Thursday, February 22, 2024
राष्ट्रीय

Bank Strike : बैंक प्राइवेटाइजेशन के विरोध में दो दिनों तक 9 लाख बैंक कर्मचारियों की हड़ताल

सार्वजनिक क्षेत्रों के दो बैंकों के निजीकरण को लेकर सरकार की योजना के विरोध में यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने आज हड़ताल का ऐलान किया है। आज 9 लाख बैंक कर्मचारियों ने हड़ताल पर रहने का एलान किया है, यानि 16 और 17 दिसंबर को बैंक बंद रहेंगे और दो दिन के लिए देशभर में कामकाज प्रभावित होगा। ऐसे में आम लोगों को बैंक से संबंधित कामकाज निपाटने के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता हैं।

बता दें कि यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के अंदर बैंकों की 9 यूनियन आती हैं। हाल ही में सालाना बजट पेश करने के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विनिवेश के ज़रिए 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने की घोषणा की थी। मोदी सरकार का कहना था की कई सरकारी कंपनियों के साथ-साथ कुछ बैंकों के निजीकरण के ज़रिए सरकार इतनी रकम जुटाएगी। वहीँ, बैंक कर्मचारी संघ वर्तमान सत्र में मौजूदा कानूनों में संशोधन करके दो सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों को निजीकरण के लिए सरकार के प्रस्तावित कदम का विरोध कर रहे हैं। भारतीय स्टेट बैंक एसबीआई सहित ज्यादातर बैंकों ने पहले ही अपने ग्राहकों को सूचित कर दिया है कि हड़ताल की वजह से चेक क्लीयरेंस और फंड ट्रांसफर जैसी बैंकिंग सेवाएं प्रभावित रहेंगीं। आपको बता दें कि 16,17 दिसंबर के बाद 19 दिसंबर को रविवार है। जहाँ देश के कुछ हिस्सों में सिर्फ दो दिन बैंक बंद रहेंगे वहीँ कई जगहों पर 18 दिसंबर को भी बैंक बंद रह सकते हैं। जाहिर है कि 19 दिसंबर तक देश के अलग-अलग हिस्सों में बैंकों में कामकाज प्रभावित रहेगा। ऐसे में जनता को 20 दिसंबर से ही सुचारू ढंग से कामकाज शुरू होगा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *