Wednesday, May 22, 2024
राष्ट्रीयस्पेशल

रतन टाटा ने ट्वीट कर किया एयर इंडिया का स्वागत, 18 हजार करोड़ रूपये में हुए थी डील

घाटे में चल रही सरकारी कंपनी एयर इंडिया का नया मालिक अब टाटा संस होंगे। बता दे कि कंपनी पर पहले से ही 65 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्ज था। एयर इंडिया के लिए टाटा संस ने 18 हजार करोड़ की बोली लगाई। वहीँ स्पाइसजेट के अजय सिंह ने 15 हजार करोड़ की बोली लगाई थी। टाटा ग्रुप के मालिकाना हक वाली दो अन्य कंपनियां विस्तारा और एयर एशिया भी एविएशन सेक्टर में सक्रिय हैं। अब टाटा समूह के पास कुल तीन कंपनियां ऐसी हैं जिनकी एयरलाइन है। एयर इंडिया स्पेसिफिक अल्टरनेटिव मैकेनिज्म (AISAM) पैनल ने एयर इंडिया की वित्तीय बोली पर फैसला लिया है। इस पैनल में गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत कई मानती मौजूद थें।

आपको बता दे कि सरकार की शर्तों के मुताबिक  बोली लगाने वाली कंपनी यानी टाटा को एयर इंडिया के अलावा सब्सिडरी एयर इंडिया एक्सप्रेस का भी कुछ प्रतिशत नियंत्रण मिलेगा साथ ही एयर इंडिया एसएटीएस (AISATS) में 50 प्रतिशत हिस्सेदारी पर कब्जा मिलेगा। एआईएसएटीएस का मुख्य कार्य प्रमुख भारतीय हवाईअड्डों पर कार्गो और जमीनी स्तर की सेवाओं को उपलब्ध करना है। वहीं, पार्किंग आवंटनों का नियंत्रण भी दिया जाएगा। सरकार को इस डील में 2,700 करोड़ रुपये का कैश मिलेगा। मौजूदा समय में एयर इंडिया 4400 घरेलू उड़ानें और विदेशों में 1800 लैंडिंग और पार्किंग स्लॉट को कंट्रोल करती है। रतन टाटा ने भी अपने ट्वीट कर एयर इंडिया का स्वागत किया है और बोली जीतने पर एयरबस डिफेंस, टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड और भारतीय रक्षा मंत्रालय को बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *