Saturday, May 18, 2024
उत्तराखंडराजनीति

कोरोना में भाजपा-कांग्रेस के सियासी मामले बढ़े, भाजपा का मौन, कांग्रेस का उपवास

देहरादूनः कोरोना महामारी में भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप के सियासी मामले बढ़ते जा रहे हैं। दोनों दल एक दूसरे की बुद्धि-शुद्धि के लिये मौनव्रत और उपवास रख रहे हैं। इस क्रम में आज भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने प्रदेश कार्यालय में मौनव्रत शुरू कर दिया। जिसके जवाब में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी उपवास पर उतर आये।

कोरोना महामारी में भाजपा और कांग्रेस के बीच मौनव्रत पर वाकयुद्ध छिड़ गया है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की तरह ही सोमवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने मौनव्रत किया। कौशिक के अनुसार वे कांग्रेस को सद्बुद्धि देने और बड़े नेताओं से सीख लेने का संदेश देने के लिए मौनव्रत कर रहे हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही भाजपा के तमाम जिलाध्यक्ष भी अपने-अपने जिलों में मौनव्रत पर बैठे। भाजपा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस कोरोना संकट के कठिन वक्त पर भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रही। प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर के कांग्रेसी नेता बेवहज केन्द्र सरकार और भाजपा शासित राज्यों की सरकारों के खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे हैं।

दूसरी ओर कांग्रेस को कौशिक का यह दांव खासा नागवार गुजरा है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि कौशिक का मौनव्रत करने का फैसला साबित कर देता है कि सद्बुद्धि की जरूरत खुद उन्हें और उनकी पार्टी को ही है। कांग्रेस इस संकट के वक्त जनता के साथ खड़ी है और हर संभव मदद करने का प्रयास कर रही है। जबकि भाजपा के नेता केवल बयानबाजी और इस प्रकार के स्तरहीन स्टंट कर रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने सोमवार को प्रदेश पार्टी मुख्यालय में मौनव्रत किया तो वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भी उपवास पर बैठ गये। जाहिर है 2022 में विधान सभा चुनाव होने हैं ऐसे में कांग्रेस और भाजपा के बीच चल रही सियासी लड़ाई के बढ़ने के पूरे आसार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *