Wednesday, July 17, 2024
फिल्म एंड टीवी इंडस्ट्री

नहीं रहे सिने अभिनेता सतीश कौशिक, होली की रात हार्ट अटैक के चलते हुई मौत

बॉलीवुड में एक बार फिर से शोक की लहर छा गई है। इंडस्ट्री के मशहूर अभिनेता और डायरेक्टर सतीश कौशिक ने 66 की उम्र में बुधवार रात 1:30 बजे आखिरी सांस ली। एक्टर के निधन की वजह हार्ट अटैक बताई जा रही है। वे दिल्ली में एक फैमिली फंक्शन में शामिल होने गए थे, जहां रात में उनकी तबियत बिगड़ गई। अभिनेता अनुपम खेर ने एक ट्वीट के माध्यम से सतीश के निधन की पुष्टि की। निधन के महज कुछ ही घंटों पहले सतीश ने अपना आखिरी ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने अपनी होली की तस्वीरें शेयर की थी। सतीश का आखिरी ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

सतीश को हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। सेलिब्रिटीज ट्वीट कर इस दुखद घटना पर दुख जता रहे हैं। अनुपम खेर, कंगना रनौत और  अजय देवगन ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

दोस्तों संग खेली थी होली

सतीश कौशिक ने 7 मार्च यानी मंगलवार देर रात को अपना आखिरी ट्वीट किया, जिसमें वे होली की मस्ती में डूबे नजर आए थे। ट्वीट में सतीश ने चार तस्वीरें शेयर की थी, जिसमें वे ऋचा चड्ढा, अली फजल, जावेद अख्तर और महिमा चौधरी के साथ नजर आ रहे हैं। सतीश ने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘ये होली जानकी कुटीर, जुहू में खेली।’ तस्वीरों में सतीश को हंसते हुए देखकर अब फैंस का मन भारी हो रहा है।

वहीं, सतीश के खास दोस्त अनुपम खेर ने सतीश को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, “जानता हूं, मृत्यु ही इस दुनिया का अंतिम सच है ! पर ये बात मैं जीते जी कभी अपने जिगरी दोस्त सतीश कौशिक के बारे में लिखूंगा, ये मैंने सपने में भी नहीं सोचा था। 45 साल की दोस्ती पर ऐसे अचानक पूर्ण विराम!!सतीश तुम्हारे बिना जिंदगी फिर कभी पहले जैसे नहीं रहेगी। ओम शांति!’

हरियाणा में जन्मे थे सतीश, दिल्ली से की स्कूली पढ़ाई

सतीश कौशिक का जन्म 13 अप्रैल 1956 को हरियाणा के महेंद्रगढं में हुआ था। उनकी स्कूली पढ़ाई दिल्ली में हुई। किरोड़ीमल कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD) में एडमिशन लिया था।

मिस्टर इंडिया से मिली पहचान

सतीश ने 1983 में बॉलीवुड में कदम रखा। इससे पहले उन्होंने थिएटर में काम किया। वे एक सफल अभिनेता, कॉमेडियन, डायरेक्टर, स्क्रिप्ट राइटर और निर्माता थे। सतीश को 1987 की फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ से पहचान मिली था। इसके बाद उन्होंने 1997 में दीवाना-मस्ताना में पप्पू पेजर का किरदार निभाया था। सतीश को 1990 में राम लखन के लिए और 1997 में साजन चले ससुराल के लिए सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार मिला था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *