खुले हैं। ऐसे में आईएएस ओम प्रकाश की ताजपोशी महज औपचारिकता ही मानी जा रही है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *