Tuesday, April 23, 2024
अल्मोड़ाउत्तरकाशीउत्तराखंडउधम सिंह नगरकोविड 19चमोलीचम्पावतटिहरी गढ़वालदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़पौड़ी गढ़वालबागेश्वरराज्यरुद्रप्रयागवायरल न्यूज़हरिद्वार

ऋषिकेश में व्यारियों ने क्यों उतारे कपडे ?

राजधानी देहरादून के चंद किलोमीटर दूर आध्यात्मिक नगरी ऋषिकेश में अजीबोगरीब प्रदर्शन हुआ। कोरोना संक्रमण की वजह से बीते कई महीनों में व्यापारियों के कारोबार की कमर तोड़ दी है। हालत ये है कि ग्राहकों की घटती संख्या के बाद अब व्यापारी सरकार से रियायतों की मांग करने लगे हैं। ऋषिकेश में आज स्थानीय व्यापारियों ने त्रिवेंद्र सरकार का ध्यान अपनी समस्या की तरफ खींचने के लिए अनोखा नुस्खा आजमाया …… यहां के व्यापारियों ने आज गंगा तट पर प्रदर्शन करते हुए  राज्‍य सरकार से सरकारी ब्याज और बिलों के भुगतान में एक साल की छूट देने की मांग की। 

इन व्यापारियों का कहना है कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए  लॉकडाउन के दौरान ऋषिकेश के लक्ष्मण झूला, स्वर्ग आश्रम में व्यापारियों का रोजगार बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।आज जब इन व्यापारियों की सुध लेने वाला कोई नहीं है ऐसे में  यहां के व्यापारी सरकार से राहत पैकेज के साथ बिजली-पानी के बिलों में एक वर्ष की छूट और  टैक्स में रियायत की मांग कर रहे हैं। इस प्रदर्शन के लिए इन व्यापारियों ने गंगा घाट पर हांथों में डिमांड की तख्तियां लिए जलधारा में खड़े होकर अर्धनग्न प्रदर्शन किया। आपको बता दें कि उत्तराखंड में ऋषिकेश ऐसा तीर्थ स्थल है जहाँ से चार धाम यात्रा की शुरुआत होती है और सबसे ज्यादा देसी विदेशी पर्यटक यहीं पहुँचते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *