Saturday, March 2, 2024
उत्तराखंड

नकल में शामिल उत्तराखंड के 180 अभ्यर्थियों पर लगा प्रतिबंध, 5 साल के लिये किया गया डिबार

यूकेएसएसएससी ने चार भर्ती परीक्षाओं में पेपर लीक, नकल के आरोपी 180 अभ्यर्थियों पर पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया है। पहली बार आयोग ने इतने बड़े पैमाने पर कार्रवाई की है। डिबार होने वाले अभ्यर्थियों को इसकी सूचना डाक के माध्यम से भेज दी गई है।
आपको बता दें कि आयोग ने स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा 2021, वन दरोगा ऑनलाइन परीक्षा 2021, सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा 2021 और वीपीडीओ भर्ती परीक्षा 2016 में नकल करने वाले 180 अभ्यर्थियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। अभ्यर्थियों के जवाबों के परीक्षण के बाद ये निष्कर्ष निकला कि किसी भी अभ्यर्थी का जवाब संतोषजनक नहीं है। ऐसा कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराया गया, जिससे ये साबित हो सके कि उन्होंने नकल नहीं की। इसके अलावा कुछ अभ्यर्थियों ने तो जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा।
जिसके बाद चारों भर्ती परीक्षाओं के 180 अभ्यर्थियों को पांच साल के लिए आयोग की सभी परीक्षाओं से डिबार कर दिया गया है। अब ये आयोग की किसी भी परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे।
जिन अभ्यर्थियों को डिबार किया गया है उनमें स्नातक स्तरीय परीक्षा के 112
वन दरोगा ऑनलाइन परीक्षा- 20
सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा – 14 और
ग्राम पंचायत विकास अधिकारी परीक्षा- 34 अभ्यर्थी शामिल हैं इसके अलावा अभी
19 और नकल करने वाले अभ्यर्थियों पर डिबार की कार्यवाई होनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *