Monday, June 24, 2024
राष्ट्रीय

धनबाद के एडिशनल डिस्ट्रिक्ट जज की मौत, हत्या या हादसा? जानिए पूरा सच…

-आकांक्षा थापा

झारखंड के धनबाद में जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद मॉर्निंग वॉक पर निकले थे जब ऑटो से टक्कर मारने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. जिसके बाद अब सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एनवी रमन्‍ना से धनबाद के जज की मौत के केस पर गौर करने की मांग की है… वहीं, मामले पर संज्ञान लेते हुए सीजेआई रमन्ना ने कहा क‍ि,  उन्‍होंने गुरुवार सुबह झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से बात की है. हाईकोर्ट ने पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों को नोटिस जारी किया है… हाईकोर्ट में आज इस मामले पर सुनवाई चल रही है…  उन्‍हें इस केस को हैंडल करने दें. इस मामले में हमारे द्वारा हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है… इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह ने कहा क‍ि अगर किसी गैंगस्‍टर की जमानत याचिका खारिज होने के बाद इस तरह से जज की हत्‍या कर दी जाती है तो यह न्‍यायपालिका के लिए खतरनाक स्थिति है.

आपको बता दें कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद के मॉर्निंग वाक का सीसीटीवी फुटेज जमकर वायरल हो रहा है, इस फुटेज से काफी हद तक यह स्पष्ट हुआ है कि ऑटो ने टक्कर जानबूझकर मारी थी… फुटेज में साफ दिख रहा है की कैसे खाली सड़क पर ये ऑटो जज उत्तम आनंद को अपना निशाना बनता है. . दरअसल उत्तम आनंद बुधवार सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए निकले, तभी रणधीर वर्मा चौक के नज़दीक एक ऑटो ने उन्‍हें टक्कर मार दी थी. एक सीसीटीवी में पूरी घटना कैद हो गई है.  पूरी रोड़ खाली थी, ऑटो पहले सीधे जा रहा था. जबकि उत्‍तम आनंद सड़क किनारे वॉक कर रहे थे. लेकिन अचानक सीधे सड़क पर जा रही ऑटो मुड़ी और वॉक कर रहे जज को टक्‍कर मार दी. इसके बाद ऑटो समेत चालक फरार हो गया. फुटेज मिलने के बाद पुलिस इस केस की जांच हत्‍या के एंगल से भी कर रही है… आपको बता दें की उत्तम आनंद छह माह पहले ही धनबाद के न्यायाधीश के रूप पदभार ग्रहण किया था इसके पूर्व वह बोकारो के जिला एवं सत्र न्यायाधीश थे.

यहाँ गौर करने वाली बात यह है की इन दिनों उत्तम आनंद पूर्व विधायक संजीव सिंह के करीबी रंजय हत्‍याकांड केस में सुनवाई कर रहे थे… इसलिए पुलिस इस एंगल से भी मामले की जांच कर रही है… . अभी तीन दिन पहले ही इस केस में उत्‍तम आनंद ने प्रदेश के इनामी शूटर अभिनव सिंह और होटवार जेल में बंद अमन सिंह से ताल्लुक रखने वाले शूटर रवि ठाकुर व आनंद वर्मा की जमानत का आवेदन खारिज कर दिया था. वहीं जज राजेश गुप्‍ता के घर पर हमला समेत ऐसे कई मामलों की सुनवाई कर रहे थे…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *