Thursday, February 22, 2024
अंतरराष्ट्रीय

यूक्रेन में फंसे भारतीय और विदेशी छात्रों की जान बचा रहा तिरंगा, पाकिस्तानी छात्रों ने भी थामा भारत का झंडा

रूस-यूक्रेन की भीषण जंग के बीच ऐसे भी तस्वीरें सामने आ रही हैं जिन पर हर भारतीय गर्व महसूस कर रहा है। रूसी सेना के हमलों के बीच यूक्रेन से निकल रहे भारतीय छात्र अपने वाहन और हाथ में भारतीय तिरंगा लेकर चल रहे हैं। और भारतीय झंडे को देख रूसी सेना गोलीबारी रोक दे रही है। इतना ही नहीं भारतीय झंडे को देख यूक्रेनी पुलिस और सेना भी लोगों की मदद कर रही है। युद्ध भूमि में भारतीय तिरंगे को मिल रहे सम्मान का केवल भारतीय छात्रों को फायदा नहीं हुआ है बल्कि कई दूसरे विदेश छात्र भी अपने देश के झंडे के बजाए भारतीय तिरंगा हाथ में लेकर चल रहे हैं। यहां तक की पाकिस्तान के छात्रों ने भी युद्ध भूमि से निकलने के लिये हाथ में तिरंगा उठा लिया है। ऐसी कई तस्वीरें और वीडियो सामने आ रहे हैं, जिनमें तिरंगा लगी गाड़ी देख यूक्रेनी और रूसी सैनिक गोलीबारी रोक दे रहे हैं। यूक्रेन से लौटे भारतीय छात्रों ने ऐसी ही खबर सुनाई है, उनका कहना है कि जान बचाने के लिए पाकिस्तानी और तुर्की के छात्र अपने देश के झंडे के बदले भारत के तिरंगे की शरण ले रहे हैं। छात्रों ने बताया कि तिरंगा देखकर रूसी सैनिकों ने भी मदद की और रोमानिया तक पहुंचाया। ओड़िसा से एक छात्र का कहना यह भी है कि उन्हें पहले ही निर्देश मिल गए थे कि तिरंगा साथ लिए चलोगे तो कोई परेशानी नहीं होगी इसलिए हमने बाजार से तिरंगे रंग के स्प्रे लिए और एक पर्दा खरीद लिया परदे को काट कर दो तिरंगे बना लिए। भारत के छात्र बतातें है कि उन्होंने बस के बाहर दो तिरंगे लगा रखे थे, जैसे ही सैनिकों ने तिरंगे देखे उन्होंने गोलीबारी रोक दी और हमें जाने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *