Friday, September 30, 2022
Home राष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2021 : भारत में कैसे हुई प्रेस की शुरुआत,...

राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2021 : भारत में कैसे हुई प्रेस की शुरुआत, जानिए….

राष्ट्रीय प्रेस दिवस हर वर्ष भारत में 16 नवंबर को मनाता जाता है। भारत एक लोकतंत्र देश है और पत्रकारिकता को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ माना जाता हैं …. भारत में “प्रेस की स्वतंत्रता”, भारतीय संविधान के अनुच्छेद-19 के तहत दी गयी थी….. जिसका मतलब है कि सभी लोगों को अभिव्यक्ति की आजादी हैं। जिसमे सभी वर्गो के लोगो कों ध्यान में रखते हुए प्रावधान दिया गया हैं कि कोई भी व्यक्ति अपने मन से कोई भी कार्य कर सकता हैं, किन्तु वह कार्य गैर क़ानूनी और असंवैधानिक नहीं होना चाहिए और न ही उस कार्य से किसी अन्य व्यक्ति के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन होना चाहिए। प्रेस किसी भी समाज का आईना होता है। प्रेस की आजादी से यह बात साबित होती है कि उस देश में अभिव्यक्ति की कितनी स्वतंत्रता है। विश्व में आज लगभग 50 देशों में प्रेस परिषद या मीडिया परिषद है। भारत में प्रेस को ‘वाचडॉग’ और प्रेस परिषद इंडिया को ‘मोरल वाचडॉग’ कहा गया है।

क्या है पत्रकारिता का उद्देश्य.. 
पत्रकारिता का उद्देश्य यह होता है कि एक पत्रकार को पता होना चाहिए कि, पत्रकारिता में तथ्यात्मकता यानी सटीकता होनी चाहिए, फिर चाहे वह पत्रकार प्रशिक्षित हो या गैर प्रशिक्षित। तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर, बढ़ा-चढ़ा कर या घटना को सनसनी बनाकर पेश करने की पत्रकारों की प्रवृत्ति आज लोकतंत्र के इस चौथे स्तंभ को खोखला कर रही है। इस समय देश को ऐसे पत्रकारों की आवश्यकता है, जो जैसा सुना गया और जैसा कहा गया हो .., उसे वैसे का वैसा ही जनता के सामने रखे, ताकि लोगों के दिलों में निष्पक्ष पत्रकारिता के प्रति सम्मान पैदा कर देश में योगदान दिया जा सके। यह दिन भारत में एक स्वतंत्र और जिम्मेदार प्रेस की मौजूदगी का प्रतीक है। राष्ट्रीय प्रेस दिवस, प्रेस की स्वतंत्रता एवं जिम्मेदारियों की ओर हमारा ध्यान आकृष्ट करता है। प्रेस का उद्देश्य लोगो के प्रति जागरूकता फैलाना और प्रेस की आजादी और समाचारों को लोगों तक पहुंचाना हैं..

ऐसे हुई थी शुरुआत

विश्व स्तर की बात करें तो 3 मई को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस घोषित किया गया था, जिसे विश्व प्रेस दिवस के रूप में भी जाना जाता है। लेकिन भारत के प्रथम प्रेस आयोग ने भारत में प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा एवं पत्रकारिता में उच्च आदर्श कायम करने के उद्देश्य से एक प्रेस परिषद की कल्पना की थी। जिसके परिणामस्वरूप 4 जुलाई, 1966 को भारत में प्रेस परिषद की स्थापना की गई, जिसने 16 नवम्बर, 1966 से अपना कार्य शुरू किया। तब से लेकर आज तक प्रतिवर्ष 16 नवम्बर को ‘राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

हरिद्वार जहरीली शराब की अरोपी बबली देवी ने जीतीं प्रधानी का चुनाव, पुलिस ने किया गिरफ्तार

चुनाव के दौरान जहरीली शराब बांटने वाली बबली देवी चुनाव जीतने के बाद हवालात पहुंच गई हैं। जी हां हरिद्वार में शिवनगर ग्राम पंचायत...

जल्द शुरू होगा भारत का सबसे बड़ा रियलिटी टीवी शो बिग बॉस 16, जानिए कौन है शो में एंट्री करने वाले पहले कंटेस्टेंट

भारत का सबसे बड़ा रियलिटी टीवी शो बिग बॉस 16 जल्द ऑन एयर होने जा रहा है। शो 1 अक्टूबर से टीवी पर देखा...

जम्मू-कश्मीर में दहशत, ताबड़तोड़ 2 बम धमाके, कंडक्टर समेत दो लोग घायल, बढ़ाई गयी सुरक्षा

जम्मू-कश्मीर में इस समय दहशत का माहौल है। जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में अलग-अलग जगह पर पार्क की गई बस में बम धमाके हुए हैं।...

10 साल के बच्चे की पेंटिंग आर्ट गैलरियों में, 2 करोड़ रुपये में हुई एक पेंटिंग की बिक्री

कक्षा पांचवी में पढ़ने वाला एक बच्चा पेंटिंग की दुनिया में नाम कमा रहा है। आंद्रेस वैलेंसिया अभी केवल 10 साल का है और...

उत्तराखण्ड के हिस्से एक और गौरव, ले.ज. अनिल चौहान बने सीडीएस

भारतीय सेना में उत्तराखण्ड के योगदान का एक और सुनहरा पन्ना जुड़ गया है। देश के दूसरे चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ बनने का गौरव...

केंद्र सरकार ने पीएफआई को घोषित किया गैरकानूनी संस्था, पांच सालों के लिए संस्था बैन

केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) को एक गैरकानूनी संस्था घोषित कर दिया है। सरकार ने पीएफआई पर अगले पांच सालों के...

लखीमपुर खीरी में बड़ा सड़क हादसा,यात्री बस और ट्रक की आमने-सामने टक्कर, हादसे में 8 लोंगो की मौत

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में आज बुधवार की सुबह भीषण सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में आठ लोगों की मौके पर ही...

अंकिता भंडारी के परिजनों को 25 लाख रुपयों की आर्थिक सहायता, पुष्कर सिंह धामी का ऐलान

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिवंगत अंकिता भंडारी के परिजनों को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। अधिकारियों को...

स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर की याद में तैयार 14 टन की वीणा,  93वीं जयंती पर दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को भारत रत्न लता मंगेशकर को दी श्रद्धांजलि। बता दें कि आज इस विशेष दिन पर उत्तर प्रदेश के...

अंकिता हत्याकांड पर राहुल गांधी का बीजेपी पर निशाना, अंकिता के पिता का बयान भी आया सामने

अंकिता भंडारी हत्याकांड ने समूचे देश को हिला कर रख दिया है। अंकिता भंडारी हत्याकांड में शामिल तीनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार हो चुके है...