Sunday, March 3, 2024
उत्तर प्रदेशभाजपाराजनीति

भाजपा ने अपनी फायर ब्रांड नेत्री स्वाति सिंह का टिकट काटा, बोलीं पार्टी के निर्णय पर कोई सवाल नहीं

लखनऊ- राजधानी की विधानसभा सीटों के लिये जारी की गई भाजपा की सूची में बड़ा उलटफेर किया गया। सरोजनी नगर सीट से भाजपा ने अपनी फायर ब्रांड नेत्री और मंत्री स्वाति सिंह का टिकट काट दिया है। स्वाति सिंह की जगह सरोजनी नगर सीट से ईडी के पूर्व डायरेक्टर राजेश्वर सिंह को उम्मीदवार बनाया है। राजेश्वर सिंह ने सोमवार को ही बीजेपी की सदस्यता ली थी। सोमवार को ही राजेश्वर सिंह का वीआरएस स्वीकृत हुआ था।

राजधानी की सभी विधानसभा सीटों पर बीजेपी के कई बड़े उम्मीदवारों की दावेदारी थी। बीजेपी ने मंगलवार को एक और उम्मीदवारों की सूची जारी की है, इस सूची में 17 उम्मीदवारों के नाम हैं। इसमें सबसे अहम यह है कि योगी सरकार में मंत्री स्वाती सिंह का नाम सूची में नहीं है। बीजेपी ने स्वाती सिंह का टिकट काट दिया है। भारतीय जनता पार्टी की नई सूची में लखनऊ पश्चिम से अंजनी श्रीवास्तव को उतारा गया है। लखनऊ कैंट से मंत्री बृजेश पाठक को उतारा गया है। लखनऊ कैंट सीट से सांसद रीता बहुगुणा जोशी अपने बेटे के लिए टिकट मांग रही थीं। इसी सीट से अपर्णा यादव भी दावेदार थीं। मलिहाबाद से सीटिंग विधायक जया देवी को टिकट दिया गया है। जया देवी केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर की पत्नी हैं। लखनऊ उत्तर से नीरज बोरा और लखनऊ मध्य से रजनीश गुप्ता को टिकट दिया गया है। लखनऊ पूर्व से आशुतोष टंडन को उतारा गया है।

भारतीय जनता पार्टी में मंत्री सहित वर्तमान विधायकों का टिकट कटने से असंतोष की लहर उठ सकती है। भारतीय जनता पार्टी ने उम्मीदवारों की घोषणा आखिरी समय में की है ताकि जिनके टिकट कटे, उनके पास कोई विकल्प न रह जाये। ज्ञात हो कि लखनऊ में 3 फरवरी तक ही नामांकन होना है।

टिकट कटने पर क्या बोली स्वाति सिंह

भाजपा सरकार में फायर ब्रांड मंत्री माने जानी वाली स्वाति सिंह का टिकट कटना सभी को हैरान कर रहा है। टिकट कटने के बाद स्वाति सिंह मीडिया के सवालों का जवाब देने सामने आईं। स्वाति ने कहा कि वह भाजपा की कार्यकर्ता हैं और पार्टी के साथ बनी रहेंगी। पार्टी ने शायद उनके लिये कुछ बड़ा सोच रखा होगा। कहा कि पार्टी जो दायित्व जो जिम्मेदारी देगी उसे वह निभाएंगी। कहा कि जब उन्हें पार्टी ने टिकट दिया था तब किसी का टिकट जरूर कटा होगा आज अगर उनका टिकट कटा है तो उसके पीछे पार्टी की सोच रही होगी। वह पार्टी के निर्णय पर सवाल खड़े नहीं कर सकती। कहा कि जनता उन्हें प्यार करती है और यह प्यार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह की छवि के चलते ही मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *