Home राष्ट्रीय लद्दाख में 28 मिनट बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों का बढ़ाया हौसला ,...

लद्दाख में 28 मिनट बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों का बढ़ाया हौसला , चीन को दिया सख्त सन्देश   

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गलवान झड़प के 18 दिन के बाद गुरुवार सुबह अचानक लद्दाख पहुंचे। यहां 11 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित नीमू में फॉरवर्ड लोकेशन पर जवानों से मिले। उनका हौसला बढ़ाने के लिए 26 मिनट तक स्पीच दी। भारत माता की जय के नारे लगाए और रामधारी सिंह दिनकर की कविता की दो पंक्तियां पढ़ीं-  ‘‘उनके सिंहनाद से सहमी धरती रही अभी तक डोल, कलम आज उनकी जय बोल।’’ 

दुनिया को हमेशा सख्त सन्देश देने वाले पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी सरप्राइज विजिट में कई मकसद हल कर लिए .. सेना का मनोबल बढ़ाया और चीन को सन्देश दिया कि भारतीय सेना और सरकार मिल कर चुनौती से जीतने को तैयार हो चुके हैं। … आइये जानते हैं पीएम मोदी ने अपने स्पीच में किन किन मुद्दों पर जवानों से बातें साझा की 

1. देश के जवानों का शौर्य अतुलनीय

आपका ये हौसला, आपका शौर्य और आपका समर्पण अतुलनीय है। आपकी जीवटता भी दुनिया में किसी से भी कम नहीं है। इन कठिन परिस्थितियों में जिस ऊंचाई पर आप भारत की मां की सेवा करते हैं, उसका मुकाबला पूरे विश्व में कोई नहीं कर सकता। आपका साहस उस ऊंचाई से भी ऊंचा है, जहां आप तैनात हैं। आपका निश्चित उस जिसको रोज आप अपने कदमों से नापते हैं।

2. गलवान में जवानों की वीरता से दुनिया को भारत की ताकत पता चली

आपकी भुजाएं उन चट्टानों जैसी मजबूत हैं, जो आपके इर्द-गिर्द खड़ी हैं। आपकी इच्छा शक्ति पर्वतों जैसी अटल है। आपके बीच आकर मैं इसे महसूस कर रहा हूं। मुझे ही नहीं पूरे देश को अटूट विश्वास है कि आप जब सरहद पर डटे हैं तो यही बात प्रत्येक देशवासी को देश के लिए दिन रात काम करने के लिए प्रेरित करती है। आत्मनिर्भर भारत का संकल्प आप लोगों को कारण मजबूत होता है। अभी आपने और आपके साथियों ने जो वीरता दिखाई उनसे पूरी दुनिया में ये संदेश दिया है कि भारत की ताकत क्या है। 

3. शांति वीरता की शर्त पर होगी और भारत पराक्रम विश्व ने देखा है

हर आक्रमण के बाद भारत और मजबूत होकर उभरा है। राष्ट्र की, दुनिया की, मानवता की प्रगति के लिए शांति और मित्रता हर कोई मानता है। हम ये भी जानते हैं कि कमजोर शांति की पहल नहीं कर सकता। वीरता ही शांति की शर्त होगी। भारत आज जल-थल-नभ तक अपनी ताकत बढ़ा रहा है तो उसके पीछे का लक्ष्य मानव कल्याण ही है। विश्व युद्ध हो या विश्व शांति की बात, जब भी जरूरत पड़ी है विश्व ने हमारे वीरों का पराक्रम देखा भी है और महसूस भी किया है। हमने हमेशा मानवता और इंसानियत की रक्षा के लिए काम किया है।

4. दुनिया चीन की विस्तारवादी नहीं, विकासवादी नीति चाहती है

आज विश्व विस्तारवाद नहीं, विकासवाद के प्रति समर्पित है। विस्तारवाद ने ही मानवजाति का विनाश किया है। इतिहास बताता है कि ऐसा करने वाली ताकतें खत्म हो गईं। राष्ट्र रक्षा से जुड़े किसी लीडर के बारे में सोचता हूं तो मैं सबसे पहले दो माताओं का स्मरण करता हूं। पहली- हम सभी की भारत माता, दूसरी- वे वीर माताएं जिन्होंने आप जैसे योद्धाओं को जन्म दिया है। 

5. सरकार का फोकस सेनाओं और सैनिकों को मजबूत करना

सेना के लिए आधुनिक हथियार हो या आपने लिए साजो सामान, हम इस पर बहुत ध्यान देते रहे हैं। बॉर्डर इन्फ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करीब 3 गुना कर दिया गया है। इससे बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट और सीमा पर सड़कें-पुल बनाने का काम भी बहुत तेजी से हुआ है। अब आप तक सामान भी कम समय में पहुंचता है। सेनाओं में समन्वय के लिए चीफ ऑफ डिफेंस के गठन की बात हो या वॉर मेमोरियल का या फिर वन-पेंशन वन रैंक की बात हो। हम सेनाओं और सैनिकों को मजबूत कर रहे हैं।

6. भारत दूसरों पर निर्भर नहीं रहेगा, 130 करोड़ लोग सपना पूरा करेंगे

हम वो लोग हैं बांसुरीधारी की पूजा करते हैं, हम वो लोग हैं जो सुदर्शनधारी को आदर्श मानकर चलते हैं। जिस भारत के सपने को लेकर आप सरहद पर देश की रक्षा कर रहे हैं, हम आपके सपनों का भारत बनाएंगे। इसमें 130 करोड़ देशवासी पीछे नहीं रहेंगे। मैं आपको यह विश्वास दिलाने आया हूं। हम आत्मनिर्भर भारत बनाकर ही रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

गौतम अडानी मामले में अब आरबीआई का दखल, विपक्ष भी कर रहा जांच की मांग

अडानी ग्रुप पर हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद कंपनी के शेयर लगातार गिरते जा रहे हैं। रिपोर्ट के बाद अडानी कंपनी को भारी नुकसान...

अयोध्या पहुंची नेपाल से लाई गईं दो दिव्य शालिग्राम शिला, भव्य पूजन

नेपाल के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल जनकपुर से अयोध्या लाई गई देवसिला का पूजन हुआ। नेपाल के पूर्व उप प्रधानमंत्री जानकी मंदिर के महंत ने...

देहरादून में चलेगी नियो मेट्रो, केन्द्र को भेजा गया प्रस्ताव

देहरादून में मेट्रो और केबल कार प्रोजेक्ट के रद्द होने के बाद अब मेट्रो नियो चलाने पर काम किया जा रहा है। यूकेएमआरसी ने...

अंतिम संस्कार से पहले अचानक जिंदा हो गई महिला, देखकर हर कोई हो गया हैरान

क्या आपने कभी सुना है कि अतिंम संस्कार से ठीक पहले किसी के प्राण वापस लौट आए हों. जी हां ऐसा हुआ है और...

कड़ी सुरक्षा में होगी पटवारी-लेखपाल परीक्षा, इंटेलीजेंस और पुलिस के होंगे तीन घेरे

पेपर लीक कांड के बाद उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की पटवारी-लेखपाल भर्ती में इस बार पुलिस के साथ एलआईयू भी तैनात की गई है।...

क्या कहता है भारत का आर्थिक सर्वेक्षण, बजट से हटकर चर्चाओं में आर्थिक सर्वेक्षण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट से एक दिन पूर्व सदन में आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया। आर्थिक सर्वेक्षण वित्त मंत्रालय द्वारा जारी की गई...

बजट 2023-24ः 5 से 7लाख की गई आयकर छूट, पढ़िये क्या हुआ महंगा, क्या सस्ता

केन्द्र की मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का अंतिम बजट पेश कर दिया गया है, हालांकि इस बजट को वित्त मंत्री ने अमृत काल...

एनडीटीवी से निधि राजदान का इस्तीफा, 23 सालों से थीं एनडीटीवी के साथ

एनडीटीवी की वरिष्ठ पत्रकार निधि राजदान ने चैनल से इस्तीफा दे दिया है। कंपनी से जुडे कईं कर्मचारियों ने इस बात की पुष्टि की...

5 गोल्ड जीतने वाला हॉकी प्लेयर आज मंडी में पल्लेदारी कर रहा है, शर्मनाक

भारतीय खेलों के लिये इससे शर्मनाक और क्या हो सकता है जब एक होनहार हॉकी खिलाड़ी मैदान से दूर अपना और अपने परिवार का...

अमीरों की सूची में 11वें नंबर पर पहुँचे अडानी, ग्रुप के शेयरों में गिरावट जारी

हिंडनबर्ग रिपोर्ट रिपोर्ट ने पिछले बुधवार अडानी ग्रुप पर स्टाक हेरफेर और धोकाधडी का आरोप लगाया था। रिपोर्ट के रिलीज होते ही अडानी दुनिया...