Tuesday, May 28, 2024
राष्ट्रीय

न्यायमूर्ति एनवी रमन्ना होंगे देश के नए मुख्य न्यायधीश, 24 अप्रैल को लेंगे शपथ

-आकांक्षा थापा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने न्यायमूर्ति एनवी रमन्ना की भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति पर हस्ताक्षर किए। बता दें की जस्टिस रमन्ना 48 वें सीजेआई होंगे, उनको 17 फरवरी 2014 को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त किया गया था…. 23 अप्रैल को सीजेआई एसए बोबड़े की सेवानिवृत्ति के बाद वह 24 अप्रैल 2021 को सीजेआई का पदभार संभालेंगे… सीजेआई को नियुक्त करने में सुप्रीम कोर्ट के बाद वरिष्ठता मानदंड के अनुरूप जस्टिस रमन्ना के नाम की सिफारिश सीजेआई एसए बोबडे ने देश के सर्वोच्च न्यायिक कार्यालय को संभालने के लिए की थी…

वहीं जस्टिस रमन्ना 26 अगस्त, 2022 को सेवानिवृत्त होने वाले हैं.. लेकिन उससे पहले 16 महीने से अधिक समय तक सीजेआई के रूप में लंबे समय तक कार्यकाल में रहेंगे. वास्तव में यह लगभग एक दशक तक भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में सबसे लंबा कार्यकाल होगा. दिवंगत जस्टिस एसएच कपाड़िया मई 2010 से सितंबर 2012 तक लंबे कार्यकाल वाले अंतिम न्यायाधीश थे. ..अमरावती भूमि घोटाले में न्यायमूर्ति एनवी रमन्ना के बारे में शिकायत के संबंध मे हाल ही में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने सीजेआई बोबडे को लिखा था. हालांकि रेड्डी द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच के लिए एक इन-हाउस प्रक्रिया का पालन करने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था।

कौन हैं होने वाले चीफ जस्टिस रमन्ना?

जस्टिस नाथुलापति वेंकट रमन्ना का आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में 27 अगस्त 1957 को जन्म हुआ… 2 फरवरी 2017 को उन्हें सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में नियुक्ति मिली… अब उनके कार्यकाल के महज दो साल बचे हैं और वे 26 अगस्त, 2022 में सेवानिवृत्त होने वाले हैं…बता दें 10 फरवरी 1983 को उन्होंने अपनी वकालत शुरू की थी और वे आंध्र प्रदेश सरकार के एडिशनल एडवोकेट जनरल भी रहे हैं.. साथ ही, किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाले रमन्ना विज्ञान और कानून में स्नातक हैं।

उन्होंने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट, केंद्रीय प्रशासनिक ट्रिब्यूनल और सुप्रीम कोर्ट में कानून की प्रैक्टिस की है. राज्य सरकारों की एजेंसियों के लिए वो पैनल काउंसिल पर भी काम कर चुके हैं. 27 जून 2000 को वे आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट में स्थायी जज के तौर पर नियुक्त हुए. साल 2013 में 13 मार्च से लेकर 20 मई तक वो आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के एक्टिंग चीफ जस्टिस रहे हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *