Wednesday, July 17, 2024
राष्ट्रीय

उदयपुर में 9 साल की आदिवासी बच्ची का 10 टुकड़ों में मिला शव, पड़ोसी युवक ने रेप के बाद की थी हत्या

राजस्थान में उदयपुर के मावली थाना क्षेत्र में 9 साल की मासूम आदिवासी बालिका से दुष्कर्म और उसकी निर्मम हत्या का सनसनी खेज मामला सामने आया है। मासूम के पड़ोस में ही रहने वाले आरोपी युवक ने पहले बहला फुसला कर उसका अपहरण किया। फिर उससे दुष्कर्म किया। इसके बाद उसने पहले मासूम को मौत के घाट उतारा। फिर बड़ी ही निर्ममता से उसके शव के 10 टुकड़े कर दिए और पास ही के खंडहरमें फेंक दिया।
एसपी विकास शर्मा ने बताया कि 29 मार्च को 9 साल की आदिवासी बालिका शाम को स्कूल की छूट्टी के बाद अपने घर पहुंची। जहां से वह अपने पिता के पास खेत पर जाने के लिए घर से निकल गई उसके बाद वह लापता हो गई। देर शाम तक भी घर पर नहीं पहुंचने पर पहले परिजनों ने उसकी तलाश की। सफल नहीं होने पर उन्होंने मावली थाने में मासूम के अपहरण का मामला दर्ज कराया।
एमस ने बताया कि मासूम की तलाश के लिए पुलिस की टीमें लगातार दबिश दे रही थीं। इस दौरान 1 अप्रैल की शाम पुलिस को सूचना मिली कि गांव के ही एक खंडहर में अलग-अलग कट्टों में मासूम का शव पड़ा होने की संभावना है। इस पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और कट्टों को खोल कर देखा तो उसमें लापता बच्ची के शव के टुकड़े थे। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस के आलाधिकारियों के साथ एफएसएएल और डॉग स्क्वाड की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई कर देर रात शव को एमबी चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया।
आदिवासी मासूम बच्ची की निर्मम हत्या के बाद। ग्रामीणों का आक्रोश देखते हुए गांव में अतिरिकत पुलिस बल को तैनात किया गया। वहीं, आईजी अजय पाल लांबा और एसपी विकाया शर्मा सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाकर उन्हें शांत किया। वहीं, उदयपुर के एमबी होस्पीटल में मेडिकल बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम कराया गया। पुलिस ने शव को परिजनों को सुपूर्द किया और कडे़ सुरक्षा पहरे बीच शव का अंतिम संस्कार करवाया गया।
पुलिस को इस वारदात के पीछे गांव के ही किसी व्यक्ति का हाथ होने की आशंका हुई। इस पर पुलिस की टीमों ने गांव के कई लोगों से पूछताछ की और आधा दर्जन से अधिक संदिग्धों को हिरासत में लिया। इस दौरान सामने आया कि बच्ची को अंतिम बार 29 मार्च की शाम को घटनास्थल के पास मंदिर के यहां देखा गया। संदिग्धों से पूछताछ और अन्य स्त्रोत से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस की टीम मामले की कड़ी से कड़ी को जोड़ते हुए आरोपी कमलेश तक पहुंच गई। पुलिस ने संदेह के आधार पर कमलेश को हिरासत में लिया और जब उससे सख्ती से पुछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस टीम मामले में कमलेश से और पूछताछ कर रही है। संभावना जताई जा रही है कि इस मामले में उसके परिवार के अन्य सदस्यों के शामिल होने की संभावना है। पुलिस इस मामले की और आगे की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *