Thursday, February 22, 2024
अंतरराष्ट्रीयउत्तर प्रदेशउत्तराखंडकोविड 19दिल्लीपंजाबबिहारराजनीतिराज्यराष्ट्रीयस्पेशल

कोरोना का असर – प्रधानमंत्री ने इस साल देश का 400 करोड़ रुपये कैसे बचाया , दिलचस्प है लेखा जोखा

  •  2014 से लेकर अब तक PM मोदी 59 बार विदेश के लिए रवाना हुए
  • 2019 में मोदी साल के 35 दिन विदेश में थे  
  • साल के 40 दिन विदेश में रहने वाले मोदी का 2020 देश में ही बीता
  • प्रधानमंत्री मोदी का आखिरी विदेश दौरा 13 से 15 नवंबर 2019 में ब्राजील का था
  • मोदी की विदेश यात्राओं 2 हजार 156 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च   

प्रधानमंत्री मोदी जब से प्रधानमंत्री बने हैं, तब से ये पहला साल है, जब वो किसी विदेश दौरे पर नहीं गए। 2019 में मोदी साल के 35 दिन विदेश में थे, लेकिन इस बार साल के 365 दिन वो भारत में ही रहे। प्रधानमंत्री मोदी का आखिरी विदेश दौरा 13 से 15 नवंबर 2019 में ब्राजील का था।

उस समय मोदी BRICS में शामिल होने गए थे। PM मोदी को प्रधानमंत्री बने 6 साल 7 महीने हो चुके हैं। मोदी ने 26 मई 2014 को पहली बार और 30 मई 2019 को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। प्रधानमंत्री ऑफिस के मुताबिक 2014 से लेकर अब तक मोदी 59 बार विदेश के लिए रवाना हुए हैं।

इस दौरान उन्होंने 106 देश (इसमें 2 या उससे ज्यादा दौरे भी) की यात्रा की। दिसंबर 2018 में लोकसभा में सरकार ने प्रधानमंत्री की विदेश यात्राओं पर होने वाले खर्च का ब्योरा दिया था। इसके अलावा प्रधानमंत्री ऑफिस की वेबसाइट पर भी पीएम की यात्राओं के खर्च की जानकारी है।

इन दोनों को मिला दें, तो अब तक मोदी की विदेश यात्राओं 2 हजार 156 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हो चुके हैं। PM मोदी जब से प्रधानमंत्री बने हैं, तब से अब तक 59 बार विदेश यात्रा कर चुके हैं। यानी हर साल कम से कम 10 से ज्यादा बार विदेश यात्रा पर जाते हैं। मोदी की विदेश यात्राओं पर भी हर साल औसतन 430 करोड़ रुपए खर्च होते हैं।

 

मनमोहन के 5 साल के विदेश दौरों पर में 1,346 करोड़ खर्च हुए थे – 

…. मनमोहन सिंह 2004 से लेकर 2014 तक प्रधानमंत्री रहे। इन 10 सालों में उन्होंने 73 बार विदेश दौरे किए। इनमें से 35 दौरे पहले कार्यकाल यानी 2004 से 2009 के बीच और 38 दौरे दूसरे कार्यकाल यानी 2009 से 2014 के बीच किए। दिसंबर 2018 में जब सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी की विदेश दौरों पर होने वाले खर्च का ब्योरा दिया था, तो उसमें मनमोहन सिंह के दूसरे कार्यकाल में हुए खर्च के बारे में भी बताया था। इसके मुताबिक, मनमोहन सिंह के दूसरे कार्यकाल में उनके विदेश दौरों पर 1 हजार 346 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। मनमोहन सिंह के पहले कार्यकाल में उनकी चार्टर्ड फ्लाइट पर 302 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। इसमें विमान के रखरखाव और हॉटलाइन का खर्चा शामिल नहीं है ….. 

मनमोहन से पहले अटल बिहारी वाजपेयी देश के प्रधानमंत्री थे। उन्होंने 1999 से 2004 के बीच 19 बार विदेश दौरे किए, जिसमें 31 देशों की यात्रा की। उनके 5 साल में चार्टर्ड फ्लाइट पर 144 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *