Sunday, March 3, 2024
उत्तराखंड

वंदे भारत ट्रेन का विरोध, देहरादून से चल रही है ट्रेन

दो दिन पहले शुरू हुई देहरादून-दिल्ली वंदे भारत ट्रेन का उसके संचालन के साथ विरोध शुरू हो गया है। और इस विरोध में कोई और नहीं बल्कि देहरादून रेलवे के कर्मचारी ही उतर आये हैं। विरोध इस कदर बढ़ गया है कि आने वाले समय में वंदे भारत पर संकट आ सकता है।
चलिये अब आपको बताते हैं कि आखिर रेलवे के कर्मचारी क्यों इस ट्रेन के विरोध में उतर आये हैं।
दरअसल वंदे भारत ट्रेन की प्राइमरी मेंटेनेंस देहरादून में है। मगर ट्रेन के लोको पायलट दिल्ली के हैं। रेलवे कर्मचारियों का विरोध है कि ट्रेन की प्राइमरी मेंटेनेंस देहरादून में है तो यहां के लोको पायलट से ही ट्रेन में कार्य करवाया जाना चाहिए। उपर से ट्रेन का उद्घाटन भी यहीं हुआ है। रेलवे कर्मचारियों का कहना है कि जब देहरादून के कर्मचारियों से उद्घाटन करवाया गया तो लोको पायलट को दिल्ली से क्यों बुलाया जा रहा? जब पूरे वंदे भारत का संचालन का मुख्य केंद्र देहरादून है तो बाद में दिल्ली के लोको पायलट से ट्रेन चलाने के आदेश क्यों जारी किए गए? रेलवे कर्मचारियों का आरोप है कि रेलवे अपने कर्मचारियों के साथ भेदभाव कर रहा है। रेलवे कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर ट्रेन का संचालन देरहादून को नहीं सौंपा गया तो आगे उनका विरोध और बढ़ेगा और अगर ऐसा हुआ तो वंदे भारत ट्रेन के पहिए थम भी सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *