Wednesday, October 5, 2022
Home अंतरराष्ट्रीय कैसा होगा नई संसद भवन का स्वरूप ? - 862 करोड़ रुपये...

कैसा होगा नई संसद भवन का स्वरूप ? – 862 करोड़ रुपये होंगे खर्च

दुनिया की निगह आज भारत के नये संसद भवन पर लगी है  लोग जानना चाहते है कि कैसा होगा नई संसद भवन का स्वरूप –

मौजूदा संसद भवन गोलाकार है, लेकिन संसद का नया भवन त्रिकोण आकार आकृति में होगा. नया संसद भवन 64 हज़ार 500 वर्ग मीटर क्षेत्र में फैला होगा. नया संसद भवन अंग्रेजों द्वारा बनाए गए इस मौजूदा संसद भवन की जगह लेगा.

मौजूदा संसद भवन का निर्माण कार्य 1911 में तब शुरू हुआ था, जब अंग्रेजों ने दिल्ली को भारत की राजधानी बनाया था, जिसके बाद 1927 में इसका उद्घाटन हुआ था, लेकिन बदलते वक्त के साथ यह मांग उठने लगी कि सांसदों की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए एक नई इमारत बनाई जाए, जिसमें सांसदों के लिए ज्यादा सुविधाएं और उनके दफ्तर उसी संसद भवन परिसर का हिस्सा हो.

नए संसद भवन में लोकसभा और राज्यसभा के कुल 1,224 सांसदों के बैठने की व्यवस्था रहेगी. लोकसभा सदन में 888 सांसदों की क्षमता होगी, वहीं राज्यसभा सदन में 384 सांसद बैठ सकेंगे. यह व्यवस्था भविष्य में सांसदों की संभावित संख्या का अनुमान लगा कर की जा रही है. मौजूदा संसद में लोकसभा के 545 और राज्यसभा के 245 सांसद हैं. नए संसद भवन परिसर में सांसदों का दफ्तर भी होगा. नए संसद भवन में एक कॉन्स्टिट्यूशन हॉल भी रहेगा, जहां पर संविधान की मूल कॉपी रखी जाएगी. इसके साथ ही विजिटर गैलरी भी तैयारी की जाएगी, जहां पर भारत के लोकतंत्र की विरासत को डिजिटली दिखाया जाएगा.

सरकार की योजना है कि नए संसद भवन का निर्माण कार्य अगले 2 साल के भीतर पूरा कर लिया जाए, जिससे की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर जो सत्र बुलाया जाए वह नए संसद भवन में ही बुलाया जाए. वहीं बात की जाए पूरे सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की तो इसको पूरा करने के लिए 2024 तक की डेडलाइन रखी गई है.

आज जब नई संसद भवन की इमारत के लिए शिलान्यास होगा तो उस दौरान कर्नाटक के सिंगरी मठ से आए हुए साधु संत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हवन पूजन के साथ शिलान्यास करवाएंगे. इस दौरान अन्य धर्मों से जुड़े हुए धर्मगुरु भी वहां पर मौजूद रहेंगे, जो प्रार्थना करेंगे.

 

नए संसद भवन पर 862 करोड़ रुपये खर्च होंगे
नए संसद भवन बनाने का काम टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड कर रहा है. जानकारी के मुताबिक नए संसद भवन बनाने पर करीब 862 करोड़ रुपए खर्च होगा. वहीं बात की जाए सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की तो इस प्रोजेक्ट के तहत प्रधानमंत्री का आवास जो अभी 7 लोक कल्याण मार्ग पर है, उसको भी सेंट्रल विस्टा के तहत नए साउथ ब्लॉक में बनने वाले प्रधानमंत्री कार्यालय के नजदीक ही बनाया जाएगा. इसी तरह से उपराष्ट्रपति का आवास जो फिलहाल दिल्ली के मौलाना आजाद रोड पर बना हुआ है, उसको भी नए नार्थ ब्लॉक के पास बनाया जाएगा.

 

हालांकि ये भी साफ कर देना जरूरी है कि नई संसद भवन और सेंट्रल विस्ता प्रोजेक्ट के बनने के बाद भी पुराने संसद भवन की इमारत यूं ही खड़ी रहेगी, कौशिक संसद भवन ही नहीं, बल्कि नॉर्थ ब्लॉक और साउथ ब्लॉक की इमारते भी अपने पुराने अस्तित्व में ही रहेंगी, लेकिन इनमें पहले की तरह कामकाज नहीं होगा, मुमकिन है कि इनको म्यूजियम के तौर पर दर्शकों के लिए रखा जाए.

 

नई संसद का निर्माण कार्य सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत किया जा रहा है. इस प्रोजेक्ट के तहत सिर्फ संसद भवन ही नहीं, बल्कि संसद भवन के आसपास बने सरकारी भवनों को भी नए सिरे से बनाया जाएगा, वह भी नई जगह पर और यह नई जगह है, राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट के बीच आने वाले राष्ट्रपति के दोनों तरफ पड़े खाली मैदान.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Uttarkashi Avalanche: बर्फ के तूफान में लापता हुए 28 लोग, 2 की मौत, CM Dhami ने मांगी सेना से मदद

केदारनाथ के बाद अब द्रौपदी पर्वत में आया एवलॉन्च। एवलॉन्च के चलते बर्फीली पहाड़ियों पर फंसे 28 लोग, हादसे में 2 की मौत ।...

मास्टरमाइंड हाकम का रिसॉर्ट तोड़ने पहुंची टीम, धरने पर बैठ ग्रामीणों ने जताया विरोध

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक मामले में आरोपी मास्टमाइंड हाकम सिंह रावत का सांकरी स्थित रिजॉर्ट को गिराने के लिया पिछले दिनों...

शेयरों में दिखी गिरावट, अमीर लोगों की सूची में नीचे खिसके गौतम अदाणी

दुनिया के शीर्ष तीन अमीर कारोबारियों में शामिल भारतीय व्यवसायी गौतम अदाणी और एलन मस्कको एक दिन में लगभग 25 मिलियन डॉलर यानी 2...

टी20 वर्ल्ड कप में भारत को झटका, जसप्रीत बुमराह टी20 वर्ल्ड कप 2022 से हुए बाहर

सोमवार को बीसीसीआइ ने मुहर लगा दी कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह आगामी टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं। हालांकि उनके रिप्लेसमेंट...

नवमी पर सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने जिमाई कन्‍या, मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों का लिया आशीर्वाद

नवमी के दिन मंगलवार को उत्‍तराखंड भर में मां दुर्गा के नौ स्‍वरूपों की पूजा अर्चना की जा रही है। इस क्रम में मुख्‍यमंत्री...

उत्तराखण्ड में चीन सीमा पर दशहरा मनाएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आज पहुंचेंगे देहरादून

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उत्तराखंड में चीन सीमा पर स्थित अग्रिम चौकी पर सेना और आईटीबीपी के जवानों के साथ विजयादशमी मनाएंगे। इस मौके पर...

हरिद्वार को मिला देश के गंगा टाउन में पहला स्थान, लेकिन उत्तराखंड का सबसे गंदा शहर, पढिये पूरी खबर

राष्ट्रीय स्तर की ओवरआल रैंकिंग में पिछले साल 279वें स्थान पर रहा हरिद्वार इस वर्ष 300वें नंबर पर आ गया। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में...

Indian Air Force में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर ‘प्रचंड’, भारतीय वायुसेना को मिलेगी मदद

आजादी से लेकर अब तक भारत को सुरक्षित रखने में भारतीय वायु सेना की बड़ी शानदार भूमिका रही है। आंतरिक खतरे हों या बाहरी...

एसआइटी ने की रिसॉर्ट में बुकिंग करवाने वालों की पहचान, दर्ज किए जा रहे बयान

अंकिता हत्याकांड मामले में वीआईपी सर्विस देने के मामले से अभी भी पर्दा नहीं उठ पाया है। वहीं एसआइटी ने घटना से पहले व...

बाबा केदार के धाम पहुंचे राज्यपाल गुरमीत सिंह, पूजा अर्चना कर लिया आशीर्वाद

उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह आज बाबा केदार के दर्शन करने केदारनाथ धाम पहुंचे। उन्होंने बाबा केदार के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इसके...