Monday, April 22, 2024
उत्तर प्रदेशउत्तराखंडराजनीति

परिसंपत्ति विवाद पर बोले हरीश रावत, बोले- योगी के आगे घुटने टेक आये सीएम धामी

एक दिन पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यूपी के साथ जिस 21 साल पुराने परिसंपत्ति विवाद को चंद मिनटों में सुलझाने का दावा किया था उस दावे को पूर्व सीएम हरीश रावत ने खारिज कर दिया है। इस मसले पर हरीश रावत आज कागज पत्री लेकर मीडिया के सामने आये। हरीश रावत ने खुलासा किया कि हां सीएम धामी परिसंपत्ति विवाद निपटा आये हैं लेकिन उन्होंने उत्तराखण्ड की बड़ी संपत्ति यूपी को सौंप दी है। परिसंपत्ति के मामले में उत्तराखण्ड के हाथ खाली रह गये और जलाशयों, नदियों, नहरों, भवनों पर ज्यादा अधिकार यूपी का हो गया है। हरीश रावत गंभीर आरोप लगाते हुये कहा कि केद्र की मोदी सरकार के दबाव में पुष्कर धामी लखनऊ गये और उत्तराखण्ड की संपत्तियों को बड़े भाई को सौंप आये।

आपको बता दें कि अलग राज्य गठन के वक्त यूपी और उत्तराखण्ड के बीच कई संपत्तियों का बंटवारा होना था लेकिन 21 साल पूरे होने के बाद भी यह बंटवारा नहीं हो पाया है। पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भी अपने कार्यकाल में संपत्ति विवाद निपटने का दावा किया था अब सीएम धामी का भी दावा है कि संपत्ति विवाद सुलझा लिया गया है। मगर कांग्रेस इस मुद्दे पर आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *