Wednesday, July 17, 2024
अंतरराष्ट्रीय

कैम्ब्रिज में राहुल ने सरकार को घेरा, कहा- ‘भारतीय लोकतंत्र पर हमला हो रहा है’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों लंदन दौरे पर हैं। शुक्रवार को उन्होंने कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया, जिसमें राहुल ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि भारतीय लोकतंत्र के बुनियादी ढांचे पर हमला हो रहा है। राहुल ने कहा कि भारत में मीडिया और न्यायपालिका सरकार के नियंत्रण में हैं। उन्होंने कहा, “भारतीय लोकतंत्र पर हमला हो रहा है। हम लोकतंत्र पर हमले का बचाव करने की कोशिश कर रहे हैं।”

शुक्रवार को राहुल गांधी ने कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के बिजनेस स्कूल के छात्रों को ’21वीं सदी में सुनने के लिए सीखना’ विषय पर संबोधित किया। इस दौरान राहुल ने भारतीय सरकार पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के लिए जरुरी संस्थागत ढांचा बाधित होता जा रहा है और भारतीय लोकतंत्र के बुनियादी ढांचे पर हमला हो रहा है। अपने व्याख्यान में राहुल गांधी ने सरकार पर मीडिया और न्यायपालिका को नियंत्रित करने, निगरानी करने, डराने-धमकाने, अल्पसंख्यकों, दलितों और आदिवासियों पर हमला करने का आरोप लगाया। कांग्रेस सांसद ने कहा कि दुनिया में लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए नई सोच की जरूरत है लेकिन इसे किसी पर थोपा न जाए।

इस दौरान राहुल गांधी ने यह भी कहा कि सरकार पेगासस के जरिए उनकी जासूसी करती है। राहुल ने कहा कि खुफिया अधिकारियों ने उन्हें बताया कि उनका फोन रिकॉर्ड हो रहा है और उन्हें फोन पर बात करते समय सतर्क रहने की सलाह दी गई।

राहुल ने किया भारत जोड़ो यात्रा का जिक्र

अपने संबोधन के दौरान राहुल ने भारत जोड़ो यात्रा का जिक्र भी किया। कश्मीर के बारे में बताते हुए राहुल ने कहा, “कश्मीर कईं सालों से हिंसाग्रस्त है। सुरक्षा अधिकारियों ने सुरक्षा को लेकर आगाह किया लेकिन जब हम आगे बढ़े तो हजारों लोग तिरंगा लेकर आगे आए। इस दौरान एक व्यक्ति करीब आया, उसने कुछ लड़कों को दिखाकर बताया कि वे उग्रवादी हैं। उन लडकों ने मुझे घूरकर देखा लेकिन कुछ कर नहीं पाए।” उन्होंने कहा कि यह लोगों की बात सुनने और अहिंसा की ताकत है।

मोदी सरकार पर साधा निशाना

इस दौरान राहुल से पूछा गया कि आप नरेंद्र मोदी की उन नीतियों के बारे में बता सकते हैं, जो भारत के हित में हैं? इस पर जवाब देते हुए राहुल ने कहा, “भारत राज्यों का संघ है। भारत में धार्मिक विविधता है। भारत में सिख, मुस्लिम, ईसाई सभी हैं, लेकिन मोदी इन्हें दूसरे दर्जे का नागरिक समझते हैं। मैं इससे सहमत नहीं हूं। जब आपका विरोध इतना बुनियादी हो, तो फर्क नहीं पड़ता, आप किन दो, तीन नीतियों से सहमत हो।”

राहुल ने भारत और अमेरिका जैसे लोकतांत्रिक देशों में निर्माण क्षेत्र में गिरावट का भी जिक्र किया और कहा कि इस पर तत्काल ध्यान देने और संवाद की जरुरत है। बता दें कि राहुल एक सप्ताह के ब्रिटेन दौरे पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *