Tuesday, April 23, 2024
उत्तराखंडराज्य

प्रधानमंत्री मोदी के सोशल डिस्टेंसिंग अपील को देहरादून के बेलगाम शराब व्यापारी दिखा रहे ठेंगा 

देश में लगातार कोरोना मरीज़ों की संख्या बढ़ती जा रही है …. महाराष्ट्र , दिल्ली , यूपी और उत्तराखंड में सरकारें सख्ती से सोशल डिस्टेंसिंग मास्क और एहतियात के सभी नियमों के पालन कराने की बात कहती है लेकिन लगता है उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील का शराब कारोबारियों पर कोई असर नहीं पड रहा है …..

सुबह वाइन शॉप के खुलने से देर शाम तक शर्हर के ज्यादातर दुकानों पर नियमों को ठेंगा दिखाते हुए शराब की खरीददारी और बिक्री की जा रही है। जय भीम टीवी ने कोरोना संक्रमण को दावत दे रही इस कारगुज़ारियों पर जनहित के लिए रियलिटी चेक किया तो एक दो दुकानों को छोड़ कर शहर की ज्यादातर बड़ी शराब की दुकानों पर न तो कोई सोशल डिस्टेंसिंग दिखाई दी और न ही सरकार के बताये नियम कायदे फॉलो करते लोग दिखाई दिए …..

सबसे पहले जय भीम टीवी की टीम पहुंची ओल्ड मसूरी रोड जहाँ शराब की दुकान पर न कोई मार्किंग  दिखाई दिया और न ही कोई व्यवस्थित लाइन दिखाई दी लोग विंडो पर सटकर खड़े खरीददारी करते दिखाई दिए …. इसके बाद जय भीम टीवी की टीम आगे बढ़ी और पहुंची राजपुर रोड में आरटीओ दफ्तर के करीब एक और शराब की दुकान पर ….. पहले तो यहाँ बेतरतीब खड़े ग्राहक मज़े से शराब खरीद रहे थे लेकिन जैसे ही जय भीम टीवी का कैमरे ने अपना काम शुरू किया तुरंत कर्मचारियों ने ग्राहकों से लाइन लगवाना शुरू कर दिया ……  और फिर तो पूरा नज़ारा ही बदल गया 

…… यहां से जय भीम टीवी की टीम आगे बढ़ी और पहुंची घंटाघर के करीब एक और शराब की दूकान पर …. यहाँ हमारी रियलिटी चेक में शराब की दूकान पर जितने लोग भी नज़र आये वो बाकायदा कतार में दिखाई दिए …  और नियम के मुताबिक लोग मास्क लगाकर शराब खरीदते दिखाई दिए … रियलिटी चेक का ये सिलसिला शाम होते होते जा पहुंचा आराघर चौक पर मौजूद एक और बड़े शराब की दूकान पर जहाँ शाम होते ही भीड़ उमड़ पड़ती है शराब के शौकीनों की और फिर जमकर उड़ाई जाती है सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जिया ….. जैसे ही जय भीम टीवी ने ये नज़ारा अपने कैमरे में कैद करना शुरू किया वहां मौजूद एक पुलिसकर्मी ने तुरंत लोगों को नियम कानून समझाना शुरू कर दिया ……
और दुकानदार भी लोगों को नियम क़ानून समझाने लगे ….  कोरोना संक्रमण को दावत दे रहे शराब की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग और सरकारी नियम क्यों नहीं लागू किये जा रहे हैं ये बड़ा गंभीर सवाल है क्यूंकि खुद सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ही आबकारी मंत्री भी हैं और लगातार पीएम मोदी की कोरोना रोकथाम से जुडी हर अपील का पालन करवाने के लिए रोजाना हिदायत भी दे रहे हैं लेकिन जिला आबकारी विभाग जैसे कुम्भकर्णी नीद सोया है और उस पर पीएम और सीएम की अपील का भी कोई असर नहीं पड़ रहा है लेकिन जय भीम टीवी पर दावे हैं की कम होते ही नहीं ….
रियलिटी चेक के बाद जब हमने जिला आबकारी अधिकारी रमेश बंगवाल से इन बेलगाम शराब दुकानदारों के ज़रिये उड़ाई जा रही नियमों की धज्जियां पर कार्यवाही की बात पूछी तो उन्होंने भी वही रटारटाया जवाब दिया कि जांच की जा रही है , चेकिंग लगातार होती है शिकायत मिली तो कार्यवाही होगी। …. यानी बयान बहादुर आबकारी अधिकारी ये समझा रहे थे कि आल इस वेल …..
खीर आबकारी विभाग का ये रवैया कोई नया नहीं है … क्यूंकि आबकारी महकमें पर सवाल तो अक्सर उठता है लेकिन कार्यवाही कभी होती ही नहीं है। स्मार्ट सिटी और राजधानी देहरादून का ये हाल  तब है जब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत खुद सीढ़ी मॉनिटरिंग कर रहे हैं लेकिन ये शराब कारोबारी हैं की मानते ही नहीं …. कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के बावजूद देहरादून में शराब की दुकाने शराब की बिक्री के साथ खतरनाक वायरस को भी दावत दे रहे हैं। समय रहते प्रशासन को इस मामले पर कार्यवाही करने की सख्त और त्वरित कार्यवाही की ज़रूरत है ताकि देहरादून वासियों की जान से हो रहे खिलवाड़ को रोका जा सके ।      

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *