Wednesday, February 1, 2023
Home उत्तराखंड अल्मोड़ा चाय विकास बोर्ड का मुख्यालय होगा गैरसैंण में , मुख्यमंत्री ने दिए...

चाय विकास बोर्ड का मुख्यालय होगा गैरसैंण में , मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

राज्य में 04 नई चाय फैक्ट्रिया की जाएंगी स्थापित

टी-गार्डन विकसित कर किसानों को बनाया जाए सह-मालिक

अगले एक माह में तैयार किया जाए इस सम्बन्ध में माॅडल

बागान में उत्पादित चाय की हरी पत्तियों के न्यूनतम विक्रय मूल्य निर्धारण के लिए समिति गठित करने के निर्देश

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में आज  मुख्यमंत्री आवास में चाय विकास बोर्ड की बैठक आयोजित हुई। बोर्ड बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र ने निर्देश दिए कि चाय विकास बोर्ड का मुख्यालय ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में स्थापित किया जाए। उन्होंने जिलाधिकारी चमोली को इसके लिए जमीन तलाशने के निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र ने कहा कि किसानों को बाजार उपलब्ध कराने हेतु राज्य में 04 नई फैक्ट्रियाँ स्थापित की जाएं। साथ ही, चाय बागानों से उत्पादित हरी पत्तियों के न्यूनतम विक्रय मूल्य को निर्धारित करने हेतु एक समिति भी गठित की जाए। यह समिति प्रत्येक वर्ष हेतु न्यूनतम विक्रय मूल्य निर्धारित करेगी। उन्होंने कहा कि न्यूनतम विक्रय मूल्य फार्मगेट मूल्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि टी-गार्डन विकसित करने में चाय विशेषज्ञ अवश्य रखा जाए।


मुख्यमंत्री ने कहा कि चाय विकास बोर्ड द्वारा टी-गार्डन विकसित कर काश्तकारों को सौंप दिया जाए। इसके लिए अगले एक माह में एक व्यवहारिक माॅडल तैयार करते हुए कार्ययोजना तैयार की जाए। इस माॅडल को तैयार करने में काश्तकारों के सुझावों को भी शामिल किया जाना चाहिए। टी-गार्डन विकसित कर काश्तकारों को दिए जाने के बाद उन्हें तकनीकी विशेषज्ञता भी उपलब्ध करायी जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में जो निजी चाय फैक्ट्रियाँ किसी भी कारण से बंद हैं, उन्हें चलाने हेतु प्रयास किए जाएं। यदि निजी फैक्ट्रियों के मालिक इन्हें चलाने में सक्षम नहीं हैं तो, बोर्ड द्वारा इन्हें चलाए जाने हेतु प्रयास किए जा जाएं। इससे स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे और उन्हें आजीविका का साधन मिलेगा।


मुख्यमंत्री ने कहा कि चाय विकास बोर्ड की बैठक, वर्ष में 04 बार आयोजित की जाए। इससे बोर्ड और किसानों की समस्याओं से अवगत होने के अधिक अवसर बनेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार लगातार प्रदेश के किसानों की आर्थिकी को मजबूत करने के प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में टी-गार्डन, पर्यटन के क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने जिलाधिकारियों को राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए टी-टूरिज्म पर भी फोकस करने के निर्देश दिए।


वर्तमान में बोर्ड द्वारा निर्मित की जा रही चाय को उत्तराखण्ड टी ब्राण्ड नेम से रजिस्स्ट करते हुए बिक्री किया जा रहा है। वर्तमान में बोर्ड द्वारा जैविक/अजैविक आर्थोडोक्स ब्लैक व ग्रीन टी तैयार कर, स्थानीय स्तर पर स्वयं के शो-रूम, दुकानदारों य पोस्टल सेवा एवं कोलकाता ऑक्सन हाउस के माध्यम से बिक्री की जा रही है, चाय की बिक्री बढ़ाने व अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार हेतु शासन स्तर से शासकीय कैन्टीनों, व अन्य संस्थानों को चाय की मांग बोर्ड को उपलब्ध कराने हेतु आदेश निर्गत किये जा चुके है।
इस अवसर पर उद्यान मंत्री  सुबोध उनियाल, उपाध्यक्ष चाय विकास बोर्ड श्री गोविन्द सिंह पिल्खवाल, अपर मुख्य सचिव श्रीमती मनीषा पंवार, प्रमुख सचिव श्री आनन्द वर्धन एवं सचिव उद्यान श्री हरबंस सिंह चुघ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अमीरों की सूची में 11वें नंबर पर पहुँचे अडानी, ग्रुप के शेयरों में गिरावट जारी

हिंडनबर्ग रिपोर्ट रिपोर्ट ने पिछले बुधवार अडानी ग्रुप पर स्टाक हेरफेर और धोकाधडी का आरोप लगाया था। रिपोर्ट के रिलीज होते ही अडानी दुनिया...

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ हुये वाम दल, पुतला फूंक जताया विरोध

जोशीमठ मामले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के बयान से नाराज छात्र संगठन आइसा ने प्रदर्शन करते हुए उनका पुतला फूंका। आइसा ने...

रोडवेज की हड़ताल टली, शासन से आश्वासन मिलने के बाद संयुक्त मोर्चे ने किया एलान

रोडवेज कर्मचारियों को परिवहन निगम अपने खर्च पर दस लाख तक का बीमा देगा। ऐसे ही 13 आश्वासनों के बाद सोमवार को परिवहन निगम...

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की एडवाइजरी, चैनलों को राष्ट्रीय महत्व और जनसेवा पर आधारित कार्यक्रम बनाने की सलाह

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। मंत्रालय के मुताबिक उसने कई ब्राडकास्टर्स औऱ चैनलों के एसोसियेशन...

कब बनेगा भोपालपानी पुल! 45 दिन पहले गिरा था पुल

देहरादून-जौलीग्रांट रोड पर क्षतिग्रस्त हुये भोपालपानी पुल को 1 माह बीतने के बाद भी ठीक नहीं किया गया है। तकरीबन 45 दिन पहले इस...

यमुनोत्री के राना गांव में भीषण अग्निकांड, देखते ही देखते जलकर राख हो गये गई घर

यमुनोत्री धाम से लगे राना गांव में बीती रात अचानक आवासीय मकानों में आग लग गई। रात करीब डेढ़ बजे गांव के बीचोंबीच अचानक...

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा समाप्त, 145 दिन बाद आज कश्मीर में हुआ समापन

राहुल गांधी की भारत जोडो यात्रा आज 145 दिन बाद समाप्त हो गई है। राहुल के भाषण के साथ आज कश्मीर में यात्रा का...

एनएसए अजित डोभाल पर राहुल गांधी का निशाना, समापन भाषण में दो बार लिया नाम

भारत जोड़ो यात्रा आज कश्मीर में समाप्त हो गई। यात्रा के समापन पर बीजेपी, आरएसएस, पीएम और गृह मंत्री एक बार फिर राहुल गांधी...

फिर सड़कों पर उतरे चयनित अभ्यर्थी, आयोग के गेट पर दिया धरना

कनिष्ठ सहायक भर्ती में नियुक्ति को लेकर हो रही देरी से चयनित अभ्यर्थी खासे नाराज हैं। दस्तावेज सत्यापन नहीं होने से चयनित अभ्यर्थियों का...

उत्तराखंड में कल से थम जाएंगे रोडवेज के पहिए, रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल कल आधी रात से

उत्तराखंड रोडवेज की बसों से सफर करने वाले हजारों यात्रियों को कल से भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। 27 जनवरी को...