Monday, June 24, 2024
उत्तराखंड

उत्तराखण्ड के राजस्व अभिलेखों में दर्ज तालाब एक साल के भीतर होंगे पुनर्जीवित-सीएम

देहरादून– विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अपने जीएमएस रोड स्थित भागीरथीपुरम आवास पर वृक्षारोपण किया। सीएम ने जामुन का पेड़ लगाया। इस मौके पर सीएम ने जल संरक्षण और जलवायु परिवर्तन को लेकर एक बड़ी घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर राजस्व अभिलेखों में दर्ज तालब-जल निकायों को पुनर्जीवित करने की घोषणा की है। सीएम ने कहा है कि राज्य में स्थित समस्त गांवों एवं गांवों के आस-पास के क्षेत्र में स्थित तालाबों-जल निकायों, जो राजस्व अभिलेखों में दर्ज हैं, उन सब का अगले 1 वर्ष में पुनर्जीवन किया जाएगा। साथ ही वित्तीय वर्ष 2022-23 में जलवायु परिवर्तन सम्बन्धी कार्यों को मुख्यधारा में लाने के लिये राज्य में क्लाइमेट बजटिंग प्रारम्भ किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि प्रत्येक व्यक्ति एक-एक वृक्ष लगाकर पर्यावरण संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे। पर्यावरण की सुरक्षा आम आदमी के जीवन से जुड़ा विषय है। पर्यावरण का संरक्षण हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस की थीम पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली है। इकोसिस्टम रेस्टोरेशन के तहत पेड़ लगाकर एवं पर्यावरण की रक्षा कर हमें प्रदूषण के बढ़ते स्तर को कम करने और इकोसिस्टम पर बढ़ते दबाव को कम करने की दिशा में विशेष ध्यान देना होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *