Saturday, March 2, 2024
उत्तर प्रदेश

बरेली में मोबाइल की लत और गुस्से ने छात्र को बनाया अपराधी, लोट्स इंस्टीयूट के चेयरमैन को मारी गोली

बरेली में एंड्रायड मोबाइल की लत और मामूली बात पर गुस्सा होने की आदत ने बीफार्मा के छात्र श्रेष्ठ सैनी को अपराधी बना दिया। उसने बुधवार को लोट्स इंस्टीयूट ऑफ मैनेजमेंट के चेयरमैन अभिषेक अग्रवाल को गोली मार दी। इसके बाद फरार हो गया। कॉलेज चेयरमैन की पत्नी रामपुर गार्डन निवासी अर्चना अग्रवाल की ओर से छात्र के खिलाफ फरीदपुर थाने में रिपोर्ट कराई गई है। श्रेष्ट सैनी को मोबाइल लाने पर कॉलेज के कर्मचारी से अभद्रता के आरोप में निलंबित किया गया था। इससे क्षुब्ध छात्र बुधवार दोपहर चेयरमैन के ऑफिस में गया और तमंच से उन पर गोली दाग दी। गनीमत रही कि ऐन वक्त पर उन्होंने गर्दन घुमा ली। गोली उनके दाहिने गाल को रगड़ते हुए निकल गई।
भोजीपुरा मेडिकल कॉलेज में उन्हें भर्ती कराया गया, जहां ऑपरेशन के बाद उनकी हालत खतरे से बाहर है। लोट्स इंस्टीटयूट प्रबंधन ने नियम बना रखा है कि छात्र-छात्राएं कॉलेज में एंड्रायड मोबाइल नहीं लाएंगे। विधार्थी केवल कीपैड वाला सादा मोबाइल परिसर में ला सकते हैं। एंड्रायड मोबाइल लाने पर 500 रूपये जुर्माना वसूलने का प्रावधान है। श्रेष्ठ सैनी एंड्रायड मोबाइल रखता और सोशल मीडीया पर भी सक्रिय रहता था। वह इंस्टीटयूट में भी मोबाइल ले जाता था।
फैकल्टी मैनजर डॉ. प्रेम ने बताया कि बृहस्पतिवार को प्रवक्ता आलोक कुमार क्लास में पढ़ा रहे थे। इस दौरान श्रेष्ठ मोबाइल चला रहा था। आलोक ने उसका मोबाइल लेकर प्रवक्ता उजमा के पास जमा कर दिया था। छात्र श्रेष्ट ने 500 रूपये जुर्माना देकर मोबाइल तो ले लिया, लेकिन आलोक कुमार से अभद्रता करने लगा। डॉ. प्रेम ने उसे समझाया पर वह नहीं माना। इसके बाद उसे उसी दिन इंस्टीटयूट से निलंबित कर दिया था। उसकी कॉलेज में एंट्री भी बैन कर दी गई थी।
बुधवार सुबह 9 बजे श्रेष्ठ सैनी कॉलेज पंहुचा। गेट पर गार्ड विनय मिश्रा ने रोक दिया। बाद में वह पीछे के हिस्से से इंस्टीटयूट की बाउंड्रीवॉल फांदकर अंदर घुस गया और कॉलेज चेयरमैन अभिषेक अग्रवाल के ऑफिस में जा पहुंचा। माना जा रहा है कि वहां चेयरमैन से कहासूनी के बाद दोपहर पौन बजे उसने चेयरमैन पर गौली चला दी। बरेली से पहुंची फोरेंसिक टीम ने चेयरमैन के ऑफिस में बारीकी से जांच कई अहम साक्ष्य जुटाए। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी के घर बरेली के जाटवपुरा में दबिश दी, लेकिन वह नहीं मिला। बताया जा रहा है कि पुलिस ने उसके परिजनों को हिरासम में लिया है। हालांकि पुलिस आरोपी को खोजने में लगी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *